Rajasthan: अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ अभियान के लिए चैक लिस्ट जारी, खनन माफियाओं पर कठोर कार्रवाई होगी

अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ अभियान के लिए चैक लिस्ट जारी, खनन माफियाओं पर कठोर कार्रवाई होगी
Ad

Highlights

खान विभाग की शासन सचिव श्रीमती आनन्दी ने बताया कि अभियान के सफल संचालन के लिए विभाग द्वारा जारी चैक लिस्ट के अनुसार खान विभाग के अधिकारियों को 24 घंटें में जिला कलक्टर की अध्यक्षता में बैठक आयोजित कर जिला स्तरीय एसआईटी/टास्क फोर्स की प्रभावी कार्ययोजना बनाने को कहा गया है।

जयपुर | अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ सोमवार 15 जनवरी से 31 जनवरी तक चलाये जाने वाले राज्यव्यापी अभियान के लिए खान विभाग द्वारा चैक लिस्ट जारी की गई है। मुख्य सचिव सुधांश पंत ने जिला कलक्टरों, जिला पुलिस अधीक्षकों सहित संबंधित विभागों के अधिकारियों को इस संबंध में आवश्यक निर्देश जारी किये है।

उन्होंने संबंधित विभागों के बीच बेहतर तालमेल बनाते हुए खनन माफियाओं के खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए अवैध खनन गतिविधियों को समूल नष्ट करने पर जोर दिया है। उल्लेखनीय है कि अवैध खनन गतिविधियों के खिलाफ खान, राजस्व, परिवहन, पुलिस और वन विभाग द्वारा जिला कलक्टर के निर्देशन में संयुक्त अभियान संचालित करने का निर्णय किया गया है।

खान विभाग की शासन सचिव श्रीमती आनन्दी ने बताया कि अभियान के सफल संचालन के लिए विभाग द्वारा जारी चैक लिस्ट के अनुसार खान विभाग के अधिकारियों को 24 घंटें में जिला कलक्टर की अध्यक्षता में बैठक आयोजित कर जिला स्तरीय एसआईटी/टास्क फोर्स की प्रभावी कार्ययोजना बनाने को कहा गया है।

जिला कलक्टर द्वारा एसआईटी/टास्क फोर्स की प्रतिदिन समीक्षा बैठक आयोजित कर की गई कार्रवाई की प्रगति रिपोर्ट राज्य सरकार को भेजने के साथ ही अगले दिन की कार्ययोजना बनाई जाएगी। 

अधिकारियों को अवैध खनन गतिविधियों के प्रकरणों में 3 दिवस में संबंधित द्वारा कंपाउंड राशि व राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) द्वारा निर्धारित शास्ती राशि जमा नहीं कराने कर संबंधित अधिकारी द्वारा पुलिस में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई जाएगी।

इसी तरह से 90 दिवस में कंपाउंड राशि जमा नहीं कराने पर संबंधित खनिज अभियंता द्वारा कार्रवाई की जाएगी। अभियान के दौरान पूर्व में जब्त खनिजों की नीलामी भी की जाएगी। 

जिला कलक्टरों द्वारा अवैध खनन गतिविधियों के प्रकरणों में पूर्व में लंबित एफआईआर की प्रगति समीक्षा की जाएगी। राज्य सरकार द्वारा जारी चैक लिस्ट के अनुसार खातेदारी जमीन पर अवैध खनन गतिविधि के प्रकरण में संबंधित राजस्व अधिकारी द्वारा खातेदारी निरस्त का प्रस्ताव जिला कलक्टर को प्रस्तुत किया जाएगा।

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा ने 11 जनवरी को खान विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए खनन माफियाओं पर कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए थे। 

Must Read: केन्द्रीय मंत्री शेखावत का कई जगह हुआ स्वागत, केसर विलास में पद्मश्री रघुवीरसिंह देवड़ा से मुलाकात की

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :