शांति धारीवाल के विवादित बोल: कहा- लव अफेयर के कारण कोटा में हो रहे सुसाइड, पहले बताया था मर्दों का प्रदेश

कहा- लव अफेयर के कारण कोटा में हो रहे सुसाइड, पहले बताया था मर्दों का प्रदेश
Shanti Dhariwal
Ad

Highlights

राजस्थान को मर्दों का प्रदेश कहकर विवादित बयान देने वाले शांति धारीवाल ने अब शिक्षानगरी कोटा में सुसाइड़ के बढ़ते मामलों को लेकर बेतुका बयान दिया है। शांति धारीवाल ने बच्चों की सुसाइड की वजह को ’अफेयर’ को बताया है। 

कोटा | राजस्थान की शिक्षानगरी कोटा अब सुसाइड नगरी बनती दिख रही है। इस साल कोटा में 25 स्टूडेंट्स ने सुसाइड कर लिया है। 

कोटा में लगातार हो रही छात्र-छात्राओं की आत्महत्या ने प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया है। 
वहीं, उनके एक मंत्री तो आत्महत्याओं के मामलों को दूसरी ओर ही ले जाते दिख रहे हैं। 

कोटा में चंबल रिवर फ्रंट का लोकार्पण करने वाले स्वायत शासन मंत्री (यूडीएच) मंत्री शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) एक बार फिर से विवादों में आ गए हैं। 

पहले राजस्थान को मर्दों का प्रदेश कहकर विवादित बयान देने वाले शांति धारीवाल ने अब शिक्षानगरी कोटा में सुसाइड़ के बढ़ते मामलों को लेकर बेतुका बयान दिया है।

सबसे बड़ी बात ये है कि उन्होंने ये बयान भी मुख्यमंत्री अशोक  गहलोत के सामने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिया है। 

शांति धारीवाल ने बच्चों की सुसाइड की वजह को ’लव-अफेयर’ को बताया है। 

साथ ही ये भी कहा है कि कोटा पार्क से कोटा सुसाइड़ रूकने में मदद मिलेगी।

मीडिया से बातचीत में मंत्री धारीवाल कहा कि हाल ही में जिस स्टूडेंट ने सुसाइड किया है उसके पास अफेयर का लेटर भी मिला है।

कोटा पार्क रोकेगा सुसाइड़

विवादित बयान देकर मंत्री महोदय ने आगे कहा कि कई बार ऐसे भी सुसाइड हुए हैं जिनमें स्टूडेंट्स आए और 15 दिन के भीतर ही आत्महत्या कर ली। 

अब इसका क्या कारण हो सकता है। रिलेशनशिप की वजह से सुसाइड होता है।

इन सब कारणों को देखते हुए हमने ऐसा सोचा कि यहां पर एक ऐसा पार्क बनना चाहिए जिससे उनका टेंशन कम हो पाए। 

UDH मंत्री के ऐसे बयानों ने उन्हें घेर लिया है। मंत्री स्टूडेंट्स को सुरक्षा मुहैया कराने के बजाए पार्क में एंजॉय करने, उनकी टेंशन कम करने की बात कह रहे हैं। 

मृतक स्टूडेंट के पिता बोले- अगर अफेयर के सबूत हैं तो दिखाएं

शांति धारीवाल के आरोपों पर मृतक स्टूडेंट के पिता ने पलटवार करते हुए कहा है कि उनकी बेटी के साथ छेड़छाड़ होती थी और अगर मंत्री के पास अफेयर को लेकर कोई सबूत हैं तो हमें लाकर दिखाएं। मेरी बेटी ऐसी नहीं थी।

विधायक दिव्या मदेरणा भी खुद को बता चुकी हैं असुरक्षित

बता दें कि प्रदेश में लगातार बढ़ रही आपराधिक घटनाओं, महिलाओं से रेप और छेड़छाड़ जैसी घटनाओं को लेकर खुद कांग्रेस सरकार की विधायक दिव्या मदेरणा भी सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठा चुकी हैं। 

उन्होंने विधानसभा के बाहर कहा था कि प्रदेश में विधायक होने के बाद भी जब मैं ही सुरक्षित महसूस नहीं करती तो दूसरी की क्या बात की जाए। 

आपको बता दें कि झारखंड राज्य के रांची की रहने वाली कोचिंग छात्रा 16 वर्षीय रिचा सिन्हा ने 12 तारीख की रात को फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वह मई में ही कोटा में नीट की तैयारी करने आई थी। इसी मामले को लेकर शांति धारीवाल ने विवादित बयान दिया है।

Must Read: पार्थिव देह को आज पहुंचेगी गांव, अब तक पत्नी और बच्चों को नहीं खबर

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :