अस्पताल में भर्ती: चुनाव-प्रचार कर रहे लोकसभा सांसद पर हमला, पेट में चाकू घोपा

चुनाव-प्रचार कर रहे लोकसभा सांसद पर हमला, पेट में चाकू घोपा
Ad

Highlights

सिद्दीपेट जिले में भारत राष्ट्र समिति यानी (बीआरएस) सांसद कोथा प्रभाकर रेड्डी (Kotha Prabhakar Reddy) पर भीड़ में से किसी ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया है। 

सिद्दीपेट | Assembly Election 2023: देश के पांच राज्यों में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर माहौल गरमाता जा रहा है। 

इसी बीच तेलंगाना से एक बड़ी खबर सामने आई है। यहां चुनाव प्रचार के दौरान बीआरएस सांसद पर जानलेवा हमला हुआ है। 

सिद्दीपेट जिले में भारत राष्ट्र समिति यानी (बीआरएस) सांसद कोथा प्रभाकर रेड्डी (Kotha Prabhakar Reddy) पर भीड़ में से किसी ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया है। 

एक संदिग्ध ने सांसद रेड्डी के पेट में चाकू घोप दिया। हालांकि उनके सुरक्षाकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए हमलावर को दबोच लिया है। उससे पूछताछ की जा रही है। 

घायल प्रभाकर रेड्डी को गजवेल अस्पताल ले जाया गया है, जहां से उन्हें हैदराबाद स्थानांतरित किया जा सकता है। 

जानकारी के मुताबिक, यह हमला उस वक्त हुआ जब सांसद रेड्डी तेलंगाना विधानसभा चुनाव को लेकर दौलताबाद मंडल के सुरपल्ली गांव में चुनाव प्रचार कर रहे थे। 

पुलिस के मुताबिक, ये वारदात दौलताबाद मंडल के सुरमपल्ली गांव में हुई। सांसद कोठा प्रभाकर रेड्डी सुरक्षित हैं। उन्हें गजवेल में स्थानांतरित कर दिया गया है। इस हम मामले की जांच की जा रही है।

सांसद रेड्डी पर हमले की सूचना से हड़कंप मच गया है। पार्टी के अन्य नेताओं को जैसे ही इस हमले की जानकारी मिली, वैसे ही सभी सांसद का हाल जानने के लिए उतावले हो गए।

वहीं, मंत्री टी हरीश राव ने सांसद से फोन पर बात की और उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली है। उन्होंने अपना कार्यक्रम भी रद्द करते हुए सांसद रेड्डी से मिलने पहुंचे हैं।

मेडक लोकसभा से हैं सांसद

जानलेवा हमले में घायल होने वाले कोथा प्रभाकर रेड्डी तेलंगाना की मेडक लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं। 

रेड्डी का जन्म 6 जून 1966 में एक किसान के घर में हुआ था। 2014 में उन्होंने मेडक लोकसभा क्षेत्र के लिए उपचुनाव में तेलंगाना राष्ट्र समिति के उम्मीदवार के तौर पर जीत दर्ज की थी। 

उपचुनाव में उन्होंने 3,61,833 मतों के अंतर से विपक्षी दल के उम्मीदवार को हराकर धमाका किया था। जहां पर टीआरएस पार्टी के प्रमुख के. चंद्रशेखर राव ने नवगठित राज्य तेलंगाना के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद मेडक सीट से इस्तीफा दे दिया था।

Must Read: चुनावों से पहले बदले गए कई प्रदेश अध्यक्ष, अब इनकों सौंपी गई बड़ी जिम्मेदारी

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :