Republic Day of India: भारत का 75वां गणतंत्र दिवस: महिला शक्ति और आत्मनिर्भरता पर जोर

भारत का 75वां गणतंत्र दिवस: महिला शक्ति और आत्मनिर्भरता पर जोर
Ad

Highlights

परेड का आगाज 100 महिला म्यूजिशियन ने शंख, नगाड़े और दूसरे पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ किया। 100 महिलाओं ने अपने पारंपरिक पहनावे में लोक नृत्य किया। फ्लाईपास्ट में एयरफोर्स के 51 एयरक्राफ्ट हिस्सा लिया। इनमें 29 फाइटर प्लेन, 7 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, 9 हेलिकॉप्टर और एक हेरिटेज एयरक्राफ्ट थे। फ्लाईपास्ट में पहली बार फ्रांसीसी आर्मी के राफेल भी शामिल हुए।

भारत आज अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस अवसर पर देश भर में उत्सव का माहौल है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वॉर मेमोरियल पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद वे कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस की परेड में शामिल हुए।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने भी कर्तव्य पथ पर परेड की सलामी ली। इस बार गणतंत्र दिवस की थीम "विकसित भारत" और "भारत-लोकतंत्र की मातृका (जननी)" है।

परेड का आगाज 100 महिला म्यूजिशियन ने शंख, नगाड़े और दूसरे पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ किया। 100 महिलाओं ने अपने पारंपरिक पहनावे में लोक नृत्य किया। फ्लाईपास्ट में एयरफोर्स के 51 एयरक्राफ्ट हिस्सा लिया। इनमें 29 फाइटर प्लेन, 7 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, 9 हेलिकॉप्टर और एक हेरिटेज एयरक्राफ्ट थे। फ्लाईपास्ट में पहली बार फ्रांसीसी आर्मी के राफेल भी शामिल हुए।

झांकियों में देश की विभिन्न संस्कृतियों और उपलब्धियों को दिखाया गया। उत्तर प्रदेश की झांकी में भगवान राम के बाल रूप को दिखाया गया। पहली बार, तीनों सेनाओं की टुकड़ियों का नेतृत्व महिला अफसरों ने किया। टी-90 भीष्म टैंक, फ्रांसीसी आर्मी म्यूजिक बैंड और फ्रांसीसी विदेशी सेना की दूसरी इन्फैंट्री रेजिमेंट का मार्चिंग दल भी परेड में शामिल हुआ।

इस साल के गणतंत्र दिवस पर महिला शक्ति और आत्मनिर्भरता पर विशेष जोर दिया गया। यह भारत के विकास की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

मुख्य बिंदु:

    • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस की परेड की सलामी ली।

    • पहली बार, पारंपरिक वाद्य यंत्रों के साथ परेड का आगाज हुआ।

    • 100 महिला कलाकारों ने पारंपरिक नृत्य किया।

    • 51 एयरक्राफ्ट के फ्लाईपास्ट में पहली बार फ्रांसीसी राफेल लड़ाकू विमान शामिल हुए।

    • उत्तर प्रदेश की झांकी में भगवान राम के बाल रूप को दिखाया गया।
    • पहली बार, तीनों सेनाओं की टुकड़ियों का नेतृत्व महिला अफसरों ने किया।

    • टी-90 भीष्म टैंक, फ्रांसीसी आर्मी म्यूजिक बैंड और फ्रांसीसी विदेशी सेना की दूसरी इन्फैंट्री रेजिमेंट का मार्चिंग दल भी परेड में शामिल हुआ।

विशेषताएं:

    • इस साल गणतंत्र दिवस की थीम "विकसित भारत" और "भारत-लोकतंत्र की मातृका (जननी)" थी।

    • महिला शक्ति और आत्मनिर्भरता पर विशेष जोर दिया गया।

    • पहली बार, तीनों सेनाओं की टुकड़ियों का नेतृत्व महिला अफसरों ने किया।

भारत का 75वां गणतंत्र दिवस एक ऐतिहासिक अवसर था। इस अवसर पर महिला शक्ति और आत्मनिर्भरता पर विशेष जोर दिया गया। यह भारत के विकास की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

Must Read: पीएम मोदी के खास हैं निर्मला सीतारमण के दामाद

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :