सिक्किम में कुदरत का कहर: बादल फटने से बाढ़, सैन्य कैंप तबाह, 22 जवानों समेत 102 लापता, 14 की मौत

बादल फटने से बाढ़, सैन्य कैंप तबाह, 22 जवानों समेत 102 लापता, 14 की मौत
Sikkim Flood
Ad

Highlights

 वैज्ञानिकों को आशंका है कि नेपाल में एक दिन पहले आए भूकंप के कारण सिक्किम में ये तबाही हो सकती है। भूकंप के चलते लोहासन झील सिकुड़ गई और पानी तेज बहाव के साथ बह निकला। 

नई दिल्ली | Sikkim Flood : सिक्किम में कुदरती कहर के चलते 14 लोगों की मौत हो गई है और 22 सेना के जवानों समेत करीब 102 लोग लापता बताए जा रहे हैं। 

सीमावर्ती राज्य सिक्किम में लोहनक झील पर बादल फटने से तीस्ता नदी में अचानक बाढ़ आने के के कारण ये विनाश लीला सामने आई है। 

बारदांग में सेना कैंप को भारी नुकसान हुआ है। सेना के 22 जवान लापता हो गए हैं। 

नेपाल में आए भूकंप के चलते हुआ ऐसा

सेट्रल वॉटर कमीशन के वैज्ञानिकों को आशंका है कि नेपाल में एक दिन पहले आए भूकंप के कारण सिक्किम में ये तबाही हो सकती है। भूकंप के चलते लोहासन झील सिकुड़ गई और पानी तेज बहाव के साथ बह निकला। 

प्रधानमंत्री ने दिया हरसंभव मदद का आश्वासन

सिक्किम में हुए कुदरत के इस तांडव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। 

पीएम मोदी ने सिक्किम के मुख्यमंत्री पीएस तमांग से बात की और बाढ़ से उपजे हालात की समीक्षा की और राज्य सरकार को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। 

अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक, मरने वाले सभी 14 लोगों की पहचान आम नागरिकों के रूप में हुई है, जिनमें से तीन लोग उत्तरी बंगाल में बह गए थे।

बताया जा रहा है कि सुबह लापता हुए सेना के 23 जवानों में से एक को बचा लिया गया है लेकिन 22 जवान अभी भी लापता हैं।

इसी के साथ अब तक करीब 166 लोगों को बचाया गया है। अभी बाकी की तलाश जारी है। 

जानकारी के अनुसार, सिक्किम में रात करीब डेढ़ बजे शुरू हुई बाढ़ की स्थिति चुंगथांग बांध से पानी छोड़े जाने के कारण और बिगड़ गई। जिससे जान-माल का भारी नुकसान हुआ है। 

घूमने आए करीब 3000 से ज्यादा ट्यूरिस्ट फंसे

सिक्किम के मुख्य सचिव वीबी पाठक के अनुसार, देश के विभिन्न हिस्सों से आए 3000 से अधिक ट्यूरिस्ट विभिन्न हिस्सों में फंसे हुए हैं। 

इसके अलावा चुंगथांग में तीस्ता चरण तीन बांध में कार्यरत कई कर्मचारी भी फंसे हुए हैं।

Must Read: पहली बार किसी विधानसभा चुनाव की PM को कमान, BJP की हताशा का प्रमाण है...

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :