पुलिस ने बंद किया रामगंज बाजार: जयपुर के सुभाष चौक में युवक की मौत के बाद तनाव

जयपुर के सुभाष चौक में युवक की मौत के बाद तनाव
Ad

Highlights

देर रात से आज तड़के तक एडिशनल पुलिस कमिश्नर, डीसीपी, एडीसीपी समेत अन्य पुलिस अफसर सुभाष चौक इलाके में तैनात रहे। हालात ये हो गए कि भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को एक्शन में आना पड़ा।

जयपुर | प्रदेश की राजधानी जयपुर में चुनावी माहौल के बीच चार दीवारी के रामगंज क्षेत्र में तनाव पूर्ण माहौल बना हुआ है। 

यहां बीती रात एक युवक की हत्या के बाद से मामला गरमाया हुआ है। 

शुक्रवार रात हुई दो बाइकों की टक्कर के बाद शुरू हुए विवाद में लोगों ने एक युवक को पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिया।

इस वारदात के बाद से इलाके में जबरदस्त तनाव देखा जा रहा है। 

मौके पर देर रात से भारी पुलिस फोर्स तैनात है। एसटीएफ की टुकड़ी को भी तैनात किया गया है। 

देर रात से आज तड़के तक एडिशनल पुलिस कमिश्नर, डीसीपी, एडीसीपी समेत अन्य पुलिस अफसर सुभाष चौक इलाके में तैनात रहे। हालात ये हो गए कि भीड़ को काबू करने के लिए पुलिस को एक्शन में आना पड़ा।

काफी समझाइश के बाद भीड़ को काबू किया जा सका। पूरी घटना समाज विशेष के युवक की हत्या को लेकर बताई जा रही है।

ऐसे हुआ झगड़ा ?

शुक्रवार रात 12 बजे के करीब बाइक पर सवार दो युवक सुभाष चौक इलाके से होकर गुजर रहे थे। उनकी तेज रफ्तार बाइक एक अन्य बाइक सवारों से भिड़ गई और दोनों में झगड़ा हो गया।

बस क्या था शुरू हो गया हंगामा। इस मामले में स्थानीय लोग भी कुद पड़े। वहां खड़े लोगों ने दोनों को गाली-गलौज करने से मना किया तो इकबाल लोगों से भी भिड़ गया और लोगों से गाली-गलौज करते हुए झगड़ा करने लगा।

ऐसे में लोगों की भीड़ ने इकबाल को पकड़ लिया, जबकि उसका दूसरा साथी वहां से भाग निकला। भीड़ ने इकबाल की जमकर पिटाई कर दी जिससे वह घायल हो गया। 

देर रात एसएमएस अस्पताल में इलाज के दौरान युवक ने दम तोड़ दिया।

वह रामगंज इलाके के नजदीक फूटा खुर्रा इलाके का रहने वाला था। 

झगड़े की सूचना मिलते ही सुभाष चौक पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और स्थिति को संभालने की कोशिश की। 

लेकिन इकबाल पक्ष के लोगों ने सुभाष चौक थाने को घेर लिया। थाने के घेराव की सूचना मिलते ही डीसीपी नॉर्थ, एडिशनल कमिश्नर, रामगंज थाने, माणक चौक थाने, ब्रह्मपुरी थाना और लाइन से भी जाब्ता मौके पर पहुंचा। 

Must Read: कहा- लाल डायरी जीत का नहीं, जेल का दावा, मैं इसे सौंपने को तैयार

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :