मैंने हमेशा की है निस्वार्थ सेवा: कांग्रेस के सांगानेर प्रत्याशी बोले- साब नहीं, हमेशा बेटा-भाई बनकर ही करूंगा सेवा

Ad

Highlights

भारद्वाज ने कहा कि आपके आशीर्वाद से विधायक बनने के बाद भी मुझसे इस तरह की कोई भी शिकायत नहीं मिलेगी। आप 10 दिन पहले आए किसी प्रत्याशी को वोट दोगे या फिर उसे जो 5 साल से परिवार की चिंता किए बगैर आपके लिए दिन-रात मेहनत करता रहा। 

जयपुर | Rajasthan Election 2023: राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर राजधानी जयपुर की सांगानेर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी पुष्पेंद्र भारद्वाज (Pushpendra Bhardwaj) ने मंगलवार को जनसंपर्क कार्यक्रम कर लोगों से मुलाकात की।

इस दौरान भारद्वाज ने विधानसभा के विभिन्न वार्डों में जन संपर्क किया और विकास के आधार पर लोगों से वोट देने की अपील की। 

इसी के साथ कांग्रेस नेता भारद्वाज ने मानसरोवर में पत्रकार कॉलोनी स्थित एक गार्डन में रखे गए कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि भाग लिया। 

कार्यक्रम में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पुष्पेंद्र भारद्वाज का जमकर सत्कार किया गया। करीब 5000 लोगों से ज्यादा की भीड़ को संबोधित करते हुए भारद्वाज ने कहा कि चुनाव हारने के बाद भी पूरी ईमानदारी के साथ जनता की सेवा की और अनेक विकास के कार्य कराए। 

उन्होंने कहा कि पिछली बार मुझे 73000 वोट मिले थे, उनका कर्ज चुकाने के लिए जो भी मेरे पास आया, मैंने उसकी निस्वार्थ सेवा और मदद की। 

मैंने क्षेत्र की जनता से किसी भी काम के कोई पैसे नहीं लिए। उन्होंने कहा कि आमतौर पर नेताओं पर इस तरह के आरोप लगते रहते हैं, लेकिन मैं इन सब से दूर रहा। 

भारद्वाज ने कहा कि आपके आशीर्वाद से विधायक बनने के बाद भी मुझसे इस तरह की कोई भी शिकायत नहीं मिलेगी। 

उन्होंने जनता से सवाल किया कि आप 10 दिन पहले आए किसी प्रत्याशी को वोट दोगे या फिर उसे जो 5 साल से परिवार की चिंता किए बगैर आपके लिए दिन-रात मेहनत करता रहा। 

इस पर मौजूद लोगों ने पुष्पेन्द्र भारद्वाज का नाम लिया। इस मीटिंग के बाद सैंकड़ों गाड़ियों के काफिले के साथ भारद्वाज वहाँ से मध्यम मार्ग पहुंचे। 

नेम प्लेट लगवाने के बजाय जनहित को दी तवज्जों

उन्होंने कहा कि पूर्व विधायकों के कामों को लेकर मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता। फिर भी भाजपा के विधायकों ने नेम प्लेट लगाने के अलावा और कोई कार्य नहीं किया है। उन्होंने कहा कि मेरे प्रयासों से राज्य सरकार ने सांगानेर में हजारों करोड़ के विकास कार्य किए। 

मैं चाहता तो नेम प्लेट पर अपना नाम भी लगवा सकता‌ था। चूंकि मैं संवैधानिक पद पर नहीं था, इसलिए अपना नाम नहीं लगवाया।  

मैं कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था, लेकिन विकास कार्य करते समय कभी भी पार्टी पॉलिटिक्स नहीं की। मेरे पास जो भी आया, मैंने उसकी हर संभव मदद की।

हमेशा बेटा-भाई बनकर ही करूंगा सेवा

इसी के साथ उन्होंने जनता से आह्वान किया कि आपको सही और गलत में फर्क करना पड़ेगा। 

उन्होंने जनता से पूछा कि भाजपा का टिकट मिलने से पहले क्या आप भजनलाल शर्मा को जानते थे, इस पर जनता ने ना कहा।

उन्होंने कहा कि कोई भी मेरा हाथ पकड़ कर अपने कार्य के लिए बोल सकता है, क्या भाजपा प्रत्याशी को भी ऐसे कह सकने की हिम्मत रखते हो। 

उन्होंने कहा कि लोगों की साहब-साहब करते जिंदगी निकल जाती है, लेकिन विश्वास दिलाता हूं कि मैं हमेशा आपका भाई और बेटा बनकर ही रहूंगा। 

उन्होंने कहा कि मैं आप लोगों का जीवन भर अहसान मानूंगा और कभी भी शिकायत का मौका नहीं दूंगा।

पार्टी पॉलिटिक्स से ऊपर रखा विकास 

उन्होंने कहा कि विधायक बनने के बाद आपकी हर मांग को पूरा करने का मैं संकल्प ले चुका हूं। आपकी इच्छा के मुताबिक क्षेत्र में एक मेटरनिटी अस्पताल खुलवाया जाएगा, जिससे गर्भवती महिलाओं को कोई भी परेशानी का सामना करना नहीं पड़े। 

इसके साथ ही क्षेत्र में बड़ी इंग्लिश मीडियम स्कूल खुलवाई जाएंगी, इससे ग्रामीण परिवेश के बच्चे भी इंग्लिश बोलना सीख सकें। 

Must Read: किरोड़ी लाल मीणा बोले- गांधीवादी कहने वाले सीएम की खुल जाएगी पोल

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :