छलका खुशियों का बांध जवाई: पाली, जालोर और सिरोही को राहत देने वाले जवाई बांध के दो गेट खोले गए, किसानों में उत्साह

पाली, जालोर और सिरोही को राहत देने वाले जवाई बांध के दो गेट खोले गए, किसानों में उत्साह
Jawai Bandh
Ad

Highlights

रविवार को जवाई बांध के ओवरफ्लो होने पर बांध के गेट को सुबह 9 बजकर एक मिनट पर खोल दिया गया। पहले गेट नंबर 2 को खोला गया और फिर उसके बाद गेट नंबर 10 को भी खोल दिया गया।  शुरुआत में दोनों गेटों को एक इंच खोल गया। 

पाली | पश्चिमी राजस्थान का सबसे बड़ा जल स्त्रोत एवं सुमेरपुर आहोर कमांड क्षेत्र के किसानों के लिए जीवन रेखा माने जाने वाले जवाई बांध आखिरकार छलक गया है। 

प्रशासन द्वारा दो दिन पहले ही बांध के छलकने की चेतावनी जारी की गई थी। 

रविवार को जवाई बांध के ओवरफ्लो होने पर बांध के गेट को सुबह 9 बजकर एक मिनट पर खोल दिया गया। 

पहले गेट नंबर 2 को खोला गया और फिर उसके बाद गेट नंबर 10 को भी खोल दिया गया।

जानकारी के अनुसार, शुरुआत में दोनों गेटों को एक इंच खोल गया। 

बता दें कि बांध की कुल भराव क्षमता 61.25 फीट है। बांध में कुल 13 गेट है। जिनमें से पहले फेज में 2 और 10 नंबर गेट को कम्प्यूटर स्काडा सिस्टम से 1-1 इंच खोला गया है।

इनसे प्रतिदिन करीब 20 एमसीएफटी पानी नदी में छोड़ा जा रहा है। वर्तमान में बांध में डेढ़ साल तक पीने योग्य पानी रिजर्व है। 

बांध के छलकने पर लोगों में खुशी का माहौल है। ऐसे में जब बांध के गेट के खुले गए तो वहां मौजूद लोगों ने तालियां बजाकर अपनी खुशी का इजहार किया। 

कई लोग बांध के गेट से निकल रहे पानी के साथ सेल्फी लेते भी नजर आए। 

6 साल बाद फिर खुले जवाई बांध के गेट

करीब 6 साल बाद जवाई बांध के गेट खोले गए हैं। इससे पहले 27 जुलाई 2017 में बांध में 59.75 फीट पानी पर गेट खोले गए थे । 11 अक्टूबर तक गेट खुले रहे थे ।

तीन जिलों को होगा फायदा

जवाई बांध के गेट खुलने से इसमें से छोड़ा जा रहा अतिरिक्त पानी अब नहर और नदी के जरिए पाली, जालोर और सिरोही जिले के गांवों तक पहुंचेगा जिससे किसानों को फायदा होगा।

बांध से पानी नदी और नहर के जरिए इन जिलों तक पहुंचेगा। जिससे पाली के 11, जालोर के 41 और सिरोही के 6 गांवों में किसानों को फायदा होगा और भूमि का जलस्तर भी बढ़ेगा। 

दो दिन पहले ही प्रशासन ने जारी किया था अलर्ट

आपकों बता दें कि शुक्रवार को ही प्रशासन ने अलर्ट जारी करते हुए बांध के गेट खोलने के सूचना दी थी। 

बांध में आ रहे पानी को लेकर जल संसाधन विभाग पूरी तरह अलर्ट मोड पर था और आने वाले दिनों बांध के गेट खोलने और लोगों को सावधान रहने के लिए कहा गया था। 

जल संसाधन विभाग नहर खंड सुमेरपुर के सहायक अभियंता ने शुक्रवार को सभी विभागीय अधिकारियों को सूचित करते हुए जवाई बांध एवं जवाई नदी के आसपास रहने वाले पशुपालक को सहित आम जन को सुरक्षित रहने की चेतावनी दे थी। 

Must Read: परिवर्तन जरूर होगा लेकिन इस बार राज का नहीं रिवाज का, बनेगा इतिहास

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :