सीएम अशोक गहलोत ने भरा पर्चा: बहन का आशीर्वाद लेकर मिशन फतेह के लिए निकल पड़े राजस्थान सीएम

बहन का आशीर्वाद लेकर मिशन फतेह के लिए निकल पड़े राजस्थान सीएम
Ashok Gehlot
Ad

Highlights

नामांकन भरने से पहले सीएम गहलोत लाल सागर स्थित आवास पर अपनी बहन के घर पहुंचे और उनसे तिलक लगवाकर विजयी होने का आर्शीवाद लिया। इसके बाद सीएम अपने मिशन के लिए जोधपुर जिला कार्यालय की और कूच कर गए और पर्चा भरा।

जोधपुर | राजस्थान में 25 नवंबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर सोमवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने भी अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। 

आज नामांकन का आखिरी दिन है। सभी प्रत्याशियों को 3 बजे से पहले नामांकन भरना है। ऐसे में मुख्यमंत्री गहलोत ने भी दोपहर करीब 12.15 बजे जोधपुर की सरदारपुरा सीट से नामांकन भर दिया है। 

नामांकन भरने से पहले सीएम गहलोत लाल सागर स्थित आवास पर अपनी बहन के घर पहुंचे और उनसे तिलक लगवाकर विजयी होने का आर्शीवाद लिया। इसके बाद सीएम अपने मिशन के लिए जोधपुर जिला कार्यालय की और कूच कर गए और पर्चा भरा।

बता दें कि सीएम गहलोत अपनी बहन से राखी बंधवाने के लिए भी हर साल उनके घर सपरिवार पहुंचते हैं। 

नामांकन प्रक्रिया के दौरान सीएम गहलोत के साथ उनकी पत्नी सुनीता गहलोत, बेटे वैभव गहलोत, पुत्रवधु हिमांशी गहलोत सहित पार्टी के कई नेता मौजूद रहे।  नामांकन के बाद CM गहलोत ने पावटा में अपने चुनावी कार्यालय का उद्घाटन किया। 

यहां से लगातार पांच बार यहां से विधायक चुने गए

बता दें कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सरदारपुर से सातवीं बार नामांकन भरा है सबसे पहले उन्होंने 1977 में पहली बार सरदारपुर से चुनाव लड़ा था, लेकिन वे हार गए थे. इसके बाद 1980 में लोकसभा का चुनाव लड़ा। 

1999 में दूसरी बार सीएम बनने के बाद सरदारपुरा से उपचुनाव के लिए नामांकन किया. इसके बाद से लगातार पांच बार यहां से विधायक चुने गए हैं। 

Must Read: दलित लड़की से गैंगरेप और हत्या मामले में मायावती का बयान- राज्य सरकार के लिए अति शर्म की बात

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :