सांसद: राजस्थान के 7 विधायकों ने देखा ‘सांसद’ बनने का सपना

राजस्थान के 7 विधायकों ने देखा ‘सांसद’ बनने का सपना
विधायकों ने राजनीतिक पार्टियों से चुनाव लड़ा
Ad

Highlights

इस बार प्रदेश के 7 विधायकों ने सांसद बनने का ख़्वाब देखा

राजस्थान की सबसे चर्चित सीट बाड़मेर से निर्दलीय उम्मीदवार रविंद्र सिंह भाटी हाल में शिव से निर्दलीय विधायक है 

जयपुर | राजस्थान में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) दो चरणों में संपन्न हो चुका है। जिसके परिणाम का इंतजार सभी प्रदेशवासी बेसब्री से कर रहे है। इस बार प्रदेश के 7 विधायकों ने सांसद बनने का ख़्वाब देखा है। अधिकतर विधायकों ने राजनीतिक पार्टियों (political parties) से चुनाव लड़ा है।

शिव से निर्दलीय विधायक रविंद्र सिंह भाटी ने बाड़मेर-जैसलमेर से निर्दलीय प्रत्याशी (independent candidate) के तौर पर चुनाव लड़ा। विधायक से सांसद बनने का सपना देखने वाले इन विधायकों की किस्मत का फैसला 4 जून को हो जाएगा।

राजस्थान की सबसे चर्चित सीट बाड़मेर से निर्दलीय उम्मीदवार रविंद्र सिंह भाटी हाल में शिव से निर्दलीय विधायक है। भाटी ने अपने लोकसभा क्षेत्र की जनता की राय से चुनाव लड़ा। एग्जिट पोल (Exit Poll) के मुताबिक सभी एजेंसियों (agencies) ने राजस्थान में बीजेपी (BJP) और इंडिया गठबंधन के अलावा किसी और को कोई सीट मिलते नहीं दिख रहा है। ऐसे में यह खबर रविंद्र सिंह भाटी के लिए अच्छी नहीं है।

कांग्रेस विधायक बृजेंद्र ओला को पार्टी ने झुंझुनूं से उम्मीदवार बनाया। हालांकि बृजेंद्र ओला ने टिकट को लेकर काफी मना किया। लेकिन फिर पार्टी आलाकमान की बात मानते हुए चुनाव लड़ा। इधर, टोक-सवाईमाधोपुर लोकसभा क्षेत्र से हरीश मीणा को कांग्रेस (INC) ने उम्मीदवार बनाया। जिनका सीधा मुकाबला वर्तमान सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया है।

वहीं कांग्रेस ने पहली बार विधायक बने ललित यादव को अलवर से टिकट दिया। जहां उनका सीधा मुकाबला केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव से है। दौसा से वर्तमान विधायक मुरारीलाल मीणा को लोकसभा प्रत्याशी (Lok Sabha candidate) घोषित किया है। जिसके लिए शुरूआत में वे खुद तैयार नहीं थे। हालांकि बाद में उन्होंने जमकर चुनाव लड़ा।

कांग्रेस (INC) ने प्रदेश की तीन सीटों पर गठबंधन कर चुनाव लड़ा। जो नागौर, सीकर और बांसवाड़ा से हनुमान बेनीवाल है। खींवसर से वर्तमान विधायक हनुमान बेनीवाल को टिकट दिया। जिनका सीधा मुकाबला भाजपा (BJP) उम्मीदवार ज्योति मिर्धा से है।

बांसवाड़ा से इंडिया गठबंधन ने चौरासी विधायक राजकुमार रोत को बड़ी टालमटोल के बाद का टिकट दिया। जहां उनका मुकाबला हाल ही में कांग्रेस (INC) से भाजपा (BJP) में शामिल हुए महेंद्रजीत मालवीया से है।

Must Read: पूर्व सांसद और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकर पन्नू, पूर्व विधायक नंदकिशोर महरिया, जेपी चंदेलिया और मधुसूदन भिंडा सहित 314 लोगों ने थामा भाजपा का दामन

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :