सूरज राष्ट्रीय पोर्टल का लांच कार्यक्रम: डबल इंजन की सरकार डबल गति से दौड़कर कर रही प्रदेश का सर्वांगीण विकास

डबल इंजन की सरकार डबल गति से दौड़कर कर रही प्रदेश का सर्वांगीण विकास
उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी
Ad

Highlights

उप मुख्यमंत्री  दिया कुमारी ने कहा कि इस आउटरीच कार्यक्रम में देश के 525 जिलों से विभिन्न ऋण योजनाओं से लाभान्वित 3 लाख लाभार्थियों को जोड़ा गया है जिनमें उद्यमियों को कम ब्याज दरों पर ऋण सहायता दी जाएगी और सफाई कर्मियों को पी पी ई किट दिए जाएंगे


जयपुर । उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी द्वारा किए गए पीएम-सूरज राष्ट्रीय पोर्टल के लांच कार्यक्रम में ऑनलाइन माध्यम से बुधवार को सवाईमाधोपुर के राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय से सहभागिता की।

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने कहा कि 5 साल पूर्व जब हमारी सरकार थी तब सवाई माधोपुर में बहुत अच्छे विकास कार्य किए गए। अब फिर से राज्य में हमारी सरकार आ गई है। डबल इंजन की सरकार डबल गति से दौड़कर प्रदेश का सर्वांगीण विकास कर रही है।

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय ने वंचित वर्ग,अन्य पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति सफाई कर्मचारियों के उत्थान के लिए कई कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि विभिन्न ऋण योजनाओं के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराए गए हैं। वहीं विद्यार्थियों को छात्रवृतियां और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने जैसे प्रशंसनीय कार्य किए गए हैं।

उप मुख्यमंत्री  दिया कुमारी ने कहा कि इस आउटरीच कार्यक्रम में देश के 525 जिलों से विभिन्न ऋण योजनाओं से लाभान्वित 3 लाख लाभार्थियों को जोड़ा गया है जिनमें उद्यमियों को कम ब्याज दरों पर ऋण सहायता दी जाएगी और सफाई कर्मियों को पी पी ई किट दिए जाएंगे।

प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी ने समाज में स्वच्छता का ध्यान रखने वाले समाज के वंचित वर्ग का हमेशा सम्मान किया है। नमस्ते योजना के माध्यम से उन्हें सुरक्षा उपलब्ध करवाई गई है। उन्हें मशीन उपलब्ध करवाई गई कौशल विकास योजनाओं के माध्यम से उन्हें स्वच्छता से संपन्नता की ओर ले जाया गया है।


उप मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि आज प्रधानमंत्री जी के इस कार्यक्रम में मुझे सवाईमाधोपुर से आप लोगों से जुड़ने का मौका मिला है। उन्होंने सवाई माधोपुर के प्रति मेरा  विशेष जुड़ाव है और जब मैं आपकी विधायक थी उस समय मैंने यहां शिक्षा, सड़क, पर्यटन रेलवे सभी क्षेत्रों में सभी वर्गों के विकास के लिए प्रयास किए थे।मुझे यह कहते हुए खुशी होती है कि यहां की जनता ने मुझे हमेशा अपना स्नेह और आशीर्वाद प्रदान किया है।

सवाईमाधोपुर में पर्यटन की असीम संभावनाएं

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने सवाई माधोपुर प्रवास के दौरान कहा कि सवाई माधोपुर में पर्यटन की दृष्टि से असीम संभावनाएं हैं। उन्होंने त्रिनेत्र गणेश जी की दर्शन यात्रा के दौरान यात्रियों की सुविधाओं का जायजा लेकर असंतुष्टि व्यक्त करते हुए कहा कि यहां व्यवस्थाओं को सुधारना होगा। त्रिनेत्र गणेश जी आने वाले यात्रियों के लिए बेहतर सुविधाएं विकसित करनी होगी। वही उपमुख्यमंत्री ने शिल्पग्राम के निरीक्षण के दौरान भी निराशा व्यक्त करते हुए कहा कि शिल्पग्राम की स्थिति जीर्ण क्षीण हो गई है। यहां का नए सिरे से जीर्णोद्धार किया जाए। यहां पर्यटकों का फुटफॉल बढ़ाया जाए। शिल्पग्राम में स्थानीय  सवाई माधोपुर शहर के लोगों को स्टॉल उपलब्ध करवा कर उनकी सहभागिता बढ़ाई जाए।

उप मुख्यमंत्री ने सवाईमाधोपुर में पर्यटन की असीम संभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए पर्यटन विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती गायत्री राठौड़, जिला कलक्टर डॉ. खुशाल यादव को यहां पर्यटन सुविधाएं विकसित करने के निर्देश दिए। 

उन्होंने बुधवार को रणथम्भौर दुर्ग स्थित त्रिनेत्र गणेश मंदिर में पूर्ण पारम्परिक श्रृद्धाभाव से पूजा अर्चना कर भगवान गणेश जी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया और प्रदेशवासियों के लिए मंगलकामनाएं की।

इससे पूर्व उप मुख्यमंत्री का जिले की सीमा पर जिलेवासियों द्वारा फूल मालाओं और ढोल नंगाड़ों के साथ भव्य स्वागत किया गया। इस दौरान उप मुख्यमंत्री को नागरिकों ने उनकी परिवेदनाओं के ज्ञापन भी सौंपे जिनका उप मुख्यमंत्री ने सकारात्मक भाव से समाधान करने का आश्वासन दिया।

पर्यावरण को बचाने के साथ रणथम्भौर टाईगर रिजर्व, रणथम्भौर किले, त्रिनेत्र गणेश मंदिर सहित अन्य पर्यटक स्थलों को टूरिस्ट फ्रेण्डली बनाने के लिए करें काम

सवाई माधोपुर जिले के पर्यटन विकास, पर्यटकों की सुविधाओं, किले, राज्य होटल प्रबंधन संस्थान सवाई माधोपुर एवं शिल्पग्राम के विकास के संबंध में राजस्थान की उप मुख्यमंत्री दीयाकुमार ने संबंधित विभागीय अधिकारियों के साथ बुधवार को राजीव गांधी क्षेत्रीय प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय के पुस्तकालय में बैठक ली।

उप मुख्यमंत्री तथा पर्यटन मंत्री ने कहा कि हमे पर्यावरण को बचाने के साथ-साथ रणथम्भौर टाईगर रिजर्व, रणथम्भौर किले, त्रिनेत्र गणेश मंदिर सहित अन्य पर्यटक स्थलों को टूरिस्ट फ्रेण्डली बनाना होगा। उन्होंने कहा कि रणथम्भौर किले में आने वाले पर्यटक मानव ही है उन्हें भी पेयजल, शौचालय एवं सुरक्षा जैसी मूलभूत सुविधाओं की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मंदिर में पेयजल एवं शौचालय बड़ी समस्याएं हैं इनकी शीघ्र निस्तारण के निर्देश उन्होंने जिला कलक्टर डॉ. खुशाल यादव, वन विभाग डीसीएफ डॉ. भाकर, एएसआई के महेन्द्र कुमार को दिए।

उन्होंने कहा कि मंदिर के परिक्रमा एवं मुख्य मार्ग पर प्लास्टिक सहित अन्य प्रकार के कचरे के ढेर है इससे सवाई माधोपुर जिले की छवि धूमिल होती है। उन्होंने किले में विभिन्न मार्गो पर सीसीटीवी कैमरे लगाने के साथ-साथ प्लास्टिक का उपयोग नहीं करने एवं इधर-उधर कचरा न फेंकने की चैतावनी बोर्ड लगाने, किले एवं जंगल को साफ सुथरा रखें।

उन्होंने कहा कि गणेश धाम से मंदिर तक रोपवे स्वीकृत हो चुका है इसके निर्माण की सभी आवश्यक कार्यवाही की पूर्ति करने के निर्देश जिला कलक्टर को दिए है। उन्होंने इसके साथ-साथ त्रिनेत्र गणेश मंदिर परिसर स्थित दुकानों को व्यवस्थित करने के साथ-साथ उनमें एकरूपता लाने के निर्देश भी जिला कलक्टर, एएसआई तथा मंदिर ट्रस्ट को दिए।

शिल्पग्राम का किया जाए जीर्णोद्धार

उप मुख्यमंत्री ने उपेक्षित शिल्पग्राम का भ्रमण करने के उपरांत नाराजगी व्यक्त करते हुए इसके विकास की कार्ययोजना बनाने के निर्देश प्रदान किए। उन्होंने कहा कि शिल्पग्राम बहुत ही बेहतरीन मंच है जहां पर स्थानीय दस्तकारों, शिल्पियों एवं कलाकारों को उनके हुनर प्रदर्शन का अच्छा अवसर मिल सकता है। उन्होंने कहा कि रणथम्भौर टाईगर रिजर्व घूमने आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को यहां पर स्थानीय उत्पादों एवं कलाकारों के हुनर का जीवन्त प्रदर्शन के साथ-साथ मनोरंजन के लिए इंटरप्रीटेशन सेन्टर की स्थापना कर इसे कलां और संस्कृति केन्द्र के रूप में विकसित किया जाए। उन्होंने इस संबंध में पूर्ण कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए।

राज्य होटल प्रबंधन संस्थान  के छात्र-छात्राओं से किया संवाद

उप मुख्यमंत्री ने सरकार द्वारा स्थानीय लोगों को होटलों के माध्यम से रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से गतवर्ष प्रारम्भ किए गए राज्य होटल प्रबंधन संस्थान का भ्रमण कर यहां के विद्यार्थियों से संवाद स्थापित कर अध्यापन एवं उन्हें मिल रही सुविधाओं तथा संस्थान से मिलने वाले लाभ के बारे में जानकारी प्राप्त की।

उप मुख्यमंत्री ने पालीघाट से रामेश्वरघाट तक पर्यटकों के लिए क्रूज संचालन की सम्भावना पर कार्यवाही करने के निर्देश संबंधित विभागीय अधिकारी को प्रदान किए।

इस दौरान उप मुख्यमंत्री ने रणथम्भौर रोड़ से झूमर बावड़ी तक क्षतिग्रस्त सड़क मार्ग को पुनः निर्माण हेतु कार्ययोजना बनाने के निर्देश सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता हरि सिंह मीना को दिए है।

उन्होंने राजीव गांधी प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय का भ्रमण कर इसमे और भी पर्यटक एवं शोध प्रबंधन अनुकूल बनाने के निर्देश  दिए।

Must Read: जयपुर ACB ने पार्षद, थानेदार और कांस्टेबल को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :