चुनावों में भारी न पड़ जाए: राजस्थान हुआ 50 जिलों का और बदल गया विधानसभा सीटों का गणित

राजस्थान हुआ 50 जिलों का और बदल गया विधानसभा सीटों का गणित
Ad

Highlights

नवगठित जिलों में अभी भी जैसलमेर सबसे बड़ा जिला है और उसमें अभी भी 8 विधानसभा सीटें मौजूद हैं, लेकिन कई जिले ऐसे भी जिनका सियासी गणित केवल एक-एक विधानसभा सीट तक ही सिमट कर रह गया है।

जयपुर | देश में क्षेत्र की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य राजस्थान अब 50 जिलों और 10 संभागों वाला प्रदेश बन गया है।

ऐसे में जहां राजस्थान का भूगोल बदला है तो वहीं सियासी भूचाल लाने वाली विधानसभा सीटें भी इधर से उधर हो गई हैं। 

नवगठित जिलों में अभी भी जैसलमेर सबसे बड़ा जिला है और उसमें अभी भी 8 विधानसभा सीटें मौजूद हैं, लेकिन कई जिले ऐसे भी जिनका सियासी गणित केवल एक-एक विधानसभा सीट तक ही सिमट कर रह गया है।

राजस्थान में चार महीने बाद विधानसभा चुनाव होने हैं और विधानसभा सीटों का बिगड़ा गणित पार्टियों को भारी भी पड़ सकता है। 

क्योंकि अभी तक कौनसी तहसील किस जिले में आएगी, यह तो तय हो चुका है, लेकिन कौनसी विधानसभा कहां होगी इस पर स्थिति साफ नहीं हो सकी है। 

ऐसे समझें, विधानसभा सीटों का गणित

- जयपुर शहर: 8 विधानसभाएं 
आदर्श नगर, सिविल लाइंस, हवामहल, झोटवाड़ा, किशनपोल, मालवीयनगर, विद्याधरनगर, सांगानेर।

- जयपुर ग्रामीण: 8 विधानसभाएं 
बस्सी, चाकसू, जम्वा-रामगढ़ा, चौमू, फुलैरा, शाहपुरा, बगरू, आमेर।

- उदयपुर: 7 विधानसभाएं 
उदयपुर शहर, उदयपुर ग्रामीण, गोगुंदा, झाड़ोल, खेरवाड़ा, मावली, वल्लभनगर।

- सीकर: 6 विधानसभाएं 
दांता रामगढ़, धोद, फतेहपुर, खंडेला, लक्ष्मणगढ़, सीकर।

- कोटा: 6 विधानसभाएं 
कोटा उत्तर, कोटा दक्षिण, लाडपुरा, रामगंज मंडी, पीपलदा, सांगोद।

- अलवर: 6 विधानसभाएं 
अलवर शहर, अलवर ग्रामीण, कठूमर, राजगढ़-लक्ष्मणगढ़, थानागजी, रामगढ़।

- बीकानेर: 6 विधानसभाएं 
बीकानेर पूर्व, बीकानेर पश्चिम, डूंगरगढ, कोलायत, लूणकरनसर, नोखा।

- चूरू: 6 विधानसभाएं 
चूरू, रतनगढ़, सादुलपुर, सरदारशहर, सुजानगढ़, तारानगर।

- दौसा: 5 विधानसभाएं 
दौसा, लालसोट, बांदीकुई, सिकराय, महवा।

- हनुमानगढ़: 5 विधानसभाएं 
भद्रा, हनुमानगढ़, नोहर, पीलीबंगा, सांगरिया।

- जोधपुर ग्रामीण: 5 विधानसभाएं 
लूणी, भोपालगढ़, ओसियां, शेरगढ़, बिलाड़ा।

- चित्तौड़गढ़: 5 विधानसभाएं 
बड़ी सादड़ी, बेगूं, चित्तौड़गढ़, कपासन, निम्बाहेड़ा।

- झुंझुनूं: 5 विधानसभाएं 
झुंझुनूं, मंडावा, नवलगढ़, पिलानी, सूरजगढ़।

- नागौर: 5 विधानसभाएं 
नागौर, डेगाना, जायल, खींवसर, मेड़ता।

- डीडवाना-कुचामन: 5 विधानसभाएं 
डीडवाना, मकराना, परबतसर, नावां, लाडनू।

- बांसवाड़ा: 5 विधानसभाएं 
बांसवाड़ा, कुशलगढ़, गढ़ी, घाटोल, बागीदौरा।

- पाली: 5 विधानसभाएं
बाली, मारवाड़ जंक्शन, पाली, सोजत, सुमेरपुर।

- अजमेर: 5 विधानसभाएं
अजमेर उत्तर, अजमेर दक्षिण, किशनगढ़, नसीराबाद, पुष्कर।

- भीलवाड़ा: 5 विधानसभाएं 
आसींद, भीलवाड़ा, मांडल, सहाड़ा, मांडलगढ़।

- राजसमंद: 4 विधानसभाएं 
राजसमंद, नाथद्वारा, भीम, कुंभलगढ़।

- नीम का थाना: 4 विधानसभाएं 
खेतड़ी, श्रीमाधोपुर, उदयपुरवाटी, नीम का थाना।

- टोंक: 4 विधानसभाएं 
देवली-उनियारा, मालपुर, निवाईं, टोंक।

- झालावाड़: 4 विधानसभाएं 
डग, झालरापाटन, खानपुर, मनोहरथाना।

- धौलपुर: 4 विधानसभाएं 
बाड़ी, बासेड़ी, धौलपुर, राजाखेड़ा

- डूंगरपुर: 4 विधानसभाएं 
आसपुर, चौरासी, डूंगरपुर, सागवाड़ा।

- गंगानगर: 4 विधानसभाएं 
गंगानगर, करणपुर, सूरतगढ़, सादुलशहर। 

- भरतपुर: 4 विधानसभाएं 
बयाना, भरतपुर, नदबई, वैर।

- बाड़मेर: 4 विधानसभाएं 
बाड़मेर, चौहट्‌टन, शिव, गुढ़ामलानी।

- ब्यावर: 3 विधानसभाएं 
ब्यावर, मसूदा, जैतारण।

- बालोतरा: 3 विधानसभाएं 
पचपदरा, सिवान, बायतू।

- बारां: 3 विधानसभाएं 
अंता, बारां-अटरू, छबड़ा, किशनगंज।

- खैरथल: 3 विधानसभाएं 
किशनगढ़बास, तिजारा, मुंडावर।

- डीग: 3 विधानसभाएं 
डीग-कुम्हेर, नगर, कामां।

- अनूपगढ़: 3 विधानसभाएं 
रायसिंहनगर, खाजूवाला, अनूपगढ़।

- जालौर: 3 विधानसभाएं 
जालौर, अहोर, भीनमाल।

- बूंदी: 3 विधानसभाएं 
बूंदी, हिंडौली, केशवरायपाटन।

- करौली: 3 विधानसभाएं 
हिंडौन, करौली, सापोटरा।

- गंगापुर सिटी: 3 विधानसभाएं 
गंगापुर, बामनवास, टोडाभीम। 

-जोधपुर शहर: 3 विधानसभाएं 
जोधपुर, सरदारपुर, सूरसागर।

- सिरोही: 3 विधानसभाएं 
सिरोही, रेवदर, पिंडवाड़ा-आबू। 

- सवाईमाधोपुर: 2 विधानसभाएं
खंडार, सवाईमाधोपुर। 

- शाहपुरा: 2 विधानसभाएं 
जहाजपुर, शाहपुरा।

- प्रतापगढ़: 2 विधानसभाएं 
प्रतापगढ़, धरियावद। 

- फलौदी: 2 विधानसभाएं
फलौदी, लोहावट।

- जैसलमेर: 2 विधानसभाएं 
जैसलमेर, पोखरण।

- सांचौर: 2 विधानसभाएं 
सांचौर, रानीवाड़ा।

- केकड़ी: 1 विधानसभा - केकड़ी

- सलूम्बर: 1 विधानसभा - सलूम्बर

- दूदू: 1 विधानसभा - दूदू

Must Read: सीएम गहलोत की एक घोषणा ने बदल दिया राजस्थान का भूगोल

पढें मनचाही खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :