अब मिलेगा सरस ब्राण्ड का ऊॅंटनी का दूध: जोराराम कुमावत ने की लॉन्चिंग, मोबाईल प्रयोगशाला का भी किया शुभारम्भ

जोराराम कुमावत ने की लॉन्चिंग, मोबाईल प्रयोगशाला का भी किया शुभारम्भ
पशुपालन एवं डेयरी मंत्री  जोराराम कुमावत
Ad

Highlights

जवाहर लाल नेहरु मार्ग स्थित सरस संकुल ऑडिटोरियम में लॉन्चिंग के अवसर पर बड़ी संख्या में बीकानेर से आये ऊॅंट पालकों को सम्बोधित करते हुए गोपालन मंत्री  कुमावत ने कहा कि राजस्थान सरकार ऊॅंट पालकों की पारम्परिक आजीविका को बढ़ाने और ऊॅंट आबादी के संरक्षण के लिये प्रतिबद्व है


जयपुर। पशुपालन एवं डेयरी मंत्री  जोराराम कुमावत ने राजस्थान को-ऑपरेटिव डेयरी फैडरेशन के सरस ब्राण्ड का ऊॅंटनी का दूध लॉन्च किया है। शुरुआत में यह बीकानेर में सरस डेयरी बूथों पर उपलब्ध होगा और इसके सफल विपणन के बाद इसे पूरे राज्य में पहुॅचाया जायेगा।

जवाहर लाल नेहरु मार्ग स्थित सरस संकुल ऑडिटोरियम में लॉन्चिंग के अवसर पर बड़ी संख्या में बीकानेर से आये ऊॅंट पालकों को सम्बोधित करते हुए गोपालन मंत्री  कुमावत ने कहा कि राजस्थान सरकार ऊॅंट पालकों की पारम्परिक आजीविका को बढ़ाने और ऊॅंट आबादी के संरक्षण के लिये प्रतिबद्व है। इससे एक ओर जहां आम उपभोक्ताओं को विभिन्न बीमारियों से लड़ने में सक्षम और स्वास्थ्यवर्धक ऊॅंटनी का दूध उपलब्ध होगा वहीं दूसरी ओर ऊॅंट पालकों को भी आर्थिक स्वावलम्बन मिलेगा। 

सरस ब्राण्ड के ऊॅंटनी के दूध की लॉन्चिंग के साथ-साथ गोपालन मंत्री  कुमावत ने जयपुर डेयरी के द्वारा राजस्थान में पहली सरस मोबाईल दुग्ध जांच प्रयोगशाला का भी हरी झण्डी दिखाकर शुभारम्भ किया। उन्होंने डेयरी में संकलित किये जाने वाले दूध की उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिये मोबाईल जांच प्रयोगशाला के शुभारम्भ के अवसर पर कहा कि सम्पूर्ण राज्य में सहकारी डेयरियों को सरस ब्राण्ड के दूध की उच्च गुणवत्ता को सुनिश्चित किया जाना चाहिये। मोबाईल दुग्ध जांच प्रयोगशाला में अत्याधुनिक एफटीआईआर तकनीकी आधारित एफटीए मशीन (नीदरलैण्ड) को स्थापित किया गया है जिससे दूध में 22 तरह की अलग-अलग मिलावट की जांच की जा सकती है।

उल्लेखनीय है कि डेयरी फैडरेशन ने उपभोक्ताओं को ओषधीय गुणों से युक्त ऊॅंटनी का दूध उपलब्ध कराने के लिये बीकानेर की बहुला फूडस प्राईवेट लिमिटेड और उरमूल सीमांत समिति के साथ एक त्रिपक्षीय समझौता किया है जिसके अर्न्तगत सरस ब्राण्ड की 200 एमएल पाउच पैकिंग में ताजा कैमल मिल्क मिलेगा। इसकी कीमत 20 रुपये प्रति पैक होगी। ऊॅंटनी पालकों से दूध संकलन और प्रोसेसिंग से लेकर पाउच में पैकिंग तक एफएएसएसआई के कड़े गुणवत्ता मापदण्डों की पालना की जाएगी। 

कैमल मिल्क और मोबाईल दुग्ध जांच प्रयोगशाला की लॉन्चिंग के अवसर पर डेयरी फैडरेशन की प्रशासक और प्रबन्ध संचालक सुषमा अरोड़ा ने अपने स्वागत सम्बोधन में कैमल मिल्क से आम उपभोक्ताओं को होने वाले स्वास्थ लाभों को विस्तार से रेखांकित किया। 

लॉन्चिंग के अवसर पर पोकरण से विधायक महन्त प्रताप पुरी, पशुपालन निदेशक  भवानी सिंह राठौड़, जयपुर डेयरी के प्रबन्ध संचालक  मनीष कुमार सहित फैडरेशन के आला अधिकारी भी मौजूद थे। डेयरी फैडरेशन से त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर करने वालों में बहुला फूडस प्राईवेट लिमिटेड की ओर से कुमारी आकृति वास्तव भी उपस्थित रही। ऊॅंटनी के दूध की लान्चिंग और मोबाईल प्रयोगशाला को हरी झण्डी दिखाकर रवाना करने के बाद गोपालन एवं डेयरी मंत्री  जोराराम कुमावत ने जिला दुग्ध संघों के प्रबन्ध संचालक और पशु आहार संयंत्रों के प्रभारियों सहित आरसीडीएफ के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक भी ली। 

Must Read: राजनीतिक प्रतिनिधित्व, किसान-पशुपालकों जैसे मुद्दों को लेकर जोधपुर में मंथन

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :