गजेंद्र सिंह शेखावत मानहानि मामला: सीएम अशोक गहलोत पेश, वकील की मांग सुनवाई टाले, कोर्ट ने 28 अगस्त दी अगली तारीख

सीएम अशोक गहलोत पेश, वकील की मांग सुनवाई टाले, कोर्ट ने 28 अगस्त दी अगली तारीख
Gajendra Singh Shekhawat - Ashok Gehlot
Ad

Highlights

सीएम गहलोत के वकील ने सुनवाई टालने की मांग कोर्ट से की जिसे कोर्ट ने ठुकराते हुए अगली तारीख दे दी है। इस मामले को लेकर सोमवार को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई हुई, जिसमें सीएम गहलोत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पेश हुए।

जयपुर | राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के पैरों की चोट से उभरने के बीच अब एक बार फिर से उनकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। 

भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत (Gajendra Singh Shekhawat) द्वारा सीएम गहलोत के खिलाफ मानहानि के मामले को लेकर सीएम अशोक गहलोत परेशानी में आ सकते हैं। 

सीएम गहलोत के वकील ने सुनवाई टालने की मांग कोर्ट से की जिसे कोर्ट ने ठुकराते हुए अगली तारीख दे दी है। 

इस मामले को लेकर सोमवार को दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई हुई, जिसमें सीएम गहलोत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पेश हुए।

सुनवाई के दौरान कोर्ट में पेश हुए सीएम गहलोत के वकील की ओर से कहा गया कि शिकायतकर्ता को भी कोर्ट में सुनवाई के लिए पेश होना चहिए।

जिस पर मंत्री गजेंद्र सिंह के वकील का जवाब रहा कि मामले की सुनवाई पर सेशन कोर्ट ने कोई स्टे नहीं लगाया गया है।

इसके बाद कोर्ट ने मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के वकील को मामले से जुड़े सभी दस्तावेजों को सीएम गहलोत के वकीलों को देने का निर्देश दिया।

सीएम गहलोत के वकील ने कहा कि इस मामले में कोई अर्जेंसी नहीं है, हमने सेशन कोर्ट में कोर्ट की कार्यवाही पर रोक लगाने की मांग की है और सुनवाई चल रही है।

16 सितंबर को सेशन कोर्ट में सुनवाई होनी है ऐसे में तब तक के लिए सुनवाई टालनी चहिए, लेकिन कोर्ट ने इसे अस्वीकार करते हुए अगली सुनवाई 28 अगस्त को तय कर दी है। 

ऐसे में अब इस मामले की अगली सुनवाई राउज एवेन्यू कोर्ट में 28 अगस्त सुबह 11 बजे होगी। 

आखिर मामला क्या है ?

दरअसल, ये पूरा मामला संजीवनी घोटाले को लेकर है। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर संजीवनी घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया था।

ऐसे में गजेंद्र सिंह शेखावत ने सीएम गहलोत के खिलाफ दिल्ली की अदालत में मानहानि का केस दर्ज कराया था।

गौरतलब है कि संजीवनी घोटाले में प्रदेश के लाखों निवेशकों से करोड़ों रुपये की ठगी हुई है। 

जिसके बाद सीएम गहलोत ने अपनी सफाई में कहा कि उन्होंने जो कुछ भी कहा वो कथित घोटाले पर राजस्थान पुलिस की एसओजी की रिपोर्ट पर आधारित है। 

Must Read: ब्रह्मकुमारी आश्रम में पीएम मोदी ने किया विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास, रोजगार को लेकर कही ये बात, Watch

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :