G20 Summit 2023: भारत ने दिया वसुधैव कुटुम्बकम का मंत्र, अब जी20 बना जी21

Ad

Highlights

भारत ने जी20 सम्मेलन के जरिये पूरी दुनिया को एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य के वसुधैव कुटुम्बकम का मंत्र दिया है जिसका विश्व की महाशक्तियों ने दिल खोलकर स्वागत किया है। 

नई दिल्ली  दुनिया की 20 बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों के समूह जी20 का शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सम्मेलन हो रहा है।

आज भारत की अध्यक्षता में जी20 सम्मेलन का जो आयोजन पूरी  दुनिया देख रही है। 

भारत ने जी20 सम्मेलन के जरिये पूरी दुनिया को एक पृथ्वी, एक परिवार, एक भविष्य के वसुधैव कुटुम्बकम का मंत्र दिया है जिसका विश्व की महाशक्तियों ने दिल खोलकर स्वागत किया है। लेकिन चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग दिल्ली नहीं आए हैं। 

जी20 को कहा जाएगा जी21

आपको बता दें कि जी20 देशों का समूह अब जी21 कहा जाएगा। दरअसल, अब अफ्रीकन यूनियन को भी इसमें स्थाई सदस्यता मिल गई है।

भारत ने खुद को ग्लोबल साउथ के लीडर के तौर पर स्थापित किया। अफ्रीकन यूनियन में 55 देश शामिल हैं। 

पीएम मोदी ने इसके लिए प्रस्ताव रखते हुए कहा था कि अफ्रीकन यूनियन को जी20 की स्थायी सदस्यता दी जाए।

जी20 समिट में दुनिया के ये सब नेता कर रहे शिरकत
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक
जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा
चीन के प्रधानमंत्री ली कियांग
रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव
इटली की प्रधानमंत्री जॉर्जिया मेलोनी
कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो
फ्रांस के राष्ट्रपति इमेनुएल मैक्रों
ऑस्ट्रेलिया के पीएम एंथनी अल्बनीज
जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज
दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति यूं सुक येओल
दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा
तुर्किए के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन
बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना
मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद कुमार जगन्नाथ
अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज
कोमोरोस के राष्ट्रपति और अफ्रीकी संघ के अध्यक्ष अजाली असौमानी
ओमान के उप प्रधानमंत्री सैय्यद फहद बिन महमूद अल सैद
मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सिसी
संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान
संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस
अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की प्रमुख क्रिस्टालिना जॉर्जीवा
विश्व बैंक के अध्यक्ष अजय बंगा

Must Read: सुकन्या समृद्धि योजना में निवेशकों को करना पड़ेगा इंतजार, देना पड़ सकता है जुर्माना भी

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :