पशुपालन एवं गोपालन : पशुपालन के क्षेत्र में राज्य को अग्रणी स्थान पर लाने का होगा प्रयास, पशुपालन मंत्री भीलवाड़ा में नवीन विद्यालय भवन का किया शिलान्यास

पशुपालन के क्षेत्र में राज्य को अग्रणी स्थान पर लाने का होगा प्रयास, पशुपालन मंत्री भीलवाड़ा में नवीन विद्यालय भवन का किया शिलान्यास
पशुपालन एवं गोपालन मंत्री जोराराम कुमावत ने बुधवार को भीलवाड़ा जिले में 94.58 लाख रुपये की लागत से बनने वाले राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, सालरमाला के नवीन विद्यालय भवन का शिलान्यास किया। 
Ad

Highlights

राज्य सरकार प्रदेश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए कार्य कर रही है। भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन एवं दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई राज्य सरकार की प्राथमिकता है।

साथ ही कहा कि नई शिक्षा नीति से बच्चे रोजगारोन्मुखी शिक्षा प्राप्त कर आत्मनिर्भर बन सकेंगे । उन्होंने शिक्षकों से आह्वान किया कि वे बालिका शिक्षा को बढ़ावा दे।

जयपुर, 7 फरवरी। पशुपालन एवं गोपालन मंत्री जोराराम कुमावत ने बुधवार को भीलवाड़ा जिले में 94.58 लाख रुपये की लागत से बनने वाले राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, सालरमाला के नवीन विद्यालय भवन का शिलान्यास किया। 

इस अवसर पर मंत्री जोराराम कुमावत ने आमजन को संबोधित करते हुए कहा कि विद्यालय भवन में आठ कक्षा कक्ष, किचन शेड, शौचालय और पेयजल सुविधा का निर्माण होगा। इनके निर्माण के पश्चात स्कूल का संचालन अच्छे ढंग से हो सकेगा। उन्होंने कहा कि आसींद क्षेत्र में पशुओं की बहुतायत है। पशुओं के इलाज के लिए पशु चिकित्सालय की आवश्यकता को देखते हुए गांगलास ग्राम पंचायत में पशु चिकित्सा उपकेंद्र खोलने की बात भी कही।

राज्य सरकार प्रदेश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति से कर रही कार्य

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाते हुए कार्य कर रही है। भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन एवं दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई राज्य सरकार की प्राथमिकता है। साथ ही कहा कि नई शिक्षा नीति से बच्चे रोजगारोन्मुखी शिक्षा प्राप्त कर आत्मनिर्भर बन सकेंगे । उन्होंने शिक्षकों से आह्वान किया कि वे बालिका शिक्षा को बढ़ावा दे।

उन्होंने कहा कि पशुपालन के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं और वर्तमान परिप्रेक्ष्य में इसे व्यवसाय के तौर पर अपनाए जाने की आवश्यकता है। देशी गोवंश के मामले में राजस्थान समृद्ध प्रदेश है, क्योंकि यहां की देशी नस्लों को हर परिस्थिति में पाला जा सकता है। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रदेश में गायों के संरक्षण पर विशेष ध्यान दिया जा रहा हैं। उनके प्रति सहानुभूति रखें। उन्होंने कहा कि पशुपालन के क्षेत्र में राज्य को अग्रणी स्थान पर लाने का पूरा प्रयास किया जाएगा। 

शिलान्यास कार्यक्रम में आसींद विधायक जब्बर सिंह सांखला ने भी शिरकत की और पशुपालन मंत्री से क्षेत्र की जनता और ग्रामीणों की समस्याओं का समाधान करने का आग्रह किया।

इस अवसर पर विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

Must Read: सचिन पायलट ने स्वर्गीय सिंह शक्तावत की स्मृति में एमबी कॉलेज, उदयपुर में गेटवे का उद्घाटन किया

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :