Rajasthan: सर्वे एवं सत्यापन की प्रक्रिया पूर्ण कर हो सकेगा उप स्वास्थ्य केन्द्रों के जर्जर भवनों का नवनिर्माण - चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री

Ad

Highlights

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि क्षतिग्रस्त एवं पुराने भवनों का सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा सर्वे कर चिन्हिकरण एवं सत्यापन किया जाता है। इस चिन्हिकरण के आधार पर जर्जर भवन सत्यापित होने पर नवीन भवनों का निर्माण करवाया जाता है।  

जयपुर, 23 जनवरी। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री गजेन्द्र सिंह ने मंगलवार को विधानसभा में आश्वस्त किया कि सुजानगढ़ विधानसभा क्षेत्र के उप स्वास्थ्य केन्द्रों के क्षतिग्रस्त एवं पुराने भवनों के संबंध में प्रस्ताव प्राप्त होने के उपरान्त सर्वे एवं सत्यापन की प्रक्रिया पूर्ण कर ऐसे चिन्हित जर्जर अवस्था के भवनों के नवीन भवन निर्माण की कार्यवाही की जाएगी। 

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री प्रश्नकाल के दौरान सदस्य द्वारा इस संबंध में पूछे गए पूरक प्रश्नों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने कहा कि क्षतिग्रस्त एवं पुराने भवनों का सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा सर्वे कर चिन्हिकरण एवं सत्यापन किया जाता है। इस चिन्हिकरण के आधार पर जर्जर भवन सत्यापित होने पर नवीन भवनों का निर्माण करवाया जाता है।  

इससे पहले विधायक मनोज कुमार के मूल प्रश्न के लिखित जवाब में चिकित्सा मंत्री ने अवगत कराया कि ब्लॉक बीदासर में 48 एवं ब्लॉक सुजानगढ़  में 66 उप स्वास्थ्य केन्द्र स्वीकृत हैं। इनमें से 17 उप स्वास्थ्य केन्द्र विभागीय  भवन में संचालित नहीं है।

उन्होंने बताया कि इन उप स्वास्थ्य केन्द्रों में से केवल एक उप स्वास्थ्य केन्द्र ढाणी कालेरान का भवन पुराना एवं जर्जर अवस्था में है। भवन विहीन व जर्जर अवस्था वाले भवनों के निर्माण पर चालू अथवा आगामी वित्त वर्ष में भूमि एवं वित्तीय संसाधनों की उपलब्धता के आधार पर  विचार किया जाएगा। 

Must Read: 84 साल के विधायक अमीन खान ने बढ़ाई कांग्रेस की मुसीबत, कहा- अगर दिया किसी और को टिकट तोे हारेगा

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :