भाजपा का बढ़ा कुनबा: कांग्रेस को झटका देकर ये सब आए BJP में

कांग्रेस को झटका देकर ये सब आए BJP में
BJP
Ad

Highlights

शनिवार का दिन राजस्थान की सियासत में बेहद खास रहा। जहां सीएम गहलोत भाजपाईयों पर निशाना साधते दिखे, तो वहीं भाजपा में कई नेताओं की एंट्री हुई। राजस्थान में आज भाजपा में 17 नेताओं ने कमल खिलाने की शपथ लेते हुए एंट्री की है।

जयपुर | राजस्थान में जहां चुनावों से पहले कांग्रेस नेता अपनी ही सरकार को सवालों के घेरे में घेरते दिख रहे हैं। 

वहीं दूसरी ओर, भाजपा अपना कुनबा बढ़ाने में लगी हुई है।

शनिवार का दिन राजस्थान की सियासत में बेहद खास रहा। जहां सीएम गहलोत भाजपाईयों पर निशाना साधते दिखे, तो वहीं भाजपा में कई नेताओं की एंट्री हुई।

राजस्थान में आज भाजपा में 17 नेताओं ने कमल खिलाने की शपथ लेते हुए एंट्री की है।

इस दौरान भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि, आज कांग्रेस की हालत डूबती हुई नाँव की तरह हो गई है और प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की नीतियों से प्रभावित होकर आमजन और दूसरे दलों के नेताओं का भाजपा में विश्वास बढ़ता जा रहा है । 

आज जहां कांग्रेस एक ओर कमजोर होती जा रही है वहाँ भाजपा का कारवाँ, अधिक सशक्त और मजबूत होता जा रहा है। 

निष्काषित नेताओं की घर वापसी

भाजपा से निष्काषित कई पूर्व विधायकों ने भी एक बार फिर से घर वापसी करते हुए पार्टी जॉइन की।

डीडी कुमावत, सिकराय से पूर्व विधायक रही गीता वर्मा और अखिल भारतीय रावणा राजपूत सेवा संस्थान की अध्यक्ष ममता राठौड़ भी भाजपा में शामिल हुईं।

कांग्रेस को झटका देकर ये सब आए भाजपा में

बढ़ते अपराधों को लेकर सवालों के घेरे में घिरी कांग्रेस को झटका देते हुए पिछले विधानसभा चुनावों में प्रत्याशी रहे डॉ शिवचरण कुशवाह के अलावा पूर्व विधायक रविन्द्र सिंह बोहरा, विवेक सिंह बोहरा आज भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए।

इन्होंने भी ज्वॉइन की BJP

मोदी सरकार की नीतियों एवं विकास कार्यों से प्रभावित होकर माकपा से पूर्व विधायक रहे पवन दुग्गल उनकी पत्नी रानी दुग्गल, विष्णु भांभू भी भाजपा में शामिल हुए।

कांग्रेस-माकपा के अलावा बसपा से विधानसभा चुनाव लड़ चुके लल्लूराम बैरवा, रिंकी वर्मा, पूर्व सांसद धन सिंह रावत ने भी कमल खिलाने के लिए भाजपा का दामन थाम लिया।

IAS और IPS भी हुए शामिल

पार्टी नेताओं के अलावा भी भाजपा में रिटायर्ड आईएएस और आईपीएस अधिकारियों की भी एंट्री हुई। 

इनमें पूर्व आईएएस डॉ सत्यपाल सिंह, मनोज शर्मा, रिटायर्ड अतिरिक्त आयुक्त दिनेश रंगा ने भाजपा जॉइन की।

इसके अलावा पूर्व आईपीएस जसवंत संपतराम भी शामिल रहे। बता दें कि इनके पिता 6 बार विधायक और मोहनलाल सुखाड़िया व भैरों सिंह शेखावत सरकार में मंत्री भी रहे हैं। 

इन सभी का भाजपा प्रदेश कार्यालय में प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी, नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने स्वागत करते हुए पार्टी जॉइन करवाई।

Must Read: भाजपा युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष गोपाल माली के विरूद्ध FIR दर्ज

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :