कनाडा में गूंजा भारत का इतिहास : महाराजा गंगा सिंह, दिग्विजय सिंह जामनगर और हाईफा विजय की डॉक्युमेंट्रीज ने मन मोहा

महाराजा गंगा सिंह, दिग्विजय सिंह जामनगर और हाईफा विजय की डॉक्युमेंट्रीज ने मन मोहा
Ad

Highlights

इस कार्यक्रम के लिए महाराज जम्मू एंड कश्मीर डॉक्टर करण सिंह जी ने कहा कि इतिहास में पहली बार प्रथम एवं द्वितीय विश्व युद्ध में भारत की तरफ से राजपूत राजाओं द्वारा भेजे गए सेना के योगदान शौर्य कौशल एवं वीरता पराक्रम के बारे में इस तरह का भव्य आयोजन हो रहा है।

कनाडा । कनाडा के पेमा म्यूजियम में राजपूत कम्युनिटी ऑफ कनाडा और हिंदू हेरिटेज फाउंडेशन के तत्वावधान में प्रथम और द्वितीय विश्व युद्ध में भारत के पूर्व राजघरानों एवं राजपूत राजा महाराजा द्वारा भेजी गई सेना द्वारा ब्रिटिश सेना के साथ युद्ध में अपनी वीरता पराक्रम एवं साहसपूर्ण सहयोग किया गया।

राजपूत राजा महाराजा द्वारा प्रथम एवं द्वितीय विश्व युद्ध में भेजी गई सेना द्वारा ब्रिटिश सेना में महत्वपूर्ण योगदान रहा। तथा साथ ही अन्य कई प्रकार से सहयोग एवं योगदान दिया गया। इन युद्ध में राजपूत राजाओं द्वारा भेजे गए सेवा और सहयोग के बारे में पराक्रम सिंह झाला संस्थापक राजपूत कम्युनिटी आफ कनाडा एवं हिंदू हेरिटेज फाउंडेशन के संस्थापक योगेश्वर प्रताप सिंह राणा द्वारा जानकारी दी गई।

इस कार्यक्रम के लिए महाराज जम्मू एंड कश्मीर डॉक्टर करण सिंह जी ने कहा कि इतिहास में पहली बार प्रथम एवं द्वितीय विश्व युद्ध में भारत की तरफ से राजपूत राजाओं द्वारा भेजे गए सेना के योगदान शौर्य कौशल एवं वीरता पराक्रम के बारे में इस तरह का भव्य आयोजन हो रहा है।

 संयोजक पराक्रम सिंह झाला ने इस संदर्भ में बताया कि आधुनिक इतिहास को नई तकनीक का प्रयोग करते हुए तीन डॉक्यूमेंट्री बनाई गई जिसमें प्रथम जोधपुर की सेवा द्वारा हाइफा (इजरायल) युद्ध जीतने का वर्णन। दूसरा महाराज दिग्विजय सिंह जी जामनगर द्वारा नाजी हमले में पोलिस बच्चों महिलाओं को शरण देना। एवं उनकी रक्षा करने का वर्णन। तीसरा महाराजा गंगा सिंह जी द्वारा विश्व भर में अपने शौर्य पराक्रम एवं वीरता का वर्णन किया गया है।

इन युद्धों में राजपूत राजा महाराजाओं द्वारा सहायता करने के कारण पोलैंड, इजरायल के साथ भारत का रिश्ता मजबूत हुआ है। और आज भी इन देशों में भारतीय राजपूत वीरों को सम्मान दिया जाता है। इस कार्यक्रम में काफी लोगों ने कनाडा से हिस्सा लिया जिसमें उन परिवारों ने भी हिस्सा लिया जिनके पूर्वजो ने प्रथम एवं द्वितीय विश्व युद्ध में अपना योगदान दिया था।

मुख्य अतिथि कनाडा के सीनियर राजनीतिज्ञ एवं वर्तमान ब्राम्पटन के मेयर पैट्रिक ब्राउन रहे साथ ही भारत के पूर्व राजघरानो के भी कई लोगों ने भाग लिया।

 इस आयोजन कमेटी में पराक्रम सिंह झाला और योगेश्वर सिंह राणा के अलावा नवनीत सिंह डोडीया, देवेश्वर सिंह राठौड़, यादवेंद्र सिंह शक्तावत की भी आयोजन को सफल बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका रही।

 इस तरह के सफल आयोजन करवाने के लिए आयोजन कमिटी को काफी मात्रा में बधाई संदेश भेजे गए जिनमें जोधपुर महाराजा बृजेश्वरी कुमारी, भावनगर फेमस फैशन डिजाइनर राघवेंद्र राठौड, राजश्री कुमारी बीकानेर, कांगड़ा राजा ऐश्वर्य देव कटोच एवं जामनगर शत्रुसाल सिंह जी आदि रहे।

Must Read: हेलीकॉप्टर से दुल्हनों की विदाई, वर—वधु अभिभूत तो दादा और जीजा का हाल अलग

पढें ज़िंदगानी खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :