हत्या से पहले खिलाया-पिलाया: आधी उम्र के प्रेमी के लिए मां ने 8 साल के मासूम को दे डाली मौत की सजा

आधी उम्र के प्रेमी के लिए मां ने 8 साल के मासूम को दे डाली मौत की सजा
Ad

Highlights

अपने से आधी उम्र के प्रेमी के प्यार में पागल हुई एक मां ने ही अपने 8 साल के मासूम बच्चे को मौत की सजा दे दी। मासूम बच्चा मां के अफेयर में बाधक बन रहा था। इसलिए जन्म देने वाली निर्दयी मां ने प्रेमी के साथ मिलकर मासूम को बेरहमी से मार डाला। 

अजमेर | अपने से आधी उम्र के प्रेमी के प्यार में पागल हुई एक मां ने ही अपने 8 साल के मासूम बच्चे को मौत की सजा दे दी। 
अजमेर जिले के नसीराबाद सदर थाना क्षेत्र में मृत मिले 8 साल के मासूम बालक की मौत की गुत्थी सुलझाकर पुलिस ने कई हैरान करने वाले राज खोले।

मासूम बच्चा मां के अफेयर में बाधक बन रहा था। इसलिए जन्म देने वाली निर्दयी मां ने प्रेमी के साथ मिलकर मासूम को बेरहमी से मार डाला। 

अपने से 18 साल छोटे प्रेमी के लिए 

मृत बच्चे की शिनाख्त के बाद पुलिस ने कातिल मां और उसके प्रेमी को बिजयनगर इन्दिरा कॉलोनी से धर दबोचा। 

दोनों आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस ने बच्चे का  पोस्टमार्टम करवाकर बालक का शव उसके पिता के सुपुर्द कर दिया।

पुलिस के अनुसार, 28 नवम्बर सुबह 8 साल के बच्चे विशाल उदयकी लाश मोतीपुरा गांव राजमार्ग के पास जंगल में मिली थी।

बालक की हत्या उसकी मां संगीता रेगर (38) ने प्रेमी लालाराम बैरवा (18) के साथ मिलकर की थी। पुछताछ में सामने आया है कि संगीता व लालाराम के बीच बीते कई साल से अफेयर चल रहा था। 

प्रेमी लालाराम उससे मिलने अक्सर आया करता था। ऐसे में छोटा सा बालक विशाल अपने पिता नाथू को मां से मिलने आने वाले लालाराम की बात बता देता था। 

जिसके चलते संगीता और नाथूलाल में झगड़ा हो गया था। ऐसे में दोनों ने विशाल को रास्ते से हटाकर शादी करने की ठान ली थी।

मजदूरी के दौरान हुई थी दोस्ती 

मजदूरी के दौरान लालाराम की संगीता से दोस्ती हुई थी। इधर नाथू मजदूरी के लिए अजमेर में रहता था। जिसका फायदा उठाकर लालाराम संगीता के करीब आ गया।

हत्या से पहले घुमाया-फिराया, खिलाया-पिलाया

आरोपियों ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि बालक की मां संगीता 28 नवम्बर सुबह विशाल को लेकर घर से निकली गई।

इसके बाद उसका प्रेमी लालाराम भी उनके पास आ गया। उन्होंने दिनभर विशाल को साथ घूमाया-फिराया और खिलाया-पिलाया।

इसके बाद रात 8-9 बजे के करीब मोतीपुरा के पास एक फैक्ट्री के सामने विशाल के दोनों हाथ प्लास्टिक की रस्सी से बांधे और शॉल से उसका गला घोट दिया। 

बालक की पहचान छिपाने के लिए निर्ममतापूर्वक उसके चेहरे पर पत्थर से वार कर उस पर डाल दिया।

12 साल पहले हुई थी शादी

जानकारी में सामने आया है कि हत्यारिन संगीता की शादी नाथू रेगर से 12 साल पहले यूपी में हुई थी। जिसकेबाद संगीता के दो संतान हैं। 

मृतक विशाल छोटा बेटा था, जबकि बड़ा बेटा मोदी अपनी नानी के पास रहता है। 

Must Read: पीएम मोदी के लिए प्रथम महिला जिल बाइडन ने खुद तैयार करवाया, बाजरा-मकई का लगेगा चटकारा

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :