राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी: भाजपा सरकार भीषण गर्मी के बावजूद प्रदेश वासियों को बिजली एवं पेयजल उपलब्ध नहीं करवा पा रही ;गोविन्द सिंह डोटासरा

भाजपा सरकार भीषण गर्मी के बावजूद प्रदेश वासियों को बिजली एवं पेयजल उपलब्ध नहीं करवा पा रही ;गोविन्द सिंह डोटासरा
Ad

Highlights

प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि एक और प्रदेश की जनता बिजली कटौती एवं पेयजल की सप्लाई न होने से त्रस्त है दूसरी ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री इस संकट को दूर करने हेतु समस्या का समाधान खोजने की बजाय दूसरे प्रदेशों में जाकर चुनाव प्रचार करने में व्यस्त है। 
जयपुर | राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि भाजपा की प्रदेश सरकार भीषण गर्मी के बावजूद प्रदेश वासियों को बिजली एवं पेयजल उपलब्ध नहीं करवा पा रही है, जिस कारण प्रदेश के ग्रामीण इलाकों में लोग मीलों चलकर पीने का पानी ला रहे है|  
 
शहर वासी भारी राशि खर्च कर पानी के टैंकर खरीद कर अपनी प्यास बुझा रहे हैं वहीं सरकार की अनदेखी के कारण प्रदेश में भीषण बिजली संकट उत्पन्न हो गया है तथा सरकार द्वारा अघोषित रूप से दो से चार घंटे की बिजली कटौती प्रदेश की राजधानी में की जा रही है वहीं प्रदेश के अन्य शहरों व ग्रामीण इलाकों में कई घंटे तक बिजली के अभाव में जनता गर्मी से परेशान हो रही है। 
 
प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि एक और प्रदेश की जनता बिजली कटौती एवं पेयजल की सप्लाई न होने से त्रस्त है दूसरी ओर प्रदेश के मुख्यमंत्री इस संकट को दूर करने हेतु समस्या का समाधान खोजने की बजाय दूसरे प्रदेशों में जाकर चुनाव प्रचार करने में व्यस्त है। 
 
उन्होंने कहा कि भाजपा के विधायक, नेता एवं मंत्री  पत्र लिखकर अपने-अपने क्षेत्रों में पानी एवं बिजली की सप्लाई निर्बाध रूप से करवाने की मांग मुख्यमंत्री महोदय से कर रहे हैं किन्तु मुख्यमंत्री,जलदाय मंत्री एवं ऊर्जा मंत्री किसी प्रकार का कोई निर्णय लेते हुए अथवा समाधान खोजते हुए नजर नहीं आ रहे है। 
 
उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि पूरी सरकार प्रशासनिक अधिकारियों के भरोसे ही चल रही है तथा भाजपा नेता त्रस्त जनता को अपने हाल पर छोड़ अन्य प्रदेशों में चुनाव प्रचार में मस्त है।  
 
प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि मौसम विभाग ने महिनों पहले प्रदेश में भीषण गर्मी पड़ने का पुर्वानुमान बताया था किन्तु राजस्थान सरकार ने प्रदेशवासियों को सुचारू बिजली सप्लाई हेतु कोई कार्ययोजना नहीं बनायी जिसका परिणाम है कि प्रदेश में उपभोक्ताओं के लिए 600 लाख यूनिट प्रतिदिन बिजली की कम सप्लाई हो रही है।  
 
प्रदेशवासियों को इस भीषण गर्मी में घण्टों अघोषित बिजली कटौती का सामना कर परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि गर्मियों में पेयजल की उपलब्धता बनाये रखने हेतु वृहद्ध कार्य योजना बनाया जाना आवश्यक होता है
 
राजस्थान सरकार 100 दिवस की कार्य योजना के नाम पर स्वयं की पीठ थपथपा रही थी किन्तु आज भीषण गर्मी में पेयजल के संकट का सामना कर रही प्रदेश की जनता के सामने भाजपा सरकार की पोल खुल गई है। 
 
उन्होंने कहा कि  प्रदेशभर में या तो कम दबाव के साथ पेयजल सप्लाई हो रही है अथवा प्रदेशवासी महंगे दाम पर टैंकरों से पेयजल सप्लाई लेकर तथा ग्रामीण क्षेत्रों में दूरस्थ स्थानों से पैदल जाकर पेयजल लाने हेतु मजबूर है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भीषण गर्मी के मौसम में बिजली एवं पेयजल संकट के लिए राजस्थान की भाजपा सरकार पूर्णतया जिम्मेदार है।

Must Read: ’बिपरजॉय’ ने ’मानसून’ से पहले भरा बीसलपुर बांध, आया इतना पानी

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :