7 शहरों में चलेंगी 500 इलेक्ट्रिक बसे : उपमुख्यमंत्री ने दी स्वीकृति- आमजन को इकोफ्रेंडली आवागमन सुविधा मिलेगी,पेट्रोल—डीजल की बचत होगी

उपमुख्यमंत्री ने दी स्वीकृति- आमजन को इकोफ्रेंडली आवागमन सुविधा मिलेगी,पेट्रोल—डीजल की बचत होगी
Deputy Chief Minister Diya Kumari
Ad

Highlights

बजट घोषणा की क्रियान्विती में जयपुर में 300,जोधपुर में 70,कोटा में 50, उदयपुर में 35,अजमेर में 30 तथा बीकानेर एवं भरतपुर में 15 ई-बसों का संचालन किया जाएगा

जयपुर । प्रदेश में सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को मजबूत करने के लिए सरकार प्रदेश के 7 शहरों में 500 इलेक्ट्रिक बसे संचालित करेगी। उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने इलेक्ट्रिक बसे उपलब्ध करवाने की स्वीकृति जारी कर दी है।

उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने बताया कि बजट घोषणा की क्रियान्विती में प्रदेश के जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, बीकानेर,भरतपुर एवं उदयपुर शहरों में नगरीय बस सेवा के लिए 500 इलेक्ट्रिक बसें उपलब्ध करवाई जाएगी।

इससे आमजन को प्रदूषण रहित आवागमन की सुविधा उपलब्ध होगी साथ ही पब्लिक ट्रांसर्पोट को बढावा मिलने से आमजन को त्वरित एवं बेहतर परिवहन सुविधा का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक व्हिकल्स को बढावा देने से पेट्रोल—डीजल की बचत होगी, पर्यावरण प्रदूषण कम होगा और लोगों को बेहतर जीवन शैली का लाभ मिलेगा।

उन्होंने बताया कि इन बसों का संचालन एवं संधारण स्वायत्त शासन विभाग द्वारा कंवर्जेन्स एनर्जी सर्विसेज लिमिटेड (CESL) के माध्यम से किया जाएगा। इससे राज्य सरकार पर लगभग 105 करोड़ रूपए से ज्यादा का वित्तीय भार आएगा।

इन शहरों में चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें-
बजट घोषणा की क्रियान्विती में जयपुर में 300,जोधपुर में 70,कोटा में 50, उदयपुर में 35,अजमेर में 30 तथा बीकानेर एवं भरतपुर में 15 ई-बसों का संचालन किया जाएगा।

बजट 2024-25 में की थी घोषणा-
गौरतलब है कि उपमुख्यमंत्री एवं वित्त मंत्री दिया कुमारी ने वर्ष 2024-25 के लेखानुदान (बजट) में प्रदेश वासियों को प्रदूषण रहित आवागमन की सुविधा उपलब्ध कराने तथा पेट्रोल—डीजल की बचत के लिए सार्वजनिक परिवहन में ई-वाहनों को बढावा देने हेतु इंटर स्टेट के साथ-साथ राज्य के जयपुर,जोधपुर,उदयपुर,कोटा आदि बडे शहरों में 500 इलेक्ट्रिक बसे उपलब्ध करवाने कि घोषणा की थी।

Must Read: खुफिया एजेंसी ने पकड़े चार संदिग्ध, बड़ी संख्या में आर्मी यूनिफार्म और सामान जब्त, क्या थे इरादे

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :