फिर बोल गए विवादित बोल: गहलोत कैबिनेट मंत्री गोविंद राम मेघवाल की चेतावनी, अगर एक दिन भी राहुल गांधी को भेजा जेल तो...

गहलोत कैबिनेट मंत्री गोविंद राम मेघवाल की चेतावनी, अगर एक दिन भी राहुल गांधी को भेजा जेल तो...
Govind Ram Meghwal
Ad

Highlights

मंत्री गोविन्द राम मेघवाल ने कहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों में नरेन्द्र मोदी और अमित शाह का सफाया करना है। जिसके लिए चाहे कानून हाथ में लेना पड़े, तो लेंगे। 

जयपुर | राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार में हमेशा विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले कैबिनेट मंत्री गोविन्द राम मेघवाल एक बार फिर से विवादित बयान देने को लेकर चर्चा में हैं।

अब उन्होंने कुछ ऐसा कह दिया है कि, भारतीय जनता पार्टी बेहद ही आक्रोश में है।

मंत्री गोविन्द राम मेघवाल ने कहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों में नरेन्द्र मोदी और अमित शाह का सफाया करना है। जिसके लिए चाहे कानून हाथ में लेना पड़े, तो लेंगे। 

इसी के साथ उन्होंने भाजपा को चेतावनी भी दी है कि, अगर राहुल गांधी को जेल भेजने की गलती की तो कांग्रेस कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेंगे।

गौरतलब है कि मेघवाल ने यह बयान शुक्रवार को जयपुर स्थित प्रदेश मुख्यालय में मीडिया के सामने दिया। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर टिप्पणी करते हुए मेघवाल यह भी बोल गए कि, पीएम मोदी अनपढ़ और आरएसएस के टूल हैं। वे लोकतंत्र के नहीं, अडानी-अंबानी के प्रधानमंत्री हैं।

दरअसल, गुजरात हाईकोर्ट की ओर से मोदी सरनेम मामले में राहुल गांधी की याचिका पर होने वाले फैसले को लेकर कांग्रेस के कई नेता पीसीसी पहुंचे थे। 

इसी दौरान मंत्री मेघवाल ने मीडिया के सामने यह विवादित बयान दिया। 

गोविंद राम मेघवाल ने केन्द्र सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर केन्द्र सरकार ने गलती से भी राहुल गांधी को एक दिन के लिए भी जेल भेजने का काम किया तो कांग्रेस के करोड़ों कार्यकर्ता देश की जेलें भर देंगे। 

कांग्रेस का कार्यकर्ता अब चुप नहीं बैठेगा और केंद्र को जवाब देगा। 2024 में केन्द्र से मोदी शाह को उखाड़ फेंकेंगे। 

मंत्री मेघवाल यही तक चुप नहीं रहे। उन्होंने पीएम मोदी को दुनिया का सबसे ज्यादा झूठा पीएम बताते हुए कहा कि विश्व में सबसे ज्यादा असत्य बोलने वाले पीएम हैं तो वह मोदी हैं। 

विवादों से रहा पुराना नाता

गहलोत कैबिनेट में मंत्री गोविंद राम मेघवाल का ये कोई पहला विवादित बयान नहीं है। इससे पहले भी वे कई बार विवादित बोल बोल चुके हैं। 

इससे पहले भी उनका एक कथित ऑडियो काफी वायरल हुआ था। इसमें कथित तौर पर मंत्री एक व्यक्ति को गालियां देते सुने गए थे। 

इसके अलावा 20 अगस्त 2022 में भी एक कार्यक्रम के दौरान मेघवाल ने करवा चौथ को लेकर विवादित बयान दे दिया था। 

तब मेघवाल ने करवा चौथ पर महिलाओं की ओर से छलनी में अपने पति का चेहरा देखने को अंधविश्वास बताया था। जिस पर भी विवाद हो गया था।

Must Read: करौली में बहनों को भाई ने दिया चांद पर 2 एकड़ जमीन का तोहफा

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :