महिला एवं बाल विकास: उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने 6204 मिनी आंगनबाड़ियों को क्रमोन्नत कर मुख्य आंगनबाड़ी बनाए जाने की दी स्वीकृति

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने 6204 मिनी आंगनबाड़ियों को क्रमोन्नत कर मुख्य आंगनबाड़ी बनाए जाने की दी स्वीकृति
Deputy Chief Minister Diya Kumari
Ad

Highlights

दिया कुमारी ने बताया कि इन 6204 मिनी आंगनबाड़ियों पर कार्यरत मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ही मुख्य आँगनबाड़ी कार्यकर्ता में क्रमोन्नत कर दिया जाएगा। वही इन 6204 क्रमोन्नत आंगनबाड़ियों पर 6204 नवीन सहायिकाओं की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी

जयपुर। उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत समेकित बाल विकास सेवाओं के सुदृढ़ीकरण के लिए 6204 मिनी आंगनबाड़ियों को क्रमोन्नत कर मुख्य आंगनबाड़ी बनाए जाने की स्वीकृति दी है। उन्होंने महिला एवं बाल विकास शासन सचिव  कृष्ण कुणाल को निर्देश दिए हैं कि क्रमोन्नत आंगनबाड़ियों को 1 मार्च 2024 से शुरू कर दिया जाए।

दिया कुमारी ने बताया कि प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के विजन के अनुसार राज्य सरकार मुख्यमंत्री  भजन लाल के नेतृत्व में बालक, बालिकाओं के स्वस्थ, शिक्षित व सुपोषित विकास करने और महिलाओं के सशक्तीकरण करने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में 6204 मिनी आंगनबाड़ियों को मुख्य आंगनबाड़ियों में क्रमोन्नत किया गया है

ताकि प्रदेश के हर कोने में माँ और बच्चों को राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही योजनाओं का लाभ बेहतर तरीके से मिल सके। इससे जहाँ माताओं, बच्चों को सुपोषित भोजन मिलना आसान हो जाएगा वहीं बच्चों को शाला पूर्व शिक्षा भी अच्छे से मिल सकेगी।

उल्लेखनीय है कि अब तक प्रदेश में मिनी आंगनबाड़ी संचालित होने से केवल एक मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हुआ करती थी। इससे उस मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को मिनी आंगनबाड़ी संचालित करने में कठिनाई आती थी। अब इन 6204 मिनी आंगनबाड़ियों को मुख्य आंगनबाड़ी बनाने से यह समस्या समाप्त हो जाएगी। मुख्य आंगनबाड़ी पर एक कार्यकर्ता और एक सहायिका होने से आंगनबाड़ी के संचालन में अधिक सुविधा होती है।

6204 नवीन सहायिकाओं की भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी

दिया कुमारी ने बताया कि इन 6204 मिनी आंगनबाड़ियों पर कार्यरत मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को ही मुख्य आँगनबाड़ी कार्यकर्ता में क्रमोन्नत कर दिया जाएगा। वही इन 6204 क्रमोन्नत आंगनबाड़ियों पर 6204 नवीन सहायिकाओं की भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

Must Read: चिरंजीवी दुर्घटना बीमा योजना प्रदेश में लागू, 10 लाख रुपए तक मिल सकेगा क्लेम

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :