किसान की तस्वीर छापना पड़ा भारी: चुनाव से पहले भाजपा के लिए मुसीबत खड़ी कर रहा किसान माधुराम, मानहानि का केस दर्ज करवाया

चुनाव से पहले भाजपा के लिए मुसीबत खड़ी कर रहा किसान माधुराम, मानहानि का केस दर्ज करवाया
Ad

Highlights

भाजपा को अपने ’नहीं सहेगा राजस्थान’ कैंपेन में कांग्रेस को घेरना और किसान माधुराम की तस्वीर लगाना महंगा पड़ता दिख रहा है। जैसलमेर जिले के किसान माधुराम ने भाजपा के खिलाफ पुलिस में मानहानि का केस दर्ज करवाया है। 

जैसलमेर | राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले एक किसान ने भारतीय जनता पार्टी के लिए मुसीबत खड़ी कर दी है। 

जैसलमेर जिले के किसान माधुराम ने भाजपा के खिलाफ पुलिस में मानहानि का केस दर्ज करवाया है। 

ऐसे में भाजपा को अपने ’नहीं सहेगा राजस्थान’ कैंपेन में कांग्रेस को घेरना और किसान माधुराम की तस्वीर लगाना महंगा पड़ता दिख रहा है। 

दरअसल, भाजपा ने अपने ’नहीं सहेगा राजस्थान’ कैंपेन के लिए पोस्टर-बैनर तैयार करवाया था। जिसे प्रदेश की सड़कों पर लगाया गया था। 

इस पोस्टर में रामदेवरा के निकटवर्ती रिखीयों की ढाणी निवासी माधुराम जयपाल का फोटो पोस्टर-बैनर में छपवाकर पूरे प्रदेश में लगाया था।

इस पोस्टर में लिखा था कि नहीं सहेगा राजस्थान, 19 हजार किसानों की जमीन नीलाम। 

पहले तो इसकी जानकारी किसान माधुराम को नहीं थी कि उसकी तस्वीर भाजपा के पोस्टर में लगी है, लेकिन जब अन्य लोगों से इस बारे में माधुराम को जानकारी मिली तो वह नाराज हो गया।

मैं तो खुद 200 बीघा जमीन का मालिक हूं

किसान माधुराम का कहना है कि न तो मेरी जमीन नीलाम हुई है और न ही मेरे ऊपर किसी का कोई कर्जा हैं।


मैं तो खुद 200 बीघा जमीन का मालिक हूं। भाजपा ने मेरे फोटो का गलत इस्तेमाल करके मेरी प्रतिष्ठा धूमिल की गई है। जिससे मैं काफी आहत हूं।


सीएम गहलोत से की मुलाकात

जब ये मामला बढ़ा तो इसकी जानकारी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक भी पहुंची। ऐसे में सीएम ने किसान माधुराम को अपने  कार्यालय बुलाया और उससे मुलाकात कर आश्वासन दिया कि पोस्टर से उनके फोटो हटवा दिए जाएंगे। 

रामदेवरा पुलिस थाना में दर्ज करवाया मानहानि का केस

हालांकि, इसके बाद किसान माधुराम ने अपनी प्रतिष्ठा धूमिल होने का हवाला देते हुए सोमवार को जैसलमेर जिले के रामदेवरा पुलिस थाना में भाजपा पदाधिकारियों के खिलाफ मानहानि का केस दर्ज करवाया है और जैसलमेर भाजपा जिला अध्यक्ष, भाजपा ब्लॉक अध्यक्ष और पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। 

Must Read: पति रिश्वत मामले में अरेस्ट, अब बर्खास्तगी की तलवार, ये कहा सफाई में

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :