सचिन पायलट: बीजेपी की हिंदू-मुसलमान और मंदिर-मस्जिद की राजनीति रही फेल

बीजेपी की हिंदू-मुसलमान और मंदिर-मस्जिद की राजनीति रही फेल
सचिन पायलट
Ad

Highlights

400 पार का दावा करने वाली एनडीए 200 कुछ पर आकर अटक गई

राम मंदिर का इस्तेमाल करके बीजेपी वोट लेने की बात करती थी 

संकट के समय में सरकार को लोगों के सामने आना चाहिए और लोगों को राहत दिलानी चाहिए।

अजमेर | कांग्रेस के महासचिव सचिन पायलट ने कहा- हिंदू-मुसलमान, मंदिर-मस्जिद और मंगलसूत्र की राजनीति को लोगों ने नापसंद किया है। देश का और प्रदेश का मूड (mood) कांग्रेस के पक्ष में है।

400 पार का दावा करने वाली एनडीए (NDA) 200 कुछ पर आकर अटक गई। किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। यह परिणाम सरकार के विरोध में आए हैं।

वैभव गहलोत की हार पर पायलट ने कहा- वैभव पिछली बार भी नहीं जीत पाए थे, इस बार भी नहीं जीत पाए। हम और मेहनत करेंगे और अगली बार किसी और सीट से वैभव गहलोत जीतेंगे।

हनुमान बेनीवाल पर कहा कि आज भी वह गठबंधन में है। पायलट जयपुर से जालौर जाते समय अजमेर हाईवे (highway) पर रुके थे। इस दौरान कांग्रेसी कार्यकर्ताओं (congress workers) ने उनका स्वागत किया था।

बीजेपी की भाषण, प्रोपेगेंडा, प्रचार की राजनीति फेल

पायलट बोले- लोकसभा चुनाव परिणाम का शुद्ध रूप से आकलन करेंगे तो यह वोट (Vote) सरकार के खिलाफ पड़े हैं। लोकसभा के चुनाव ऐसे थे, जिसे पूरी दुनिया देखना चाहती थी। देश के लोग किस प्रकार की राजनीति को पसंद करते हैं।

पिछले 10 साल से भाजपा (BJP) के शासन में लोगों ने देखा भाषण, प्रचार, प्रोपेगेंडा, बैनर, टेलीविजन (Television) और विज्ञापन की राजनीति थी। सरकार ने आर्थिक दृष्टि से सिर्फ चंद लोगों को फायदा पहुंचाने का काम किया है।

किसी को भी स्पष्ट बहुमत नहीं मिला

पायलट कहा कि भाजपा (BJP) का संख्या बल 303 था। आज 60-70 उनके सांसद कम चुनकर आए हैं। NDA ने दावा 400 का किया था। 200 कुछ पर आकर वह अटक गए हैं। यह जो जनादेश है यह खंडित है।

किसी भी दल को सरकार बनाने का स्पष्ट बहुमत नहीं मिला। जो सत्ता में थे उनको अपने घिरेबान में झांकना चाहिए और उन्हें आंकलन (assessment) करना चाहिए कि कहां कमी रह गई थी।

खत्म करना चाहा था विपक्ष को

कांग्रेस और इंडिया एलाइंस (India Alliance) को आपात जनसमर्थन जनता का मिला है। कांग्रेस पार्टी का प्रदर्शन राजस्थान में बेहतर रहा है। पिछले लोकसभा चुनाव में एक भी सीट जीत नहीं पाए थे। इस बार 11 सीटों पर भाजपा (BJP) को पराजित कर पाए हैं। यह सब की सामूहिक मेहनत का परिणाम है। अच्छे प्रत्याशियों का चयन हुआ था।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस का घोषणा पत्र (manifesto), अभियान (campaign) और राहुल गांधी के पदयात्रा, प्रियंका और खड़गे जी का व्यापक जो उन्होंने पूरे देश में प्रचार किया उनका लाभ उन्हें मिला है। हमारा संख्या बल जो था वह दोगुना हो गया है।

इंडिया एलाइंस (India Alliance) को बंगाल, उत्तर प्रदेश में हर जगह बहुत बहुमत मिला है। जो चुनाव हुए वह महत्वपूर्ण थे और सरकार का गठन राष्ट्रपति के निमंत्रण के बाद होगा। सरकार की जो नीति थी, विपक्ष को खत्म करने की उसे लोगों ने नापसंद किया है।

जहाँ राम मंदिर बना, वहां भी समाजवादी पार्टी जीती

पायलट ने अयोध्या में भाजपा की हार पर कहा- राम मंदिर का इस्तेमाल करके बीजेपी (BJP) वोट लेने की बात करती थी। अयोध्या में बीजेपी (BJP) हारी है और जिस शहर में मंदिर बना है वहां पर भी समाजवादी पार्टी जीती है।

इस देश के नौजवान, किसान और अधिकांश लोग धर्म के नाम की गई राजनीति को पसंद नहीं करते हैं। राजनीति होती है सिद्धांत, संविधान, विकास की योजना की, निवेश की। बीजेपी (BJP) ने राजनीति कि मंगलसूत्र, हिंदू- मुसलमान, मंदिर-मस्जिद की।

बीजेपी (BJP) की राजनीति को नौजवान पीढ़ी और अधिकांश लोग पसंद नहीं करते हैं। यह बात भाजपा को समझ में आ गई होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जो संघर्ष किया। देश में उन्हें काफी अच्छा प्रदर्शन करने का फायदा मिला है।

गठबंधन के साथी हमेशा साथ रहेंगे- पायलट

हनुमान बेनीवाल के बयान पर पायलट ने कहा कि सब लोग जो इंडिया गठबंधन (India alliance) में थे, आज भी वह गठबंधन में है। आने वाले समय में गठबंधन में और दल शामिल हो जाएंगे। पायलट ने परिणाम के बाद भाजपा की चुप्पी पर कहा कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के अंदरूनी मामले में वह टिप्पणी नहीं करेंगे।

राजस्थान के लोगों को आज उम्मीद है कि उनकी सरकार बनी है वह लोगों की मदद करें। इस संकट के समय में सरकार को लोगों के सामने आना चाहिए और लोगों को राहत दिलानी चाहिए।

Must Read: राजस्थान में औवेसी से गहलोत सरकार के मंत्री राजेन्द्र गुढ़ा की बंद कमरे में मुलाकात, मायने क्या निकलेंगे

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :