गहलोत की रुकी उड़ान: बोले नहीं मिली हेलिकॉप्टर की परमिशन, गृह मंत्रालय ने कहा- हमने नहीं रोका

बोले नहीं मिली हेलिकॉप्टर की परमिशन, गृह मंत्रालय ने कहा- हमने नहीं रोका
Ashok Gehlot
Ad

Highlights

सीएम गहलोत का दावा है कि जी20 के चलते हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल पर लगी आंशिक रोक के चलते गृह मंत्रालय, भारत सरकार ने उनके उदयपुर से सीकर के लिए हेलिकॉप्टर की उड़ान को अनुमति नहीं दी।

जयपुर | Helicopter Landing Controversy : राजस्थान में विधानसभा और लोकसभा चुनावों से पहले दिल्ली तक सियासत गरमाती जा रही है। 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का शुक्रवार को सीकर दौरा रद्द होने को लेकर सीएम गहलोत और गृह मंत्रालय आमने-सामने होते दिख रहे हैं।

सीएम गहलोत का दावा है कि जी20 के चलते हवाई क्षेत्र के इस्तेमाल पर लगी आंशिक रोक के चलते गृह मंत्रालय, भारत सरकार ने उनके उदयपुर से सीकर के लिए हेलिकॉप्टर की उड़ान को अनुमति नहीं दी।

इसी के साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी दिल्ली में लैंडिंग की इजाजत नहीं मिलने का दावा किया है। 

जिसके बाद दोनों राज्यों के सीएम के बयान पर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अपनी सफाई दी। 

गृह मंत्रालय ने कहा- हमने अप्रूव्ड की रिकवेस्ट

सीएम गहलोत के इस दावे को नकारते हुए गृह मंत्रालय की ओर से शनिवार को स्पष्टीकरण आया है। जिसमें कहा गया है कि सीकर सहित उड़ान की अनुमति के लिए राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत की ओर से 4 रिकवेस्ट आई थी जिन सभी को गृह मंत्रालय द्वारा अप्रूव्ड किया गया है।

राजस्थान के सीएम गहलोत के किसी भी अनुरोध को अस्वीकार नहीं किया गया है जबकि कमर्शियल विमानों की सभी निर्धारित उड़ानों और राज्यपालों और राज्य के मुख्यमंत्रियों को अपने राज्य में विमानों से आवाजाही की अनुमति है, निजी चार्टर्ड विमान की उड़ान के लिए एमएचए की अनुमति आवश्यक होती है।

सीएम गहलोत ने लगाया जनता में भ्रम फैलाने का आरोप 

अब सीएम अशोक गहलोत इस मामले में फिर से एक स्पष्टीकरण जारी करते हुए गृह मंत्रालय पर गलत तथ्यों द्वारा जनता में भ्रम फैलाने का आरोप लगाया है। 

उन्होंने कहा कि जी20 के नाम पर मुझे कोई विवाद पैदा नहीं करना था, इसलिए इसकी कोई निंदा नहीं की।

बस जनता को तथ्यों की जानकारी दी थी, लेकिन मुझे अब दुख है कि गृह मंत्रालय ने गलत तथ्यों की जानकारी देकर जनता में भ्रम फैलाने का असफल प्रयास किया है।

सीएम गहलोत ने शुक्रवार को किया पोस्ट

बता दें कि सीएम गहलोत ने शुक्रवार को एक पोस्ट करते हुए कहा कि- आज बाबा श्री खींवादास जी महाराज की पुण्यतिथि के कार्यक्रम में सांगलिया पीठ, सीकर जाने का कार्यक्रम था परन्तु जी-20 की बैठक के कारण गृह मंत्रालय, भारत सरकार ने एयरस्पेस में उदयपुर से सीकर हेलिकॉप्टर से जाने की अनुमति नहीं दी जिसके कारण आज सांगलिया पीठ नहीं पहुंच पा रहा हूं। 

सांगलिया पीठ के पीठाधीश्वर श्री ओम दा‌स महाराज से फोन पर बात कर जानकारी दी। मैं जल्दी ही सांगलिया पीठ आशीर्वाद लेने आऊंगा।

Must Read: चुनाव प्रबंधन और संकल्प पत्र समिति से ’राजे’ का नाम गायब

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :