राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी: 300 यातायात पुलिसकर्मियों ने 2047 तक सड़क हादसों रहित राष्ट्र ननिर्माण का लिया संकल्प

300 यातायात पुलिसकर्मियों ने 2047 तक सड़क हादसों रहित राष्ट्र ननिर्माण का लिया संकल्प
राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी
Ad

Highlights

सोसायटी के सहायक अनुदेशक मानसिंह रावत ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।इस दौरान यातायात पुलिस से आईटी प्रभारी मुकेश सहित सैकड़ो पुलिसकर्मी उपस्थित  थे।सभी को सडक सुरक्षा पॉकेट बुक एवं प्रशिक्षण प्रमाण दिये गये

जयपुर | आवास फाइनेंसियर्स लिमिटेड,राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी एवं यातायात पुलिस जयपुर के संयुक्त तत्वाधान में  आवास यूथ सड़क सुरक्षा शिक्षा एवम् जागरूकता अभियान के तहत सड़क सुरक्षा अग्रदूत प्रशिक्षण एवं हेलमेट वितरण कार्यक्रम यातायात नियंत्रण कक्ष यादगार भवन में सम्पन्न हुआ ।

जिसमें प्रशिक्षण के उपरांत यातायात पुलिसकर्मियों ने सड़क  सुरक्षा अग्रदूत के रूप में राज्य को स्वच्छ, स्वस्थ एवं सुरक्षित सड़क संस्कृति विकसित करने के साथ वर्ष 2047 तक सडक हादसों रहित राष्ट्र का निर्माण करने की शपथ ली शपथ ली ।

सभी अग्रदूतों को आवास फ़ायनेंशियर्स लिमिटेड के सी एस आर हेड मुकेश राजपुरोहित ने सड़क सुरक्षा की शपथ  दिलायी।कार्यक्रम में राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी के परियोजना समन्वयक प्रवेश सैनी ने सभी को सड़क सुरक्षा संबंधित जानकारियां दी और सड़क दुर्घटना प्रदेश ही नहीं देश की मुख्य समस्याओं में से एक हैं इसलिए हमे स्वच्छ एवं स्वस्थ भारत के साथ साथ हमे सुरक्षित सड़के बनाना अति आवश्यक हैं।

वर्तमान सड़क सुरक्षा दशक 2021-2030  के दौरान सड़क दुर्घटनाओं और इनसे होने वाली मौतों में कमी लाने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए हमें आगे आना होगा। प्रशिक्षण के दौरान सैनी ने घर से निकल कर घर सुरक्षित पंहुचने के लिए सड़क सुरक्षा चक्र के 9 बिन्दुओं को राष्ट्रीय सडक सुरक्षा पुरस्कार प्राप्त गोल्ड मेडलिस्ट डॉ. वीरेंद्र सिंह राठौड़ एआरटीओ द्वारा तैयार सड़क सुरक्षा चक्र एवं लिखित सड़क सुरक्षा पॉकेट बुक के माध्यम से उदाहरण सहित समझाते हुए गुड़ सेमेरिटन प्रोत्साहन योजना के तहत घायलों की मदद करने के लिए आगे आने की अपील की ताकि सड़क दुर्घटनाओं में घायल लोगों को एक घण्टे के गोल्डन ऑवर में अस्पताल पंहुचाकर जान बचायी जा सके। 

सोसायटी के अनुदेशक भरतराज गुर्जर ने सोसायटी अध्यक्ष ऋतु चौहान के निर्देशन में चल रहे राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी के अभियान के बारे में विस्तार से बताया कि अब तक 80 हज़ार से अधिक लोगो को सड़क सुरक्षा अग्रदूत प्रशिक्षण देकर  रियायती दर पर हेलमेट वितरित किए जा चुके है तथा 9 लाख से अधिक लोगों को सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूक कर चुके हैं।गुर्जर ने बताया कि सड़क दुर्घटना विधि का विधान नहीं है इन्हें रोका जा सकता है आवास यूथ सड़क सुरक्षा अभियान इसी के लिए चलाया जा रहा है।

आवास फाइनेन्सियर्स लिमिटेड के सीएसआर हेड मुकेश राजपुरोहित ने हेलमेट की उपयोगिता के बारे में बताते हुए आवास फ़ाइनेंशियर्स लिमिटेड और राजस्थान सड़क सुरक्षा सोसायटी के संयुक्त तत्वाधान में सड़क सुरक्षा के क्षेत्र में चल रहे  कार्यक्रमों के बारे में विस्तार से बताया उन्होंने बताया कि इस अभियान के तहत अब तक 18 हज़ार अग्रदूत बनाकर विशेष सडक सुरक्षा संदेश लिखे हेलमेट वितरित किये जा चुके है, यातायात पुलिस सड़क सुरक्षा शिक्षा प्रभारी सलीम ने इस अनूठे अभियान एवं प्रशिक्षण मॉड्यूल की प्रशंसा करते हुए यातायात पुलिस की ओर से आभार जताया ।

सोसायटी के सहायक अनुदेशक मानसिंह रावत ने सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।इस दौरान यातायात पुलिस से आईटी प्रभारी मुकेश सहित सैकड़ो पुलिसकर्मी उपस्थित  थे।सभी को सडक सुरक्षा पॉकेट बुक एवं प्रशिक्षण प्रमाण दिये गये

Must Read: ‘मृत शरीर का सम्मान’ जवाबदेही कानून से ध्यान भटकाने के लिए गहलोत सरकार की चाल

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :