रानीवाड़ा: झोलाछाप को भनक लगते ही मेडिकल छोड़ भागा, टीम ने क्लिनिक को सीज कर दिया

झोलाछाप को भनक लगते ही मेडिकल छोड़ भागा, टीम ने क्लिनिक को सीज कर दिया
मेडिकल छोड़ भागा, टीम ने क्लिनिक को सीज कर दिया
Ad

Highlights

  • सीएमएचओ डॉ. बाबुलाल बिश्नोई के निर्देशों पर ब्लॉक सीएमओ डॉ. गणपतलाल चौधरी ने आज औषधि निरीक्षक पुष्पा सोलंकी, कांस्टेबल दीपाराम के साथ बामनवाड़ा गांव पहुंचे
  • टीम के औचक निरीक्षण की भनक लगने पर वह क्लिनिक बंद कर भाग गया।

सांचौर | रानीवाड़ा क्षेत्र में झोलाछापो की ओर से मानव स्वास्थ्य से खिलवाड़ की शिकायतों को लेकर सांचौर (sanchor) जिला प्रशासन के निर्देश पर रानीवाड़ा क्षेत्र में कई जगहों पर निरीक्षण का अभियान शुरू किया गया है। निरीक्षण टीम में औषधि निरीक्षक पुष्पा सोलंकी (pushpa solanki) सहित पुलिस की टीम भी है।

जानकारी के अनुसार, पिछले कई दिनों से ग्रामीण क्षेत्र में मेडिकल स्टोर के साथ झोलाछापो की ओर से प्रेक्टिस की शिकायतें ज्यादा आने से जिला प्रशासन ने सख्त कार्यवाही के निर्देश दिए। सीएमएचओ डॉ. बाबुलाल बिश्नोई के निर्देशों पर ब्लॉक सीएमओ डॉ. गणपतलाल चौधरी ने आज औषधि निरीक्षक पुष्पा सोलंकी, कांस्टेबल दीपाराम के साथ बामनवाड़ा गांव पहुंचे।

बामनवाड़ा गांव में लंबे समय से झोलाछाप परेश कुमार (paresh kumar) क्लिनिक संचालित करता है। इसकी कई बार शिकायते भी हो चुकी। टीम के औचक निरीक्षण की भनक लगने पर वह क्लिनिक बंद कर भाग गया। टीम में शामिल चंदुलाल (chandu lal) और घेवरचंद सुथार (ghevarchand suthar) ने क्लिनिक को सीज कर दिया।

बाद में, बड़गांव (badgaon) सहित रानीवाड़ा कस्बे के कई अस्पतालों और मेडिकल स्टोर का भी निरीक्षण कर जैव अपशिष्ट कचरे के निष्पादन को लेकर अस्पताल संचालकों को पाबंद किया।

Must Read: प्रभारी सचिव ने अस्पताल, पंप हाउस और जीएसएस का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :