लोकसभा चुनाव-2024: असम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी भाजपा पर दमदार बोली

असम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी भाजपा पर दमदार बोली
असम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी
Ad

Highlights

  • बीजेपी सिर्फ 10 साल में दुनिया की सबसे अमीर पार्टी बन गई
  • प्रज्वल रेवन्ना पर सैकड़ों महिलाओं का यौन शोषण करने का आरोप है।
  •  धुबरी से कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन के लिए प्रचार करने आई थी।

असम | असम की धुबरी लोकसभा सीट पर जनसभा करने पहुंची कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने राज्य के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा पर निशाना साधते हुए कहा कि असम के सीएम BJP की वॉशिंग मशीन से निकले पहले नेता है।

कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने दावा किया कि मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा कई घोटालों में शामिल हैं। उन्होंने आगे कहा हिमंत सरमा और आईयूडीएफ के बदरुद्दीन अजमल के साथ समझौता है।

वहीं तेलंगाना में बीजेपी असदुद्दीन ओवैसी के साथ है। उन्होंने जनसभा में बेरोज़गारी का मुद्दा उठाते हुए प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा था। प्रियंका, धुबरी से कांग्रेस उम्मीदवार रकीबुल हुसैन के लिए प्रचार करने आई थी। इस सीट पर तीसरे चरण यानी 7 मई को मतदान होना है।

उनकी नाक के नीचे से भाग गया है और वे चुप हैं...

पीटीआई,धुबरी। लोकसभा चुनाव के बीच बीजेपी की सहयोगी जेडीएस के मौजूदा उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना (Prajwal Revanna) पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। चुनावी रैली में कांग्रेस इस मुद्दे के जरिए बीजेपी (BJP) पर निशाना साध रही है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने असम के धुबरी में एक रैली को संबोधित करते हुए दावा किया कि मोदी सरकार ने प्रज्वल रेवन्ना को भारत छोड़ने से नहीं रोका।


प्रियंका गांधी ने आगे कहा,"अभी कुछ दिन पहले, मैं अपनी बेटी से मिलने के लिए विदेश गई थी। फिर प्रधानमंत्री और गृह मंत्री मेरी विदेश यात्राओं पर चर्चा करने लगे। वे अच्छी तरह जानते हैं कि मैं कब यात्रा करती हूं, यहां तक ​​कि वे विपक्षी नेताओं की यात्राओं पर भी नजर रखते हैं। फिर भी, जब कोई आरोपी, उनके (प्रज्वल) जैसा कोई व्यक्ति, देश छोड़ देता है, तो उन्हें खबर नहीं होती है। इसे कोई कैसे स्वीकार कर सकता है? इतना गंभीर अपराध करने के बाद कोई उनकी नाक के नीचे से भाग गया है और वे चुप हैं।  "प्रज्वल रेवन्ना (Prajwal Revanna) पर सैकड़ों महिलाओं का यौन शोषण करने का आरोप है। कर्नाटक पुलिस ने गंभीर आरोपों की जांच के लिए एक विशेष जांच दल का गठन किया है।

कांग्रेस नेता ने सीएम हिमंत बिस्वा पर कसा तंज
 
प्रियंका गांधी सीएम हिमंत पर तंज कसते हुए कहा,"जब आपके सीएम कांग्रेस पार्टी में थे, तब उनके खिलाफ गंभीर आरोप थे। जैसे ही वह बीजेपी में गए, उनके खिलाफ सभी आरोप धुल गए। बीजेपी ने एक वॉशिंग मशीन विकसित की है।

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा पर निशाना साधते हुए कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा कि आप असम के मुख्यमंत्री की तुलना कांग्रेस के मुख्यमंत्रियों से कीजिए।

जब आप तेलंगाना और कर्नाटक के मुख्यमंत्री से पूछेंगे कि क्या हो रहा है- वे बताएंगे कि हम कांग्रेस की गारंटियों को पूरा कर रहे हैं। एक तरफ जहां कांग्रेस की सरकारें, जनता की सेवा में लगी हैं।

वहीं असम में माफियाओं का राज चल रहा है।यहां के CM जब कांग्रेस पार्टी में थे, तो उनके ऊपर बड़े-बड़े आरोप लगाए गए, लेकिन जैसे ही वे BJP में शामिल हुए, सारे दाग साफ हो गए। असम के सीएम BJP की वॉशिंग मशीन से निकले पहले नेता है।

तेलंगाना में बीजेपी असदुद्दीन ओवैसी के साथ: प्रियंका गांधी

उन्होंने कहा कि असम में माफिया राज चल रहा है। कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा ने दावा किया कि मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा कई घोटालों में शामिल हैं। उन्होंने आगे कहा, हिमंत सरमा और आईयूडीएफ के बदरुद्दीन अजमल के साथ समझौता है। वहीं, तेलंगाना में बीजेपी असदुद्दीन ओवैसी के साथ है। इन दोनों का उद्देश्य कांग्रेस को हराना है।

पीएम मोदी आम लोगों की वास्तविकता से बहुत दूर

कांग्रेस नेता ने चुनावी बॉंड मुद्दे पर भी बीजेपी पर हमला बोला। उन्होंने कहा,"बीजेपी सिर्फ 10 साल में दुनिया की सबसे अमीर पार्टी बन गई, लेकिन कांग्रेस ने 70 साल में इतनी कमाई नहीं की।"


उन्होंने दावा किया कि पीएम मोदी आम लोगों की वास्तविकता से बहुत दूर हैं और उन्हें उनके दुखों की कोई समझ नहीं है क्योंकि वह अहंकारी हो गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया, ''असम में बढ़ती बेरोजगारी एक बड़ा मुद्दा है और मुख्यमंत्री और उनके मंत्री केवल अपने हितों के बारे में चिंतित हैं।


प्रियंका ने देश में बढ़ती बेरोज़गारी के मुद्दे पर भाजपा सरकार को घेरते हुए कहा कि आपकी कितनी बड़ी-बड़ी समस्याएं है।आज देश में 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है।क्योंकि सरकार में बैठे मुख्यमंत्री, मंत्री, नेताओं का सारा ध्यान अपने स्वार्थ पर है। जनता कैसे कमाएगी, कैसे खाएगी- उन्हें इससे फर्क नहीं पड़ता। देश में 30 लाख सरकारी पद खाली हैं, लेकिन आज जिससे भी बात करो, वो बेरोजगार है। 70 करोड़ लोग बेरोज़गार है और 30 लाख पद खाली पड़े है।

Must Read: कांग्रेस MLA ने पत्र लिख कहा- विधायक के रूप में ये मेरा आखिरी पत्र, कहा था मुख्यमंत्री का पद भी स्थाई नहीं है

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :