राजस्थान में ED की छापेमारी: जल जीवन मिशन घोटाले को लेकर मंत्री के करीबियों के ठिकानों पर छापे, हड़कंप

जल जीवन मिशन घोटाले को लेकर मंत्री के करीबियों के ठिकानों पर छापे, हड़कंप
Ad

Highlights

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राजधानी जयपुर समेत कई स्थानों पर छापेमारी की है। इसके अलावा बहरोड़ में भी ईडी की टीम पीएचईडी ऑफिस पहुंची है।

जयपुर | Jal Jeevan Mission Scam : राजस्थान में चुनावों से पहले जांच एजेंसियां भी एक्शन मोड पर आ गई है। 

शुक्रवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राजधानी जयपुर समेत कई स्थानों पर छापेमारी की है। इसके अलावा बहरोड़ में भी ईडी की टीम पीएचईडी ऑफिस पहुंची है।

’जल जीवन मिशन योजना’ देश की सबसे बड़ी पेयजल योजना है। इसमें हुए करोड़ों के फर्जीवाड़े को लेकर ईडी ने आज ताबड़तोड़ छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया है।  

चुनावों से पहले ईडी की ये कार्रवाई कई नेताओं के लिए मुसीबत बन सकती है क्योंकि जिन पर ये कार्रवाई की जा रही है वे राज्य सरकार में मंत्री के करीबी बताए जा रहे हैं।

दरअसल, जल जीवन मिशन में बड़े पैमाने पर घोटाले की सूचना मिलने के बाद ईडी टीम ने पीएचईडी के अधिकारियों और ठेकेदारों के साथ ही एक प्रॉपर्टी डीलर और एक रिटायर्ड आरएएस अधिकारी को रडार पर लेते हुए ये कार्रवाई की है।

जयपुर के वैशाली नगर, झोटवाड़ा, सिंधी कैंप के साथ अलवर में दो जगहों पर की गई है। जानकारी के अनुसार ईडी की दिल्ली और जयपुर टीम के अलावा पहली बार गुजरात की टीम को भी जयपुर में कार्रवाई के लिए बुलाया गया है।

महेश जोशी के करीबी बताए जा रहे

जानकारी के अनुसार, ईडी की टीम जयपुर में प्रॉपर्टी डीलर कल्याण सिंह कविया के वैशाली नगर स्थित फार्म हाउस पर छापेमारी कर रही है। 

इसी के साथ एक रिटायर्ड आरएएस अधिकारी अमिताभ कौशिक के जयपुर में हाथीबाबू मार्ग पर स्थित आवास पर ईडी ने छापा मारा है। 

छापेमारी की कार्रवाई के दौरान इनके ठिकानों के बाहर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। 

ये दोनों ही पीएचईडी मंत्री महेश जोशी के करीबी बताए जा रहे हैं। ऐसे में मंत्री जोशी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

ईडी अधिकारी यहां तलाशी के दौरान दस्तावेजों की जांच-पड़ताल कर रहे हैं।

अब ईडी टीम प्रॉपर्टी डीलर कविया और रिटायर्ड अधिकारी कौशिक से इस संबंध में पूछताछ करेगी। सूत्रों की मानें तो जलदाय विभाग के जिन अधिकारी और ठेकेदार को एसीबी ने हाल ही में पकड़ा था। उनके भी घरों पर भी ईडी के अधिकारी कार्रवाई कर सकते हैं।

पीएचईडी के मुख्य कार्यालय और विभागीय कार्यालय में भी ईडी की टीम पहुंच सकती है। 

यहां भी ईडी की कार्रवाई

जयपुर के अलावा ईडी टीम कोटपूतली-बहरोड़ जिले में पीएचईडी के कार्यालय में भी छापेमारी कर रही हैं। टीम ने यहां फाइल और कंप्यूटर में दर्ज डाटा को खंगाला है। 

बहरोड़ में पीएचईडी के अधिशासी अभियंता मायालाल सैनी और ठेकेदार के ठिकानों पर आज सुबह से ही ईडी की टीमें छापेमारी कर रही हैं। सैनी को एसीबी ने 6 अगस्त को जयपुर के होटल पोलो विक्ट्री के पास 2.20 लाख रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था।

क्या है  जल जीवन मिशन योजना ? 

जल जीवन मिशन स्कीम की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गयी है । यह योजना भारत सरकार के द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों के लिए शुरू की गयी है । जिसके माध्यम से उन्हें पानी की सुविधा घर-घर में उपलब्ध कराई जाएगी।

जल जीवन मिशन की परिकल्पना 2024 तक ग्रामीण भारत के सभी घरों में व्यक्तिगत घरेलू नल कनेक्शन के माध्यम से सुरक्षित और पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने की है।

Must Read: भाजपा नेता बोले - भाया ईमानदार तो कुंदनपुर विधायक पर मानहानि का मुकदमा दर्ज क्यों नहीं कराते

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :