चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री से मुलाकात: राजस्थान में उद्योग एवं निवेश की अपार संभावनाएं मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने किया चेक गणराज्य के निवेशकों को आमंत्रित

राजस्थान में उद्योग एवं निवेश की अपार संभावनाएं मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने किया चेक गणराज्य के निवेशकों को आमंत्रित
Chief Minister Bhajan Lal Sharma meet with check repulic prime minister petra phiyala
Ad

Highlights

शर्मा ने कहा कि राजस्थान में भीलवाड़ा कपड़ा उद्योग का हब है और चेक गणराज्य की कंपनियों की टेक्निकल टैक्सटाइल के क्षेत्र में मजबूत उपस्थिति है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में व्यापार और निवेश की भरपूर संभावनाएं हैं। मुख्यमंत्री ने चेक गणराज्य के उद्योगपतियों और निवेशकों के साथ संवाद करते हुए उन्हें राजस्थान में निवेश हेतु आमंत्रित किया।

जयपुर | मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने गुरूवार को जयपुर में चेक गणराज्य के प्रधानमंत्री पेट्र फियाला से मुलाकात कर उनका स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने राजस्थान में पर्यटन को बढ़ावा देने, तकनीकी क्षेत्र में नवाचार कर रोजगार सृजित करने, औद्योगिक विकास सहित विभिन्न मुद्दों पर पेट्र फियाला से चर्चा की। फियाला ने मुख्यमंत्री द्वारा किए गए परंपरागत स्वागत के लिए उनको धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि वे राजस्थान की आतिथ्य परंपरा से अत्यधिक प्रभावित हैं।

हमेशा रहे मधुर एवं मैत्रीपूर्ण संबंध

शर्मा ने कहा कि चेक गणराज्य के साथ भारत के संबंध हमेशा मधुर और मैत्रीपूर्ण रहे हैं। दोनो देशों के बीच सहयोग का एक लंबा इतिहास रहा है। चेक नेशनल रिवाइवल के दौरान प्रमुख चेक विद्वान प्राचीन भारतीय संस्कृति से प्रेरित हुए। उन्होंने चेक और संस्कृत के बीच समानता पाई। प्राग में इंडोलॉजी की बहुत पुरानी परंपरा रही है। उन्होंने कहा कि योग चेक गणराज्य में लोगों के जीवन का हिस्सा बन रहा है। चेक गणराज्य के लोग 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस समारोह में भी भाग ले रहे हैं, जो कि प्रसन्नता का विषय है।

प्रदेश में निवेश की अपार संभावनाएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि चेक गणराज्य भारतीय पर्यटकों के लिए एक लोकप्रिय गन्तव्य बन रहा है। प्रतिवर्ष हजारों भारतीय पर्यटक चेक गणराज्य जाते हैं तथा बड़ी संख्या में चेक नागरिक भी प्रति वर्ष भारत आते हैं। भारत की ई-वीज़ा योजना का उपयोग वर्तमान में 85 प्रतिशत चेक पर्यटकों द्वारा किया जा रहा है।

शर्मा ने पेट्र फियाला को राजस्थान के विश्वप्रसिद्ध पर्यटक स्थलों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि पूरी दुनिया से हर साल लाखों पर्यटक राजस्थान घूमने आते हैं। उन्होंने राजस्थान में पर्यटन के क्षेत्र में उभरती हुई संभावनाओं के बारे में भी जानकारी दी। इस दौरान राजस्थान पर्यटन पर बनी एक लघू फिल्म भी प्रदर्शित की गई।

शर्मा ने कहा कि राजस्थान में भीलवाड़ा कपड़ा उद्योग का हब है और चेक गणराज्य की कंपनियों की टेक्निकल टैक्सटाइल के क्षेत्र में मजबूत उपस्थिति है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में व्यापार और निवेश की भरपूर संभावनाएं हैं। मुख्यमंत्री ने चेक गणराज्य के उद्योगपतियों और निवेशकों के साथ संवाद करते हुए उन्हें राजस्थान में निवेश हेतु आमंत्रित किया।

बी.आई.पी. आयुक्त हिमांशु गुप्ता ने प्रदेश में टेक्सटाइल, टूरिज्म, सोलर, ऑटोमोबाइल, सीमेंट तथा अन्य औद्योगिक उपक्रमों के बारे में जानकारी दी। इस दौरान उपमुख्यमंत्री प्रेम चन्द बैरवा, मुख्य सचिव सुधांश पंत, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह आनंद कुमार सहित चेक गणराज्य के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

Must Read: जल जीवन मिशन घोटाले को लेकर मंत्री के करीबियों के ठिकानों पर छापे, हड़कंप

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :