परिवर्तन रैली पर संयम लोढ़ा का तंज: परिवर्तन जरूर होगा लेकिन इस बार राज का नहीं रिवाज का, बनेगा इतिहास

परिवर्तन जरूर होगा लेकिन इस बार राज का नहीं रिवाज का, बनेगा इतिहास
Sanyam Lodha
Ad

Highlights

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक लोढ़ा भाजपा से यह भी सवाल किया है कि वोट मांगने से पहले भाजपा यह बताएं कि उनकी पार्टी के ही नेता की सोसायटी आदर्श क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसाइटी में आम जनता का डूबा पैसा कब मिलेगा। 

सिरोही | राजस्थान में चुनावों से पहले भारतीय जनता पार्टी द्वारा कांग्रेस सरकार के खिलाफ निकाली जा रही परिवर्तन यात्रा पर सिरोही विधायक संयम लोढ़ा (Sanyam Lodha) ने तंज कसा है। 

मुख्यमंत्री सलाहकार संयम लोढ़ा ने कहा है कि इस बार प्रदेश में परिवर्तन जरूर होगा लेकिन वह राज का नहीं रिवाज का होगा।

कई दशक बाद प्रदेश में कोई सरकार रिपीट होगी और वह वर्तमान कांग्रेस की सरकार फिर से सत्ता में आयेगी। जन आक्रोश यात्रा या परिवर्तन यात्रा से आम जनता को गुमराह कर सत्ता में आने के ख्वाब देख रही भाजपा को कुछ हाथ नहीं लगेगा उनका ख्वाब ख्वाब ही रह जायेगा।

बनी दावेदारों की बायोडाटा यात्रा

भाजपा रोज नए-नए तरीके एवं हथकंडे अपना कर आम जनता को गुमराह करने का हर संभव प्रयास कर रही है पहले भाजपा ने प्रदेश में जन आक्रोश यात्रा निकाली जो पूरी तरह से फ्लॉप शो साबित हुई और अब बिना किसी नेतृत्व के परिवर्तन यात्रा लेकर आई है।

इस यात्रा में भी ना तो कार्यकर्ता शामिल है और ना ही आम जनता। कार्यकर्ता और आम जनता ने भाजपा की दोनों ही यात्राओं को पूरी तरह से नकार दिया है।

यात्राओं की लगातार विफलता, पार्टी में गुटबाजी से भाजपा नेता परेशान हो चुके हैं। भाजपा की यह परिवर्तन यात्रा अब केवल संभावित दावेदारों की बायोडाटा यात्रा बनकर रह गई है ।

मोदी के मुखौटे से चुनाव लड़ना मजबूरी

विधायक लोढ़ा ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के पास पूरे प्रदेश में कोई चेहरा नहीं है कोई विजन नहीं है इस कारण वह बिना किसी चेहरे के मोदी के मुखोटे को आगे कर चुनाव लड़ रही है।

भाजपा के प्रदेश में एक दर्जन सीएम घूम रहे हैं, जनता में अपनी लड़ाई को छुपाने के लिए मोदी के नाम का सहारा लिया जा रहा है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी आमजन त्रस्त हो चुकी है।

महंगाई चरम सीमा पर है जिस पर भाजपा के नेताओं के पास कोई जवाब नहीं है और मोदी के खिलाफ बोलने की किसी में हिम्मत नहीं है ।

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि राज्य में चुनाव आते ही भाजपा अपने आपको किसानों की हमदर्द और हितैषी बताने लगी है जबकि भाजपा शासन में राजस्थान में ही महारानी के राज्य में घढ़साना में किस तरह 70  निर्दाेष एवं निहत्थे किसानों को गोली से मार दिया गया था।

यह किसानों का घाव अभी भरा नहीं था कि केंद्र सरकार फिर किसानों के शोषण के लिए और अपने उद्योगपति मित्रों के लिए तीन कृषि काले कानून लेकर आई जिसे कांग्रेस पार्टी के देशव्यापी आंदोलन के चलते वापस लेना पड़ा है। 

देश एवं प्रदेश का किसान भाजपा की असलियत जान चुका है और अब वह इनके झांसे में नहीं आने वाला है।

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक संयम लोढ़ा कहा कि भाजपा महिलाओं के सम्मान की बात करती है जबकि भाजपा के प्रधानमंत्री अपनी धर्मपत्नी को ही सम्मान नहीं दे रहे हैं तो ऐसी पार्टी देश में या प्रदेश में क्या महिलाओं का सम्मान करेगी।

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि वर्तमान कांग्रेस सरकार ने आम जनता एवं कर्मचारियों के हित में एक से बढ़कर एक फैसले लिए हैं और अनेकों लोक कल्याणकारी योजनाएं लागू की है जिनमें सबसे बड़ी ओल्ड पेंशन स्कीम लागू करना है।

इस पर भाजपा अपना रूख साफ करें कि वह ओल्ड पेंशन स्कीम के पक्ष में है या विपक्ष में है। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व के नेता लगातार ओल्ड पेंशन स्कीम के विरोध में बयान देते हैं क्या।

भाजपा यह स्पष्ट करेगी कि यदि उनका शासन आता है तो ओल्ड पेंशन स्कीम को जारी रखेगी अथवा बंद करेगी।भाजपा ने अपने पहले के शासन में ओल्ड पेंशन स्कीम को बंद कर दिया था जिससे कर्मचारीयो एवं उनके परिवारों का भविष्य अंधकारमय हो गया था।

विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि भाजपा ने काले धन के बल पर देश के अनेक राज्यों ने जनता के द्वारा चुनी सरकारों को विधायकांे की खरीद फरोख्त कर पलट दिया, लेकिन राजस्थान में मुख्यमंत्री की जीवटता ने उनके मंसूबे धूल धूसरीत कर दिए। 

पूरे देश को एक बार फिर पता चल गया कि राजस्थान की वीर प्रसूता भूमि आज भी भाजपा के षड्यंत्रकारियों के आगे घुटने टेकने वाली नहीं है।

विधायक लोढ़ा यहीं तक नहीं रूके उन्होंने जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत से सवाल किया कि वे बताए जवाई पुनर्भरण प्रोजेक्ट सात साल से दिल्ली में लटका हुआ क्यों है। 

माही व्यास समझौते की क्रियान्विति क्यों नहीं कर रही है, जालोर, सिरोही व बाड़मेर के किसानो को केंद्र सरकार के खिलाफ हाईकोर्ट में जाकर क्यों लड़ना पड़ रहा है। 

उन्होंने कहा कि बेरोजगारी ने सारे रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए हैं। देश में अब तक का सर्वाेच्च बेरोजगारी स्तर है।

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक लोढ़ा भाजपा से यह भी सवाल किया है कि वोट मांगने से पहले भाजपा यह बताएं कि उनकी पार्टी के ही नेता की सोसायटी आदर्श क्रेडिट को ऑपरेटिव सोसाइटी में आम जनता का डूबा पैसा कब मिलेगा। 

गत चुनाव में सांसद ने वादा किया था 5 साल पूरे हो गए उसे वादे का क्या हुआ। 

लोढ़ा ने कहा कि पूर्व भाजपा शासन में लखमाराम देवासी को झूठे मुकदमे में सालों तक जेल रहना पड़ा है वह जनता भूली नहीं है।

गत भाजपा शासन काल में जिले में पटवारियों, ग्रामासेवकांे, पशु चिकित्सा केंद्र में कितने पद रिक्त पड़े हुए थे जिसके चलते आमजन, ग्रामीण बुरी तरह से परेशान हो चुके थे और उन्होंने भाजपा शासन को प्रदेश से उखाड़ फेंका था ।

मुख्यमंत्री सलाहकार एवं विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि प्रदेश में भाजपा का कार्यकर्ता चुनाव से पहले ही हथियार डाल चुका है।

जिसका उदाहरण जन आक्रोश यात्रा एवं परिवर्तन यात्रा की विफलता है।

Must Read: ईडी निकालेगी पेपर लीक का कांग्रेस कनेक्शन, शिकायतों में सामने आये कई नाम 

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :