ट्रैफिक व्यवस्था: अजमेर परिवहन एवं यातायात विभाग की बैठक_ अफसर सुधारें ट्रैफिक के हालात, लगना चाहिए कि शहर स्मार्ट है-विधानसभा अध्यक्ष

अजमेर परिवहन एवं यातायात विभाग की बैठक_ अफसर सुधारें ट्रैफिक के हालात, लगना चाहिए कि शहर स्मार्ट है-विधानसभा अध्यक्ष
signal traffic
Ad

Highlights

 विधानसभा अध्यक्ष  वासुदेव देवनानी ने बुधवार को शहर की यातायात संबंधी बैठक ली। उन्होंने पुलिस, परिवहन एवं यातायात विभाग को निर्देश दिए कि शहर में ट्रैफिक की व्यवस्था  को तुरंत प्रभाव से सुधारा जाए। अब पुराने ढर्रे के बजाए पूरी तरह नियमों के अनुसार काम किया जाए। शहर में सबसे बड़ी समस्या बेतरतीब यातायात की है। इसे सुधारा जाए

जयपुर । विधानसभा अध्यक्ष  वासुदेव देवनानी ने पुलिस, परिवहन एवं यातायात विभाग को अजमेर शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को स्मार्ट बनाने की जिम्मेदारी दी है। उन्होंने कहा कि अब तक जैसा चलता रहा, उसे बदलें। ट्रैफिक को पूरी नियमों और आमजन की सुविधा को देखते हुए संचालित किया जाए। निजी बसें, ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा और सिटी बसें निर्धारित रूट और स्टैण्ड पर ही चलें। यातायात समस्या वाले क्षेत्रों के लिए विशेष प्लान बना कर काम  किया जाए।

  विधानसभा अध्यक्ष  वासुदेव देवनानी ने बुधवार को शहर की यातायात संबंधी बैठक ली। उन्होंने पुलिस, परिवहन एवं यातायात विभाग को निर्देश दिए कि शहर में ट्रैफिक की व्यवस्था  को तुरंत प्रभाव से सुधारा जाए। अब पुराने ढर्रे के बजाए पूरी तरह नियमों के अनुसार काम किया जाए। शहर में सबसे बड़ी समस्या बेतरतीब यातायात की है। इसे सुधारा जाए।

 उन्होंने बताया कि शहर में विभिन्न स्थानों पर अवैध बस अड्डे संचालित है । इनमें गौरव पथ देवनारायण मंदिर, जवाहर रंगमंच के पास, आजाद पार्क के सामने, एसपी ऑफिस के पीछे, कलेक्ट्रेट के सामने, रोडवेज बस स्टैंड के सामने, कोर्ट परिसर के समीप अवैध वाहनों का संचालन दिनभर होता है। साथ ही टेंपो और सिटी बस  निर्धारित स्टैंड पर रुकने के बजाय कहीं भी खड़ी हो जाती है। इससे यातायात प्रभावित होता है एवं दुर्घटना की संभावना रहती है। इस पर त्वरित प्रभाव से कार्यवाही की जाए।

 उन्होंने अजमेर शहर में विभिन्न चौराहों पर निष्क्रिय ट्रैफिक सिग्नल चालू करने, सड़कों पर ब्रेकर नियमानुसार बनवाने, शहर के मुख्य चौराहों पर जेब्रा लाइन बनवाने, क्षतिग्रस्त डिवाइडर दुरुस्त करवाने को अधिकारियों को निर्देश दिए । जेएलएन अस्पताल, रोडवेज बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन के बाहर बड़ी संख्या में ई-रिक्शा अव्यवस्था फैला रहे हैं। ई-रिक्शा का संचालन नियोजन अनुसार किया जाए।

 विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि जवाहरलाल नेहरू अस्पताल के बाहर एम्बुलेंस, ढाबा, दुकानों को अतिक्रमण नहीं करने दिया जाए। इन्हें नियोजित रखा जाए। इसके कारण अस्पताल की सड़क सिंगल रोड़ में तब्दील हो गई है। इस पर यातायात पुलिस द्वारा सख्त कार्यवाही की जाए। शहर में निर्धारित स्थानों पर ट्रैफिक गुमटी लगवाई जाए।

उन्होंने बताया कि रोडवेज बस स्टेण्ड के बाहर जयपुर के लिए अवैध मिनी बसों के संचालन पर पुलिस द्वारा कार्यवाही की जाए। आगरा गेट पर रूट डायवर्ट को सही किया जाये। सेवन वन्डर के बाहर ऐक्सीडेंटल जॉन बना हुआ है। इसे सुधारा जाए। मार्टिण्डल ब्रिज पर, रामप्रसाद घाट पर पुलिस की तैनाती की जाए। देहली गेट, दरगाह बाजार, नया बाजार, चुडी बाजार आदि  शहरी क्षेत्रा में बिना परमिट के चल रहे टेम्पों एवं बैट्री रिक्शा पर कार्यवाही की जाए।

 उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित किया कि शहर में पार्किंग व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए जाएं। रामप्रसाद घाट से मेरवाडा स्टेट तक अवैध रूप से गाड़िया खड़ी रहती है उन्हें निर्धारित पार्किग स्थान पर खडा करवाए। बाल भैरव मंदिर से देहली गेट एवं सोभराज के पीछे ऋषि घाटी तक अवैध वाहन खड़े करने पर कार्यवाही की जाए। कडक्का चौक पर सुगम यातायात व्यवस्था के लिए वन-वे किया जाए। इसी तरह डिग्गी चौक में भी यातायात सुधारा जाए।

Must Read: जेपी नड्डा ने दिया जीत का मूल मंत्र, कहा- हंसते खेलते पार्टी का काम करो, इसी से नतीजे आते हैं..

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :