नारे लगे- मोदी तुझसे बैर नहीं, लेकिन...: भाजपा की दूसरी लिस्ट ने बढ़ाई नेताओं की बगावत, यहां 200 कार्यकर्ताओं ने दिए इस्तीफे

भाजपा की दूसरी लिस्ट ने बढ़ाई नेताओं की बगावत, यहां 200 कार्यकर्ताओं ने दिए इस्तीफे
Ad

Highlights

अपने प्रिय नेता का टिकट कटने से नाराज कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधी सड़कों पर उतर आए हैं। समर्थकों की नाराजगी ने भाजपा की मुसीबत और ज्यादा बढ़ा दी है। 

जयपुर | राजस्थान में पहली सूची को लेकर भाजपा में उठे विरोध के सुर अभी शांत भी नहीं हुए थे कि अब दूसरी सूची में प्रत्याशियों की घोषणा होते ही और कई नेताओं और उनके समर्थकों ने मोर्चा खोल दिया है। 

प्रदेश की कई विधानसभा सीटों से विरोध की खबरें सामने आई रही है। जिसके अनुसार राजसमंद, बूंदी, अलवर शहर, चितौड़गढ़, उदयपुर शहर से लगातार विरोध देखने को मिल रहा था। 

अपने प्रिय नेता का टिकट कटने से नाराज कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधी सड़कों पर उतर आए हैं। समर्थकों की नाराजगी ने भाजपा की मुसीबत और ज्यादा बढ़ा दी है। 

भाजपा ने अपनी दूसरी लिस्ट में जयपुर की सांगानेर सीट से विधायक आशोक लाहोटी (Ashok Lahoti) का टिकट काट दिया है और उनकी जगह भजन लाल को टिकट दिया गया है।

ऐसे में लाहोटी के समर्थन में लोग सड़कों पर उतर आए हैं। 

दीप्ति माहेश्वरी को टिकट देने का विरोध

कुछ ऐसा ही नजारा राजसमंद में भी देखने को मिल रहा है यहां से दीप्ति माहेश्वरी  (Deepti Maheshwari) को टिकट देने का विरोध हो रहा है। यहां तो भाजपा ने राजसमंद विधायक दीप्ति माहेश्वरी का टिकट काटा नहीं बल्कि रिपीट किया है। इसके बावजूद राजसमंद में कार्यकर्ताओं में भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है। 

राजसमंद में स्व. किरण माहेश्वरी की बेटी दिप्ती माहेश्वरी को टिकट मिलने पर राजसमंद नगर परिषद के नेता प्रतिपक्ष हिम्मत कुमावत ने नाराजगी जाहिर की है, और इसी के चलते कुमावन ने अपने सभी 6 पदों से इस्तीफा देने के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष को पत्र लिख दिया है।

बता दें कि कुमावत के पास नेता प्रतिपक्ष नगर परिषद् राजसमंद,जिला सह संयोजक प्रचार प्रसार विभाग राजसमंद,जिला सह संयोजक स्वच्छ भारत अभियान राजसमंद, शक्ति केंद्र प्रभारी, मंत्री बूथ समिति और पन्ना प्रमुख का पद संभालने हुए हैं।

अपने पत्र में हिम्मत कुमावत ने पार्टी के साथ साथ राजसमंद भाजपा प्रत्याशी पर गंभीर आरोप लगते हुए लिखा है कि  मैं भारतीय जनता पार्टी का एक सच्चा सिपाही और कर्मठ कार्यकर्ता रहा हूं। पार्टी ने मुझे प्रतिनिधि बना जनता की सेवा का अवसर प्रदान किया।

मैं पार्टी का आभारी हूं। विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर पार्टी द्वारा घोषित प्रत्याशी जिन्होंने कभी पार्टी का कोई कार्य नहीं किया केवल इसलिए टिकट दिया कि वह एक बड़े नेता की बेटी है।

200 कार्यकर्ताओं ने दिए इस्तीफे 

माहेश्वरी का विरोध जताते हुए जिलाध्यक्ष मानसिंह बाहरट को करीब 200 कार्यकर्ताओं ने इस्तीफे दिए हैं।

यहां ज़िला भाजपा कार्यालय में तोड़फोड़ तक कर दी गई है। भाजपा कार्यकर्ताओं ने राजसमंद कार्यालय में कुर्सियां उठाकर फेंकी हैं। 

वहीं, समर्थक और भाजपा कार्यकर्ता नारा लगा रहे है- मोदी तुझसे बैर नहीं, सीपी तेरी खैर नहीं। 

बताया जा रहा है कि कार्यकर्ताओं ने अपनी नाराजगी जताते हुए भाजपा जिलाध्यक्ष को ज्ञापन भी सौंपा है। 

Must Read: कई दलों के लोग हमारे संपर्क में, जल्द ही नामचीन चेहरे होंगे सबके सामने

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :