पोकरण में बड़ी साजिश: खुफिया एजेंसी ने पकड़े चार संदिग्ध, बड़ी संख्या में आर्मी यूनिफार्म और सामान जब्त, क्या थे इरादे

खुफिया एजेंसी ने पकड़े चार संदिग्ध, बड़ी संख्या में आर्मी यूनिफार्म और सामान जब्त, क्या थे इरादे
Ad

Highlights

पकड़े गए संदिग्धों से आर्मी के 91 यूनिफॉर्म, हेलमेट, जूते, बेल्ट, ग्लव्स और अन्य सामान मिला है। इन्होंने ने इस सामान को एक कार में छिपाकर रखा हुआ था। जिसे जब्त कर लिया गया है। पकड़े गए संदिग्धों से पूछताछ जारी है।

जैसलमेर | राजस्थान के पोकरण में बड़ा ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है। 

रविवार को यहां सेना की खुफिया एजेंसी ने बड़ी कामयाबी हासिल करते हुए देश की सुरक्षा में सेंध लगाने के नापाक मसूबों को नाकाम कर दिया है।

आर्मी इंटेलिजेंस ने पोकरण के नाचना फांटे के पास घूम रहे चार संदिग्धों को पकड़ा है जिनके पास से सेना की नई पैटर्न यूनिफॉर्म और जवानों के अन्य सामान बरामद किए गए हैं।

जैसलमेर में हुई आर्मी इंटेलिजेंस की इस कार्रवाई के बाद से ही सुरक्षा एजेंसी और सतर्क हो गई हैं। 

कार में छिपा रखा था सारा सामान

आर्मी इंटेलिजेंस से मिली जानकारी के मुताबिक, पकड़े गए संदिग्धों से आर्मी के 91 यूनिफॉर्म, हेलमेट, जूते, बेल्ट, ग्लव्स और अन्य सामान मिला है। 

इन्होंने ने इस सामान को एक कार में छिपाकर रखा हुआ था। जिसे जब्त कर लिया गया है। पकड़े गए संदिग्धों से पूछताछ जारी है। 

राजस्थान के ही रहने वाले हैं चारों संदिग्ध

अभी तक की जानकारी के अनुसार पकड़े गए चारों संदिग्ध राजस्थान के ही रहने वाले हैं। 

ये सभी सूरतगढ़ की कुछ दुकानों से ये यूनिफॉर्म और सामान लेकर जैसलमेर जा रहे थे। बता दें कि नहरी इलाके में बाहरी लोगों का प्रवेश वर्जित है। 

जब प्रतिबंधित है आर्मी यूनिफॉर्म तो इनके पास आई कहां से ?

जब आर्मी यूनिफॉर्म और सामान की बिक्री प्रतिबंधित है तो इनके पास इतनी संख्या में ये सामान आया कहां से?

इसी को लेकर जैसलमेर की टीम सूरतगढ़ और गंगानगर की आर्मी इंटेलिजेंस के साथ मिलकर इस कार्रवाई को करने में लगी हुई है। 

संदिग्धों ने आखिर किस दुकान से ये सामान खरीदा। प्रतिबंधित आर्मी यूनिफॉर्म आखिर कहां तैयार किया जा रहा है।

Must Read: रामदेवरा पहुंच बाब को लगाई धोक, लिया विजयी आशीर्वाद

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :