rajasthan: तेरह साल की मासूम से गैंगरेप, अपहरण करके ले गए दरिंदे, चौबीस घंटे बंधक बनाकर रखा

तेरह साल की मासूम से गैंगरेप, अपहरण करके ले गए दरिंदे, चौबीस घंटे बंधक बनाकर रखा
Ad

Highlights

मंडावरी थाना इलाके के एक गांव की 13 साल की लड़की के साथ गैंगरेप हुआ। लड़की 14 दिसंबर गुरुवार को 8वीं की परीक्षा देने सुबह 9 बजे अपने घर से स्कूल के लिए निकली थी। इस दौरान गांव से बाहर निकलते ही रास्ते में बाइक पर आए सुरेश मीणा व उसके साथी ने लड़की को बाइक पर बैठा लिया।

जयपुर । दौसा जिले में 8वीं का एग्जाम देने घर से निकली 13 साल की लड़की को दो लड़के बाइक पर बैठाकर ले गए। सुनसान जगह ले जाकर उसके साथ 24 घंटे तक दरिंदगी की गई। इसके बाद एक पेट्रोल पंप पर छोड़कर भाग गए। आरोपियों के खिलाफ लड़की के परिजनों ने गैंगरेप का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट में केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। मामला दौसा में लालसोट इलाके के मंडावरी थाना क्षेत्र का है।

लालसोट एएसपी रामचंद्र सिंह नेहरा ने बताया- दौसा के मंडावरी थाने में पॉक्सो एक्ट में गैंगरेप केस दर्ज हुआ है। आरोपी मलारना डूंगर (सवाई माधोपुर) के रहने वाले हैं। जबकि पीड़िता मंडावरी थाना इलाके के एक गांव की है। एफआईआर दर्ज करने के बाद लड़की का मेडिकल कराया है। वारदात के बाद दोनों आरोपी फरार हैं। उनकी तलाश की जा रही है। मामले की जांच नांगल राजावतान डीएसपी मानाराम गर्ग को सौंप दी गई है।

गांव से निकलते ही बाइक पर ले गए

दर्ज रिपोर्ट के अनुसार- मंडावरी थाना इलाके के एक गांव की 13 साल की लड़की के साथ गैंगरेप हुआ। लड़की 14 दिसंबर गुरुवार को 8वीं की परीक्षा देने सुबह 9 बजे अपने घर से स्कूल के लिए निकली थी। इस दौरान गांव से बाहर निकलते ही रास्ते में बाइक पर आए सुरेश मीणा व उसके साथी ने लड़की को बाइक पर बैठा लिया।

दोनों आरोपी नाबालिग लड़की को मंडावरी (दौसा) से 30 किलोमीटर दूर सवाई माधोपुर के मलारना डूंगर में किसी सुनसान जगह ले गए। वहां उसे एक कमरे में रखा गया। दोनों लड़कों ने गुरुवार दिन भर और पूरी रात उसे वहीं रखा और दरिंदगी करते रहे।

दूसरे दिन पेट्रोल पंप के पास छोड़ भागे

इसके बाद दूसरे दिन 15 दिसंबर शुक्रवार को सुबह 11.30 के करीब वे लड़की को बाइक पर बैठाकर लाए और मलारना डूंगर में ही एक पेट्रोल पंप के पास छोड़कर भाग गए। लड़की वहां काफी देर तक बैठी रोती रही तो पेट्रोल पंप के कर्मचारी ने लड़की से बात की।

लड़की ने पेट्रोलपंप कर्मचारी को बताया कि दो लड़के उसे बाइक पर लाए थे, रात में साथ रखा और यहां छोड़कर चले गए। कर्मचारी ने तुरंत लड़की के बारे में मलारना पुलिस को सूचना दी। पुलिसकर्मी पेट्रोल पंप पर पहुंचे और लड़की से बात की। इसके बाद पुलिस ने लड़की के परिजनों को सूचना दी। परिजन 15 दिसंबर शुक्रवार की दोपहर मंडावरी से मलारना डूंगर पहुंचे और लड़की को अपने साथ ले गए।

अपने स्तर पर तलाशते रहे परिजन

परिजनों ने बताया कि 14 दिसंबर को जब स्कूल से जब बेटी शाम तक नहीं लौटी तो चिंता होने लगी। स्कूल से लेकर गांव, उसकी सहेलियों, टीचर्स और रिश्तेदारों के पास तलाश करते रहे लेकिन लड़की का कहीं भी सुराग नहीं लगा। पुलिस को परिजनों ने सूचना नहीं दी और अपने स्तर पर ही उसे तलाशते रहे। तलाश दूसरे दिन 15 दिसंबर शुक्रवार को भी जारी रही। इस दौरान मलारना डूंगर पुलिस से सूचना मिली कि लड़की एक पेट्रोल पंप पर मिली है, तो मलारना पहुंच गए।

घर लौटकर लड़की ने परिजनों को आपबीती सुनाई और कहा कि दो लड़के उसे किडनैप कर जबरन बाइक पर बैठाकर मलारना ले गए और गैंगरेप किया। यह सुन परिवार में हाहाकार मच गया। परिजनों ने 16 दिसंबर शनिवार की रात 9 बजे मंडावरी थाने पहुंचकर आरोपी सुरेश मीणा व उसके साथी के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कराया।

Must Read: सड़क पर पड़ा मिला जवान का शव, देर रात फोन आने के बाद घर से निकला था, सुबह मिली लाश

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :