भारतीय संसद पर हमला : जब संसद पर हमले के मुद्दे पर चन्द्रशेखर ने वाजपेयी सरकार को धो डाला था

Ad

Highlights

प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, गृहमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, रक्षा मंत्री जसवंत सिंह जैसे नेताओं की जिस तरह से चन्द्रशेखर ने इस सम्बोधन में खिंचाई की तथा अपनी बात जिस अंदाज से रखी। वह सुने—देखे जाने लायक है। संसद पर हमले को 22 साल बीत गए हैं। दो युवकों के संसद भवन में कूद जाना चर्चा का विषय बना हुआ है।

नई दिल्ली । पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चंद्रशेखर का यह सम्बोधन एक दस्तावेज है भारतीय संसद के इतिहास में। इस सम्बोधन में देश के प्रति चिंता है और संसद की सुरक्षा को  लेकर एक सांसद के प्रभावी विचार भी। प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, गृहमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, रक्षा मंत्री जसवंत सिंह जैसे नेताओं की जिस तरह से चन्द्रशेखर ने इस सम्बोधन में खिंचाई की तथा अपनी बात जिस अंदाज से रखी। वह सुने—देखे जाने लायक है। संसद पर हमले को 22 साल बीत गए हैं। दो युवकों के संसद भवन में कूद जाना चर्चा का विषय बना हुआ है। देश में संसद की सुरक्षा और संरक्षा के सवाल वहीं खड़े हैं, जहां पहले खड़े थे। ऐसे में युवा तुर्क चन्द्रशेखर बलिया का यह सम्बोधन समीचीन है।

Must Read: यह कोई स्टेशन नहीं है फिर भी वन्दे भारत भी यहां होती है धीमी

पढें वीडियो खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :