भीलवाड़ा कांड: पूर्व सीएम राजे बोलीं- सबसे असुरक्षित प्रदेश बन गया राजस्थान, आंकड़ों की आड़ में मत छिपाईए ऐसी घटनाएं सीएम साब

पूर्व सीएम राजे बोलीं- सबसे असुरक्षित प्रदेश बन गया राजस्थान, आंकड़ों की आड़ में मत छिपाईए ऐसी घटनाएं सीएम साब
Ad

Highlights

वसुंधरा राजे ने कहा है कि भीलवाड़ा में एक मासूम बच्ची के साथ गैंगरेप और भट्टी में जिंदा जला देने की घटना ने फिर सिद्ध कर दिया है कि राजस्थान महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित प्रदेश बन गया है। 

जयपुर | राजस्थान में महिलाओं और बालिकाओं पर हो रहे अपराधों का एक और नया मामला भीलवाड़ा से सामने आने के बाद राजनीतिक गरमाई हुई है। 

प्रदेश में लगातार हो रहे जघन्य अपराधों को लेकर विपक्षी पार्टियां गहलोत सरकार और कानून व्यवस्था को निशाना बना रही हैं। 

ऐसे में अब पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने भी भीलवाड़ा जिले के कोटड़ी गांव में नाबालिग को कोयले की भट्टी में जिंदा जलाने के मामले को लेकर सीएम गहलोत पर हमला बोला है। 

वसुंधरा राजे ने कहा है कि भीलवाड़ा में एक मासूम बच्ची के साथ गैंगरेप और भट्टी में जिंदा जला देने की घटना ने फिर सिद्ध कर दिया है कि राजस्थान महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित प्रदेश बन गया है। 

भाजपा सरकार ने लगाया था अंकुश

राजे ने कहा कि हमारी पिछली भाजपा सरकार ने प्रदेश में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए फांसी की सजा का प्रावधान किया था।

जिसके अन्तर्गत कई दुष्कर्मियों को फांसी की सजा भी सुनाई गई थी। 

सीएम गहलोत साब आप आंकड़ों की आड़ में कब तक ऐसी घटनाओं को छिपाते रहेंगे? 

आपको नैतिकता दिखाते हुए बहन-बेटियों की अस्मत बचाते हुए न्याय दिलाना चाहिए।

राठौड़ बोले- घटना सरकार के माथे पर कलंक

इसी के साथ नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी ट्वीट के माध्यम से  भीलवाड़ा घटना पर दुख जताते हुए कहा कि- लोमहर्षक घटना सरकार के माथे पर कलंक है। 

गहलोत के जंगलराज की दास्तां देखिए, जब बच्ची का पिता एफआईआर दर्ज कराने थाने पहुंचता है तो इस पुलिस कई घंटों तक एफआईआर नहीं लिखती। 

मैंने स्थानीय भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं को घटनास्थल पर पहुंचकर पीड़ित परिजनों को न्याय दिलाने के लिए निर्देशित किया है।

गौरतलब है कि भीलवाड़ा में बुधवार रात एक 14 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप करके उसको कोयला की भट्ठी में डालकर जिंदा जला देना दिया गया था। 

जिसके बाद परिजनों को उसका चांदी का कडा और शव के कुछ अवशेष मिले थी जिसके आधार पर उसकी पहचान हुई थी। 

पुलिस ने इस मामले में अब तक चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है बाकी की तलाश जारी है। 

Must Read: नहीं रहे जयपुर के पूर्व जिला प्रमुख हजारी लाल नागर, अचानक तबीयत बिगड़ी और...

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :