Rajasthan: सांचौर पुलिस ने ड्रग्स माफियाओं के करोड़ों के ठिकाने किए फ्रीज

सांचौर पुलिस ने ड्रग्स माफियाओं के करोड़ों के ठिकाने किए फ्रीज
Ad

Highlights

इकट्ठा किए गए ब्योरे को नारकोटिक्स ब्यूरो दिल्ली को भेजा गया। मंगलवार को निर्देश मिलने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ड्रग्स माफिया भभूताराम के 200 वर्ग मीटर में बने करीब 50 लाख के मकान और 744 ग्राम सोने के आभूषणों को फ्रीज कर दिया।

सांचौर, 28 मई: सांचौर पुलिस ने ड्रग्स माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए दाता गांव के दो कुख्यात ड्रग्स माफिया जेताराम और भभूताराम के करोड़ों के दो बंगले फ्रीज कर दिए हैं। यह कार्रवाई सांचौर एसपी हरिशंकर के निर्देशन में की गई है।

पुलिस ने अवैध संपत्ति का ब्योरा जुटाया

कुछ समय पहले, तत्कालीन एसपी सागर राणा ने गंभीर मामलों में 7 अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खोली थी। इसी क्रम में, दाता निवासी जेताराम पुत्र चोखाराम बिश्नोई और भूताराम उर्फ भभुताराम पुत्र चोखाराम विश्नोई के खिलाफ चल रहे एनडीपीएस एक्ट के तहत मामलों में उनकी अवैध संपत्ति का ब्योरा जुटाया गया।

नारकोटिक्स ब्यूरो को रिपोर्ट भेजी गई

इकट्ठा किए गए ब्योरे को नारकोटिक्स ब्यूरो दिल्ली को भेजा गया। मंगलवार को निर्देश मिलने के बाद पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ड्रग्स माफिया भभूताराम के 200 वर्ग मीटर में बने करीब 50 लाख के मकान और 744 ग्राम सोने के आभूषणों को फ्रीज कर दिया।

इसी तरह जेताराम पुत्र चोखाराम के 203 वर्ग मीटर में बने करीब 50 लाख के मकान को भी फ्रीज कर दिया गया।

कुल डेढ़ करोड़ की अवैध संपत्ति कुर्क

इस तरह, कुल डेढ़ करोड़ की अनैतिक गतिविधियों से अर्जित संपत्ति को वित्त मंत्रालय भारत सरकार के सक्षम प्राधिकरण द्वारा कुर्क करने की कार्रवाई की गई।

इन अपराधियों के खिलाफ दर्ज हैं कई मामले

भभुताराम के खिलाफ 7 और जेताराम के खिलाफ 5 मामले दर्ज हैं। दोनों आरोपी लंबे समय से NDPS एक्ट सहित मादक पदार्थों की तस्करी में लिप्त थे।

बीपीएल परिवारों से ताल्लुक रखते हैं आरोपी

बता दें कि भभुताराम और जेताराम दोनों आरोपी किसान परिवारों से ताल्लुक रखते हैं। जानकारी के अनुसार, बीपीएल परिवार की श्रेणी में होने के बाद भी उन्होंने करोड़ों की संपत्ति इसी अवैध कारोबार से खड़ी की थी।

पुलिस ने कार्रवाई जारी रखी

पुलिस ने इनकी शेष संपत्ति और अन्य मादक पदार्थों के तस्करों की संपत्ति को चिन्हित करने और फ्रीज करने की प्रक्रिया भी जारी रखी है।

यह कार्रवाई सांचौर पुलिस द्वारा ड्रग्स माफियाओं के खिलाफ की गई एक बड़ी सफलता है।

Must Read: योजनाएं गिनाते रहे प्रभारी मंत्री महेन्द्र चौधरी, मुख्यमंत्री के सलाहकार संयम लोढ़ा को नींद परेशान करती रही

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :