सातलखेड़ी में 'सरकार आपके द्वार' शिविर: मदन दिलावर ने की जनसुनवाई —जनता हमारी स्वामी, निश्चित समयावधि में होगा परिवादों का निस्तारण

मदन दिलावर ने की जनसुनवाई —जनता हमारी स्वामी, निश्चित समयावधि में होगा परिवादों का निस्तारण
मदन दिलावर
Ad

Highlights

शिक्षा मंत्री ने कहा, सरकार की मंशा है कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में सरकार आपके द्वार के तहत शिविर लगाकर आम जनता को एक ही छत के नीचे समस्त योजनाओं का लाभ मिल सके एवं उनको अनावश्यक जिला मुख्यालय एवं कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़े

जयपुर । कोटा जिले के रामगंजमंडी विधानसभा क्षेत्र के सातलखेड़ी में मंगलवार को सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत समस्या समाधान शिविर आयोजित किया गया। शिविर में शिक्षा, पंचायती राज एवं संस्कृत शिक्षा विभाग मंत्री मदन दिलावर ने कहा कि सभी निस्तारण योग्य परिवादों का निस्तारण सुनिश्चित किया जाएगा एवं अगर किसी परिवाद के समाधान में समय लगता है

तो संबंधित विभाग के अधिकारी को परिवाद की समाप्ति की समय अवधि बतानी पड़ेगी। उन्होंने कहा, जनता ही हमारी स्वामी है। शिविर में आया प्रत्येक व्यक्ति सम्मानीय है एवं सरकारी अधिकारी प्रत्येक परिवादी के परिवाद को धैर्य, विनम्रता एवं सम्मान के साथ सुनें।

उन्होंने कहा, अगर नियमों के चलते कोई काम नहीं किया जा सकता है तो ऐसे में परिवादी का सही मार्गदर्शन किया जाए एवं उसकी नियमों की जानकारी बताई जाए। शिक्षा मंत्री के निर्देश पर सभी विभाग परिवादों की दो सूची संधारित कर रहे हैं। एक सूची से शिक्षा मंत्री स्वयं के स्तर से अधिकारियों से परिवादों का फॉलो अप करते हैं। शिविर में शिक्षा मंत्री ने जिला स्तरीय अधिकारियों से खेड़ारुद्धा में हुई जनसुनवाई में आए परिवादों पर की गई कार्रवाई रिपोर्ट भी ली।

शिक्षा मंत्री ने कहा, सरकार की मंशा है कि प्रत्येक ग्राम पंचायत में सरकार आपके द्वार के तहत शिविर लगाकर आम जनता को एक ही छत के नीचे समस्त योजनाओं का लाभ मिल सके एवं उनको अनावश्यक जिला मुख्यालय एवं कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़े। उन्होंने कहा प्रत्येक वंचित पात्र व्यक्ति को योजनाओं का लाभ दिया जाएगा ताकि वह विकसित भारत के संकल्प में अपना योगदान दे सके।

शिविर में श्रम, शिक्षा, सार्वजनिक निर्माण,राजस्व, महिला बाल विकास, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग आदि द्वारा केंद्र एवं राज्य सरकार की योजनाओं की विस्तार से जानकारी प्रदान की गई एवं वंचित पात्र लाभार्थियों को मौके पर ही योजनाओं का लाभ दिया गया।

शिविर में शिक्षा मंत्री द्वारा लक्ष्मीपुरा से अरनियाखुर्द के बीच 1 किलोमीटर लंबी सड़क के लिए 57 लाख रुपये की राशि देवलीखुर्द से नालोदिया के बीच 3.1 किलोमीटर लंबी सड़क के लिए 1 करोड़ 61 लाख की राशि, खाटोली से बोरदी के बीच 3.40 किलोमीटर सड़क के लिए 2 करोड़ 82 लाख की राशि स्वीकृति की घोषणा की गई। उन्होंने बताया सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा सड़क निर्माण के लिए 7.5 किलोमीटर के लिए कुल 5 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है।

सातलखेड़ी में अन्य 19 किलोमीटर लंबी सड़कों के निर्माण के लिए 14 करोड़ 60 लाख का प्रस्ताव भी भेजा जा चुका है जिसकी स्वीकृति जल्द मिलेगी।

शिविर में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग, पीएचईडी विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग से संबंधित परिवाद अधिक संख्या में आए। स्थानीय लोगों ने शिक्षा मंत्री का अभिनंदन कर समस्या समाधान शिविर आयोजन के लिए आभार जताया।

शिविर में शिक्षा एवं पंचायती राज के अधिकारी, कार्मिक सहित सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

Must Read: मंत्री बोले- नहीं होगा बिल वापस, डॉक्टर अड़े, करवा कर रहेंगे

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :