Rajasthan Vidhansabha: शुभ शक्ति योजना में आवेदनों की चल रही सत्यापन प्रक्रिया - ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. किरोड़ीलाल मीणा

Ad

Highlights

ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. किरोड़ीलाल मीणा प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों पर जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि विगत 5 वर्षों में श्रम विभाग की 13 योजनाओं में 32.63 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं।

शुभ शक्ति योजना के तहत 2.46 लाख आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें शिकायतें मिली थी। वर्ष 2022 में 2.28 लाख आवेदन लंबित थे जिनको सत्यापित किया जा रहा है। इस प्रक्रिया के दौरान करीब 92 हजार आवेदन गलत पाए गए हैं।

जयपुर, 23 जनवरी | ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. किरोड़ीलाल मीणा ने मंगलवार को विधानसभा में कहा कि बालिकाओं को सम्बल देने के लिए संचालित शुभ शक्ति योजना में बड़ी संख्या में फर्जी आवेदन प्राप्त होने के कारण इनके सत्यापन की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि योजना में प्राप्त आवेदनों की सत्यापन प्रक्रिया पूर्ण होने पर लाभार्थियों को लाभ दिया जाएगा।

ग्रामीण विकास मंत्री डॉ. किरोड़ीलाल मीणा प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों पर जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि विगत 5 वर्षों में श्रम विभाग की 13 योजनाओं में 32.63 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं। शुभ शक्ति योजना के तहत 2.46 लाख आवेदन प्राप्त हुए थे जिनमें शिकायतें मिली थी। वर्ष 2022 में 2.28 लाख आवेदन लंबित थे जिनको सत्यापित किया जा रहा है। इस प्रक्रिया के दौरान करीब 92 हजार आवेदन गलत पाए गए हैं।

इससे पहले विधायक छगन सिंह राजपुरोहित के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में ग्रामीण विकास मंत्री ने निर्माण कार्य में नियोजित श्रमिकों हेतु भवन एवं अन्य संनिर्माण श्रमिक कल्याण मण्डल द्वारा पंजीकृत श्रमिकों हेतु लागू योजनाओं का विवरण सदन के पटल पर रखा। उन्होंने कहा कि मंडल कोष से शुभशक्ति योजना के अन्तर्गत विगत 5 वर्षों में हितलाभ के रूप में आवेदकों को कुल 157.63 करोड़ रूपए का हितलाभ दिया गया है।

Must Read: सचिन पायलट का सीएम अशोक गहलोत को रोचक जवाब, अनुशासनहीनता करने वालों के भी मैंने नहीं रोके टिकट

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :