मुख्य निर्वाचन आयुक्त: शराब एवं मादक पदार्थों की तस्करी पर प्रभावी कार्रवाई करें

शराब एवं मादक पदार्थों की तस्करी पर प्रभावी कार्रवाई करें
मुख्य निर्वाचन आयुक्त
Ad

Highlights

मुख्य सचिव सुधांश पंत ने कहा कि प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। इस संबंध में पड़ोसी राज्यों के साथ आवश्यक बैठकें की जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों के सीमावर्ती जिलों और अंतर्राष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था के लिए सभी इंतजाम किए गए हैं।

जयपुर |  भारत निर्वाचन आयोग के मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार की अध्यक्षता में चुनाव आयोग ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी राज्यों के मुख्य सचिवों, पुलिस महानिदेशकों, केन्द्रीय सुरक्षा बलों और केन्द्र सरकार के अधिकारियों के साथ बैठक में लोकसभा आम चुनाव-2024 के लिए तैयारियों एवं कानून-व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा की। बैठक में निर्वाचन आयुक्त श्री ज्ञानेश कुमार और डॉ. सुखबीर सिंह संधू एवं सभी राज्यों के आबकारी, राज्य जीएसटी, पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा, आयकर, केन्द्रीय जीएसटी, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो, बीएसएफ और केन्द्रीय पुलिस बलों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि लोकसभा आम चुनाव-2024 को स्वतंत्र, निष्पक्ष और पारदर्शी ढंग से सुनिश्चित कराने के लिए सभी राज्यों को संवेदनशीलता और सतर्कता बरतनी होगी। उन्होंने कहा कि कई स्थानों से शराब एवं मादक पदार्थों की तस्करी की सूचनाएं मिल रही हैं। सभी राज्यों को आपसी समन्वय के साथ इस पर प्रभावी कार्रवाई करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सभी राजनैतिक दलों, प्रत्याशियों को बिना किसी भेदभाव के निर्वाचन प्रक्रिया में समान अवसर उपलब्ध कराएं। अधिकारियों की यह भी जिम्मेदारी है कि लोगों को दुनिया भर की सबसे बडी लोकतांत्रिक प्रक्रिया में भागीदार बनने का समान मौका दे।

कुमार ने पड़ोसी राज्यों में चुनाव के समय सुरक्षा व्यवस्था सहित अन्य आवश्यकताओं के लिए आपसी समन्वय पर जोर देते हुए कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में किसी भी समय सामने आ सकने वाले किसी भी प्रकार के अंतरराज्यीय मुद्दों के समाधान में सभी राज्यों की भूमिका महत्वपूर्ण है और निर्वाचन आयोग इसमें अपनी भूमिका के लिए हर समय उपलब्ध है। निर्वाचन आयुक्त कुमार और डॉ. संधू ने विश्वास व्यक्त किया कि राज्यों के वरिष्ठ अधिकारी अपने अनुभव एवं प्रतिबद्धता के आधार पर काम करते हुए इस चुनाव को सही मायनों में स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने में योगदान देंगे। अवैध नकदी, अवैध शराब आदि के प्रवाह को रोकने के लिए अंतरराज्यीय सीमाओं पर दो तरफा निगरानी बढ़ाए जाने के निर्देश दिए।

मुख्य सचिव सुधांश पंत ने कहा कि प्रदेश में लोकसभा चुनाव के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। इस संबंध में पड़ोसी राज्यों के साथ आवश्यक बैठकें की जा चुकी हैं। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों के सीमावर्ती जिलों और अंतर्राष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में सुरक्षा व्यवस्था के लिए सभी इंतजाम किए गए हैं। राज्य में मार्च महीने में 430 करोड़ रुपए से अधिक की प्रतिबंधित वस्तुएं जब्त की जा चुकी है। पुलिस महानिदेशक यू आर साहू ने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने के लिए प्रदेशभर में पुलिस द्वारा प्रभावी तैयारी की गयी है।

Must Read: राहुल गांधी-मल्लिकार्जुन खरगे ने रखी नींव, ये सब होगा खास

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :