सच्चाई जान पुलिस भी हैरान: चुनाव में जनता का समर्थन और जीत पाने के लिए प्रत्याशी ने खुद को आग लगाई

चुनाव में जनता का समर्थन और जीत पाने के लिए प्रत्याशी ने खुद को आग लगाई
Ad

Highlights

प्रत्याशी ने चुनाव जीतने के लिए खुद पर ही हमला कर लिया और आग लगा ली। जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। पुलिस ने चुनावी माहौल में प्रत्याशी पर हमले की घटना को गंभीरता से लिया और जांच शुरू कर तहकीकात की तो सच्चाई जानकार हैरान रह गई।

दौसा | राजस्थान में विधासभा चुनाव 2023 (Rajasthan Election 2023) के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन एक बड़ा चौंकाने वाला मामला सामने आया है। 

जिसमें एक प्रत्याशी ने चुनाव जीतने के लिए खुद पर ही हमला कर लिया और आग लगा ली। जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ। 

पुलिस ने चुनावी माहौल में प्रत्याशी पर हमले की घटना को गंभीरता से लिया और जांच शुरू कर तहकीकात की तो सच्चाई जानकार हैरान रह गई। 

दरअसल, पिछले दो दिन-तीन दिन पहले 20-21 नवंबर की रात को प्रदेश के दौसा जिले के महवा में जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के प्रत्याशी आशुतोष झालानी पर हमला होने की खबरें सामने आई थी।

इस हमले में उनकी कार पर हमला करते हुए पट्रोल डाल आग लगाने की बात सामने आई थी। जिसमें खुद आशुतोष झालानी भी झुलस गए थे और अस्पताल में इलाज करवाया था।

मामला पुलिस में पहुंचने पर पुलिस ने प्रत्याशी का पूरा खेल ही बिगाड़ दिया और सच्चाई को उजागर कर दिया। 

आशुतोष का आरोप था कि कुछ बदमाशों ने उनकी कार पर हमला किया। नई बोलेरो गाड़ी को आग के हवाले कर दिया। प्रत्याशी व उनके साथियों के साथ मारपीट की गई जिससे उनके कपड़े फट गये।

पुलिस ने ऐसे खोला राज

मामले की जांच में जुटी पुलिस ने इस घटना को गंभीरता से लिया। 

एसपी वंदिता राणा और एएसपी बजरंग सिंह ने खुद इस मामले की जांच शुरू की। 

पुलिस ने वारदात वाली रात की आशुतोष झालानी के रूट के सीसीटीवी फुटेज खंगाली गई।

इसी के साथ पुलिस ने साइबर टीम की मदद से कॉल डिटेल निकलवाई। जब सारे सबूत पुलिस ने जुटा लिए तो पुलिस खुद  हैरान रह गई।

पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि जेजेपी प्रत्याशी आशुतोष झालानी ने चुनाव में जनता का समर्थन पाने के लिए खुद ही अपने पर हमले की साजिश रची। 

20 नवंबर की रात 10.55 बजे आशुतोष झालानी अपने ड्राइवर गिर्राज सैनी के साथ बोलेरो कार से रवाना हुए थे, जबकि दूसरी कार में उनके साथी प्रकाश जयसवाल, संजय लखेरा थे।

Must Read: राजस्थान में इस बार बूथ पर जाकर नहीं, घर से कर सकेंगे ये मतदाता वोटिंग

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :