विकसित भारत-विकसित राजस्थान: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अंत्योदय के सपने को साकार करने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अंत्योदय के सपने को साकार करने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध
प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘विकसित भारत-विकसित राजस्थान’ कार्यक्रम में राजस्थान के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लाभार्थियों को संबोधित कर रहे थे
Ad

Highlights

प्रधानमंत्री शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘विकसित भारत-विकसित राजस्थान’ कार्यक्रम में राजस्थान के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लाभार्थियों को संबोधित कर रहे थे
जयपुर । प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हमारी डबल इंजन की सरकार ‘विकसित भारत-विकसित राजस्थान’ के संकल्प को साकार करने के लिए बहुत तेजी से काम कर रही है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

राज्य सरकार को बधाई देते हुए कहा कि राज्य में 17 हजार करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं के शिलान्यास एवं लोकार्पण से प्रदेश में औद्योगिक विकास के साथ आर्थिक उन्नति भी बढ़ेगी। साथ ही युवाओं के लिए रोजगार के अपार अवसरों का सृजन भी होगा।

भजनलाल शर्मा

 
प्रधानमंत्री शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘विकसित भारत-विकसित राजस्थान’ कार्यक्रम में राजस्थान के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लाभार्थियों को संबोधित कर रहे थे।
नरेन्द्र मोदी ने कहा कि किसी भी देश के विकास के लिए आधारभूत अवसंरचना का विकसित होना जरूरी है इसीलिए केन्द्र सरकार द्वारा इस बार के बजट में आधारभूत अवसंरचना पर 11 लाख करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। इससे राजस्थान में भी सीमेंट, पत्थर और सिरेमिक जैसे उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा।

 
 मोदी ने कहा कि देश में बिजली के संकट से निजात पाने के लिए केंद्र सरकार द्वारा नीतियां बदली गईं तथा सौर ऊर्जा जैसे नव्यकरणीय ऊर्जा संसाधनों के विकास पर जोर दिया गया, जिसका परिणाम है

भजनलाल शर्मा

कि आज सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत अग्रणी देशों मेें शामिल है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा ‘पीएम सूर्य घर योजना’ की शुरुआत की गई जिसके तहत प्रति माह 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली उपलब्ध करवाई जाएगी।
केन्द्र सरकार घरों में सोलर पैनल लगाने के लिए बैंको से कम ब्याज दरों पर आवेदक को ऋण उपलब्ध करवाएगी। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा भी 5 लाख घरों में सोलर पैनल लगाने की योजना बनाई गई है,
जिससे राज्य सौर ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन सकेगा। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार का मानना है कि देश में केवल चार वर्ग हैं- युवा, किसान, महिला तथा गरीब। इन वर्गो के सशक्तीकरण के लिए डबल इंजन सरकार मिशन मोड पर काम कर रही है।
 
प्रधानमंत्री ने राज्य सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा युवाओं के रोजगार सृजन के लिए 70 हजार भर्तियां, पेपरलीक की जांच के लिए एसआईटी का गठन, महिलाओं को 450 रुपए में गैस सिलेण्डर, किसानों के लिए पीएम किसान सम्मान निधि 6 हजार रुपए से बढ़ाकर 8 हजार रुपए करने जैसे निर्णय किए गए हैं,
जो यह दिखाता है कि प्रदेश सरकार आमजन के कल्याण के लिए प्रतिबद्धता से कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार का पूरा प्रयास है कि हर लाभार्थी तक तेजी से उसका हक पहुंचे तथा कोई भी वंचित ना रहे।
 
प्रधानमंत्री का अमृतकाल में नए भारत का विजन देश के लिए एक नया सवेरा
 
 
 
मुख्यमंत्री  भजनलाल शर्मा ने कहा कि यशस्वी प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी पं. दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के प्रण तथा स्वामी विवेकानंद के ध्येय पर चलते हुए गरीब कल्याण के लिए अग्रसर हैं।
भजनलाल शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री का अमृतकाल में नए भारत का विजन देश के लिए एक नया सवेरा है तथा यह विचार अब देशभर में गर्वनेंस का मॉडल बन गया है। उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा से करोड़ों लोगों को सम्बल मिला है।  शर्मा शुक्रवार को सीतापुरा के जेईसीसी में ‘विकसित भारत-विकसित राजस्थान’ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे।
 
 शर्मा ने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के उद्देश्य को प्राप्त करने में कई मानकों में राजस्थान देश में अग्रणी रहा है। प्रदेश में यात्रा के शिविरों में 3.70 करोड़ लोगों ने भागीदारी की है तथा 95 लाख आयुष्मान भारत कार्ड की ई-केवाईसी की गई है। साथ ही, यात्रा के दौरान 15.31 लाख किसान क्रेडिट कार्ड तथा पीएम उज्ज्वला योजना में लगभग 8 लाख पंजीकरण किए गए हैं। इन सभी मानकों पर राजस्थान देश में पहले स्थान पर है।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में जल संसाधनों की कमी विकास में हमेशा एक बड़ी बाधा रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री का धन्यवाद देते हुए कहा कि प्रदेशवासियों को ईआरसीपी की बड़ी सौगात मिली है,
जिससे पूर्वी राजस्थान में पेयजल और सिंचाई के लिए जलापूर्ति बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि आज हुए इन परियोजनाओें के शिलान्यास एवं लोकार्पण से राज्य के सड़क, रेलवे, सौर ऊर्जा, विद्युत ट्रांसमिशन, पेयजल तथा पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में विकास को गति मिलेगी।
 
इस अवसर पर विधायक  गोपाल शर्मा,  कैलाश चन्द वर्मा, मुख्य सचिव  सुधांश पंत, ग्रामीण विकास विभाग, अतिरिक्त मुख्य सचिव  अभय कुमार सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। साथ ही, राज्य की सभी विधानसभा क्षेत्रों से बड़ी संख्या में योजनाओं के लाभार्थी वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जुड़े हुए थे।
 
इन विकास परियोजनाओं का हुआ उद्घाटन, लोकार्पण एवं शिलान्यास:-
 
·  भगत की कोठी (जोधपुर) में वंदे भारत स्लीपर ट्रेनों की रखरखाव सुविधा, खातीपुरा (जयपुर) में वंदे भारत, एलएचबी आदि सभी प्रकार के रेकों का रखरखाव, हनुमानगढ़ में ट्रेनों के रखरखाव के लिए कोच केयर कॉम्प्लेक्स का निर्माण और बांदीकुई से आगरा फोर्ट रेल लाइन का दोहरीकरण, बीकानेर जिले में बरसिंगसर 300 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना, लागत 1400 करोड़ रुपए।
 
·  दिल्ली-मुंबई ग्रीन फील्ड अलाइनमेंट (एनई-4) के तीन पैकेज, 6-लेन ग्रीनफील्ड उदयपुर बाईपास, बीकानेर (पीजी), फतेहगढ़-द्वितीय और भादला-द्वितीय में आरई परियोजनाओं को कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए ट्रांसमिशन सिस्टम में सुदृढ़ीकरण, एसईजेड 8.1 गीगा वॉट ट्रांसमिशन सिस्टम सुदृढ़ीेकरण, चरण-द्वितीय भाग-बी के अंतर्गत राजस्थान (8.1 जीडब्ल्यू) में सौर ऊर्जा क्षेत्रों से बिजली की निकासी के लिए ट्रांसमिशन सिस्टम सुदृढ़ीकरण योजना, जोधपुर में इंडियन ऑयल के एलपीजी बॉटलिंग प्लांट का निर्माण, लागत 11 हजार करोड़।
 
·        जोधपुर-फलोदी, जोधपुर-रायकाबाग-मेड़ता रोड-बीकानेर सेक्शन बीकानेर-रतनगढ़ सादुलपुर- रेवाड़ी सेक्शन में रेलवे विद्युत सुदृढ़ीकरण, खातीपुरा रेलवे स्टेशन में टर्मिनल सुविधा और सेटेलाइट स्टेशन के रूप में विकास ,बीकानेर में विकसित 300 मेगावाट की एनटीपीसी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड नोखरा सोलर पीवी परियोजना, लागत 2700 करोड़।
 
·        ईसरदा दौसा पेयजल परियोजना पैकेज 4 बसवा एवं सिकराय (जल जीवन मिशन)।
 
·        गरड़ा पेयजल परियोजना, जिला बूंदी।
 
·        जवाई क्लस्टर प्रथम परियोजना 99 ग्राम, जिला पाली (जल जीवन मिशन)।
 
·        नर्मदा नहर आधारित एफ आर क्लस्टर पेयजल परियोजना (जल जीवन मिशन)।
 
·        जांबा घंटियाली बुंगड़ी पेयजल परियोजना।
 
·        पोकरण-फलसुंड-बालोतरा सिवाना पेयजल परियोजना पैकेज-4बी (जल जीवन मिशन)।
 
·        चंबल धौलपुर भरतपुर पेयजल परियोजना पैकेज-4।
 
·        नवलगढ़ रेलवे स्टेशन से रूपनिवास कोठी, नवलडी, करू, डुमरा, जजूसर होते हुए बिबासर रोड तक सड़क चौड़ाईकरण एवं सुदृढ़ीकरण।
 
·        मेहंदवास से अमीनपुर बनास नदी पर वेंटेड कॉजवे अप्रोच निर्माण कार्य।
 
·        आबू रोड़ एवं मावल स्टेशन तक आरओबी एलसी-132 का निर्माण।

Must Read: 5 नई गारंटी दी, स्टूडेंट्स को फ्री लैपटॉप, 15 लाख का बीमा, ओपीएस गारंटी कानून

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :