4 सितंबर को अरविंद केजरीवाल की एंट्री: ’आप’ का दावा- जनता को गारंटी मिलते ही बदल जाएगा राजस्थान का सियासी समीकरण

’आप’ का दावा- जनता को गारंटी मिलते ही बदल जाएगा राजस्थान का सियासी समीकरण
Ad

Highlights

आगामी 4 सितंबर को आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान जयपुर में टाउन हॉल कार्यक्रम में शामिल होने आ रहे हैं। 

जयपुर | Rajasthan Election 2023: विधानसभा चुनाव 2023 के रंग में रंग चुके राजस्थान में अब दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की भी एंट्री होने जा रही है। 

राजस्थान में अपने मुखिया की एंट्री को लेकर राजस्थान में आप नेता बड़े उत्साहित हैं।

केजरीवाल के दौरे को लेकर आप की तैयारियां जोरों पर है। इसी बीच आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नवीन पालीवाल ने कहा कि राजस्थान में सभी सियासी दलों का तोड़ आम आदमी पार्टी है। 

जो लगातार जनता के बीच सक्रिय है और इन दलों के हर सियासी वार का जवाब देने में सक्षम है। 

उन्होंने कहा कि आगामी 4 सितंबर को आप के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान जयपुर में टाउन हॉल कार्यक्रम में शामिल होने आ रहे हैं। 

जनता को गारंटी मिलते ही बदल जाएगा सियासी मौसम

जहां वो राजस्थान की जनता को गारंटी देंगे और उसके बाद से राजस्थान का सियासी मौसम बदल जाएगा। 

आज जनता और सभी दल ये बखूबी जानते हैं कि अरविंद केजरीवाल की गारंटी का मतलब 100 फीसदी काम होगा। 

जबकि बीजेपी के बड़े नेता चुनाव के समय बड़े-बड़े वादे कर देते हैं और बाद में खुद ही अपनी बात को जुमला कह देते हैं।

पालीवाल ने कहा कि सिर्फ आम आदमी पार्टी ही ऐसी पार्टी है जो जाति औऱ धर्म के आधार पर नहीं बल्कि शिक्षा, चिकित्सा और रोजगार की बात करती है इसलिए जनता का रुझान अब आम आदमी पार्टी की तरफ है।

इसी के साथ पालीवाल ने भाजपा की परिवर्तन यात्रा को लेकर भी  निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पिछले लगभग पौने पांच साल से जो बीजेपी चुप्पी साधे रही अब वही बीजेपी परिवर्तन यात्रा के नाम पर शोर मचा रही है। 

लेकिन इनके शोर से प्रदेश की जनता अब बहकने वाली नहीं है क्योंकि जनता भी जान गई है कि बीजेपी शीर्ष नेतृत्व को प्रदेश के अपने ही बड़े नेताओं पर भरोसा नहीं है। तो ऐसे नेताओं पर जनता भरोसा क्यों करे ?

Must Read: राजस्थान में आपसी कलह के बीच शपथ ग्रहण में होंगे शामिल

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :