हिम्मत सिंह राठौड़: पूर्व कमांडो ने स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो का गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड तोड़ा

पूर्व कमांडो ने स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो का गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड तोड़ा
पूर्व कमांडो हिम्मत सिंह राठौड़ ने वर्ल्ड रिकॉर्ड क्रैक किया
Ad

Highlights

रिकॉर्ड को बनाने का मकसद सिर्फ युवाओं को नशे से दूर रहने का संदेश देना

वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड बनाने वाले स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो लोपेज ने 1 लाख रुपए से अधिक मूल्य के जूते पहने, पूर्व कमांडो हिम्मत सिंह ने 500 रुपए के जूते पहनकर गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड क्रैक किया 

जयपुर | राजधानी जयपुर में पूर्व कमांडो हिम्मत सिंह राठौड़ ने एक और वर्ल्ड रिकॉर्ड क्रैक(Crack)  करके, करीब 24 घंटे से भी कम समय में लगातार 70 हजार 679 सीढ़ियां चढ़कर स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो लोपेज़ रोड्रिगेज का रिकॉर्ड तोड़ने का दावा किया है | पूर्व कमांडो ने 20 मंजिला की 439 सीढ़ियां चढ़ते हुए 161 राउंड पूरे करके, क्रिश्चियन रॉबर्टो का 70 हजार 200 से अधिक सीढ़ियां चढ़ने के गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड तोड़ा है |

युवाओं को नशे से दूर रहने के लिए बनाया रिकॉर्ड 

हिम्मत सिंह इससे पहले भी सीढ़ियां चढ़ने उतरने का रिकॉर्ड बना चुके हैं | पूर्व कमांडो हिम्मत सिंह राठौड़ ने कहा कि इस रिकॉर्ड को बनाने का मकसद सिर्फ युवाओं को नशे से दूर रहने का संदेश देना है | आज के दौर में 15-16 साल के बच्चे भी नशा करते हैं, जीवन में कोई मकसद नहीं रखते |


ये अपील की परिजनों से   

हिम्मत कहते हैं कि उनका मन तो एक लाख सीढ़ियां चढ़ कर नया कीर्तिमान बनाने का था, लेकिन गर्मी को देखते हुए दोस्तों और परिवार के सदस्यों ने सिर्फ रिकॉर्ड क्रैक करने तक ही सीढ़ियां चढ़ने दी | उन्होंने कहा कि इस रिकॉर्ड से बच्चों को ये प्रेरणा मिले कि जब 40 साल का व्यक्ति 32 साल के व्यक्ति का रिकॉर्ड तोड़ सकता है, तो इसी तरह वो भी कुछ भी कर सकते हैं | राठौड़ ने परिजनों से अपने बच्चों पर ध्यान देने और उनकी गलत आदतों को नजरअंदाज नहीं करने की अपील की |

500 रुपए के जूते पहनकर कीर्तिमान रचा 

पूर्व कमांडो हिम्मत सिंह ने बताया कि उन्होंने 500 रुपए के जूते पहनकर गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड क्रैक किया, जबकि आज से पहले वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड बनाने वाले स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो लोपेज ने 1 लाख रुपए से अधिक मूल्य के जूते पहने थे | उन्होंने कहा कि मन में किसी भी काम को करने की इच्छा होनी चाहिए, कोई भी राह कभी कठिन नहीं होती | यह सही है कि जब कुछ बड़ा करते हो तो मुश्किलें जरूर आएंगी | जब वो सीढ़ियों चढ़ रहे थे तो थकान, कमजोरी कई बार महसूस हुई, लेकिन आंखों के सामने लक्ष्य दिखाई दे रहा था | हिम्मत ने कहा कि एक फौजी कभी किसी मुश्किल से घबराकर हार नहीं मानता, वो उसका सामना करता है |


 विश्व रिकॉर्ड का होगा दावा 

हिम्मत सिंह ने 24 घंटे से भी कम समय में लगातार 70 हजार 679 सीढ़ियां चढ़कर स्पेन के क्रिश्चियन रॉबर्टो लोपेज़ रोड्रिगेज का रिकॉर्ड तोड़ा | कमांडो ने 20 मंजिला की 439 सीढ़ियां चढ़ते हुए 161 राउंड पूरे करके क्रिश्चियन रॉबर्टो का 70 हजार 200 से अधिक सीढ़ियां चढ़ने के गिनीज वर्ल्ड ऑफ रिकॉर्ड को क्रैक(crack) किया | अब इस रिकॉर्ड से संबंधित कैमरा रिकॉर्डिंग(recording), स्टॉपवॉच(stopwatch) और अन्य तथ्यों को गिनीज बुक के मुख्यालय में भेजा जाएगा | इसके बाद संभव है राजस्थान के हिम्मत सिंह राठौड़ का यह नया रिकॉर्ड गिनीज बुक का रिकॉर्ड्स में शामिल होकर विश्व रिकॉर्ड बन जाए |

24 घंटे से कम समय में बनाया रिकॉर्ड

सोमवार शाम 5:30 बजे हिम्मत सिंह राठौड़ ने जयपुर की 20 मंजिला इमारत में सीढ़ियां चढ़ने की शुरुआत की और मंगलवार को 5.22 बजे शाम तक पूरा कर लिया | हिम्मत सिंह के इस रिकॉर्ड की मॉनिटरिंग सरकारी स्कूल के फिजिकल(Physical) टीचर की टीम ने किया | फिजिकल(Physical) टीचर संतोष राठौड़ ने बताया कि हिम्मत सिंह ने समय से पहले ही रिकॉर्ड को क्रैक कर लिया | उनके सीढ़ियां चढ़ने की पूरी रिकॉर्डिंग कैमरे में रिकॉर्ड की गई | इसके साथ हर राउंड की लिस्टिंग(listing) की गई थी | यह सारा रिकॉर्ड गिनीज बुक  के रिकॉर्ड के मुख्यालय में भेजा जाएगा व तथ्य का सत्यापन होगा | पूरी आशा है कि 24 घंटे में सर्वाधिक सीढ़ियां चढ़ने का रिकॉर्ड जयपुर के हिम्मत सिंह राठौड़  के नाम का होगा |

बच्चों को आर्मी के लिए फ्री ट्रेनिंग देते हैं 

हिम्मत सिंह राठौड़ ने साल 2003 में राजपूताना राइफल्स(Rajputana Rifles) में राइफल मैन(rifle man) के तौर पर जॉइन किया था। उनकी पहली पोस्टिंग दिल्ली में हुई। इसके बाद जम्मू-कश्मीर के पुंछ में उनकी तैनाती की गई, जहां उन्होंने आतंकवादियों के खिलाफ चलाए गए ऑपरेशन रक्षक(operation protector) में हिस्सा लिया था। इस ऑपरेशन के बाद वहां पर आतंकवादी गतिविधियां कम हो गई थी। साल 2020 में रिटायर हुए, इस दौरान चाइना बॉर्डर पर डोकलाम में तैनात थे।

हिम्मत सिंह पिछले 3 साल से जयपुर में कालवाड़ रोड स्थित सरकारी ग्राउंड पर बच्चों को आर्मी के लिए फ्री ट्रेनिंग दे रहे हैं। 3 साल में करीब 100 बच्चों का सिलेक्शन(Selection) हो चुका है। वर्तमान में राठौड़ 30 बच्चों को ट्रेनिंग दे रहे हैं।

Must Read: ब्रह्माकुमारीज संस्थान के शांतिवन में आयोजित सम्मेलन का महामहिम करेंगी शुभारंभ

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :