राजस्थान में सियासी खेला: BJP ने काटा सूर्यकांता व्यास का टिकट तो सीएम अशोक गहलोत पहुंच गए उनके घर, क्या कांग्रेस में हो रही शामिल?

BJP ने काटा सूर्यकांता व्यास का टिकट तो सीएम अशोक गहलोत पहुंच गए उनके घर, क्या कांग्रेस में हो रही शामिल?
Ashok Gehlot - Suryakanta Vyas
Ad

Highlights

सीएम अशोक गहलोत मंगलवार देर रात 12.30 बजे भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास (Suryakanta Vyas) के घर भी पहुंच गए। इस दौरान सूर्यकांता व्यास ने मुख्यमंत्री गहलोत अपने आवास पर शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया। यहां से जीजी का टिकट कटने के बाद कांग्रेस ने अब सियासी चाल खेलना शुरू कर दिया है। 

जोधपुर | राजस्थान भाजपा में विधानसभा चुनाव के लिए टिकटों को लेकर मची बगावत का कांग्रेस पार्टी फायदा उठाने में लगी हुई है। 

इसके लिए कांग्रेस सियासी रणनीति के तहत भाजपा खेमे में सेंध मारने की कोशिश कर रही है। जोधपुर के सूरसागर से भाजपा की वरिष्ठ विधायक सूर्यकांता व्यास का भाजपा ने टिकट काट दिया है। 

ऐसे में कांग्रेस मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने सियासी रणनीति के तहत बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन विधायकों ने उनकी तारीफ की है, भाजपा ने उनके टिकट काट दिए हैं।

इसी के साथ सीएम अशोक गहलोत मंगलवार देर रात 12.30 बजे भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास (Suryakanta Vyas) के घर भी पहुंच गए। 

इस दौरान सूर्यकांता व्यास ने मुख्यमंत्री गहलोत अपने आवास पर शॉल ओढ़ाकर स्वागत किया। 

सीएम गहलोत ने सूर्यकांता व्यास के घर पहुंच कर उनसे मुलाकात के साथ ही उनका टिकट कटने पर अफसोस भी जताया। 

जीजी ने मेरी तारीफ की, इसलिए काट दिया टिकट

सीएम गहलोत ने भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास से मुलाकात कर कहा कि जीजी ने उनकी तारीफ की थी, इसलिए बीजेपी ने इस बार उनका टिकट दिया है। 

इसी के साथ सूरसागर सीट पर कांग्रेस ने अभी तक अपना कोई भी उम्मीदवार नहीं उतारा है। 

ऐसे में सियासी गलियारों में चर्चा है कि सीएम गहलोत किसी भी तरह से जीजी सूर्यकांता व्यास को मनाकर कांग्रेस में शामिल करने के लिए अचानक उनके घर पर मिलने पहुंचे।

20 साल से कांग्रेस को जीत का इंतजार

बता दें कि सूरसागर विधानसभा सीट लंबे समय से भाजपा का गढ़ रही है।

साल 2003 से यहां पर बीजेपी का राज रहा है और जीजी सूर्यकांता व्यास यहां से लगातार जीत रही है। 

सूर्यकांता व्यास ही यहां से तीन बार की विधायक रही हैं और 20 साल से कांग्रेस यहां जीत हासिल नहीं कर पाई है। 

ऐसे में कांग्रेस के लिए सूरसागर का भाजपा गढ़ जीतना आसान काम नहीं है। 

लेकिन यहां से जीजी का टिकट कटने के बाद कांग्रेस ने अब यहां सियासी चाल खेलना शुरू कर दिया है। 

क्या कहा भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास ने ?

भाजपा से टिकट कटने और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का उनके घर पहुंचने को लेकर विधायक सूर्यकांता व्यास का कहना है कि मुख्यमंत्री गहलोत मेरे घर आए थे, लेकिन उनके साथ कोई  चुनावी चर्चा नहीं हुई। गहलोत के और हमारे पारिवारिक संबंध है।

सूर्यकांता का टिकट काटकर देवेंद्र जोशी को दिया

भाजपा ने सूरसागर सीट से सूर्यकांता व्यास का टिकट काटकर देवेंद्र जोशी को चुनावी मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस ने अभी तक इस सीट पर पत्ते नहीं खोले हैं। टिकट कटने पर सधे शब्दों में सूर्यकांता की नाराजगी भी जाहिर है। 

हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि इसका मतलब ये नहीं की मैं कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन कर लूंगी। 

पार्टी ने टिकट नहीं दिया तो क्या हुआ। मैं पार्टी के साथ मिलकर पार्टी को मजबूत करने का कार्य करूंगी। मेरी भाजपा के प्रति निष्ठा है और यह कायम रहेगी।

Must Read: जीवाराम और पूराराम पहुंचे बीजेपी कार्यालय, जालोर—सिरोही लोकसभा सीट पर समीकरण कैसे रहेंगे

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :