वसुंधरा राजे की जमकर तारीफ: सतीश पूनिया बोले- आलाकमान जिसके माथे तिलक लगा देगा वही सीएम होगा, कोई चूं भी नहीं करेगा

सतीश पूनिया बोले- आलाकमान जिसके माथे तिलक लगा देगा वही सीएम होगा, कोई चूं भी नहीं करेगा
Ad

Highlights

उपनेता प्रतिपक्ष पूनिया ने कहा कि कांग्रेस के तरह भाजपा में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर कोई झगड़ा नहीं है। भाजपा में आलाकमान मजबूत है। जिसके माथे पर तिलक लग जाएगा वही सीएम बनेगा और पार्टी में कोई चूं भी नहीं करने वाला है।

अलवर |  BJP Parivartan Yatra: राजस्थान में विधानसभा चुनाव 2023 से भारतीय जनता पार्टी द्वारा निकाली जारी परिवर्तन यात्रा अब अपने समापन की और बढ़ रही है। 

ऐसे में अलवर जिले में पहुंची भाजपा की परिवर्तन संकल्प यात्रा में उपनेता प्रतिपक्ष सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने राजस्थान में सीएम फेस को लेकर बड़ी बात कह डाली है। 

उन्होंने कहा कि आलाकमान जिसके माथे पर तिलक लगा देगा वही सीएम होगा, इसके बाद कोई चूं भी नहीं करेगा।

अलवर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उपनेता प्रतिपक्ष पूनिया ने कहा कि कांग्रेस के तरह भाजपा में मुख्यमंत्री चेहरे को लेकर कोई झगड़ा नहीं है। 

भाजपा में आलाकमान मजबूत है। जिसके माथे पर तिलक लग जाएगा वही सीएम बनेगा और पार्टी में कोई चूं भी नहीं करने वाला है।

वसुंधरा राजे की तारीफ

दरअसल, परिवर्तन यात्रा को लेकर अलवर सर्किट हाउस में प्रेस कॉन्फ्रेंस रखी गई थी। 

इस दौरान सतीश पूनिया ने पूर्व सीएम वसुंधरा राजे की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि 2003 में वसुंधरा राजे (Vasundhara Raje) का ग्लैमर था, ऐसा लीडर लीड करता है तो उसका आकर्षण अलग ही होता है।

उन्होंने ये भी कहा कि वसुंधरा राजे का क्रेज अभी भी खत्म नहीं हुआ है। किसी भी नेता का क्रेज और सम्मान कभी खत्म नहीं होता है। 

उन्होंने कहा कि भाजपा की चारों परिवर्तन यात्राओं के शुभारंभ पर  राजे उपस्थित रही हैं।

एक सवाल के जवाब में पुनिया ने कहा कि पहले कहा जाता था कि भाजपा में चेहरों का टोटा है और अब कहा जा रहा है कि 
भाजपा में सीएम के 12 दावेदार हैं। अगर ऐसा है तो यह अच्छी बात है। 

कांग्रेस में लगे हैं दो-दो मुख्यमंत्री के नारे

पूनिया यही चुप नहीं रहे। उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सीएम फेस को लेकर झगड़ा भाजपा में नहीं बल्कि कांग्रेस में होता है। 

ये तो जगजाहिर है कि कांग्रेस में सीएम पद के लिए दो-दो मुख्यमंत्री के नारे लगे। कभी कमरों में तो कभी मंत्रिमंडल में झगड़ा हुआ। यहां तक की बाड़ाबंदी भी हुई और इस्तीफे तक दे दिए गए।

के दौरान पूर्व प्रदेश अध्यक्ष के साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री सीआर चौधरी, बीजेपी जिला अध्यक्ष अशोक गुप्ता, हाउसिंग बोर्ड के पूर्व चेयरमैन अजयपाल और प्रदेश उपाध्यक्ष श्रवण बगड़ी भी मौजूद थे।

वसुंधरा राजे से मनमुटाव के सवाल पर पूनिया ने कहा- पार्टी हित के लिए सभी को साथ चलना होता है। व्यक्तिगत संबंधों में मनमुटाव जैसी कोई चीज नहीं है। व्यक्तिगत तौर पर उनके लिए सम्मान है। हम एकमुखी होकर अपना अभिमान छोड़कर साथ होकर चलें, यही समय की मांग है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पुनिया के साथ बीजेपी जिला अध्यक्ष अशोक गुप्ता, हाउसिंग बोर्ड के पूर्व चेयरमैन अजयपाल भी मौजूद रहे।

Must Read: विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने 49 बागी नेताओं को पार्टी से निकाला

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :