जालोर सिरोही लोकसभा : मारवाड़ में कांग्रेस को एक और झटका, श्रवण सिंह राठौड़ ने थामा बीजेपी का दामन

मारवाड़ में कांग्रेस को एक और झटका, श्रवण सिंह राठौड़ ने थामा बीजेपी का दामन
जालोर सिरोही लोकसभा
Ad

Highlights

श्रवण राठौड़ को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद करीबी माना जाता रहा है।

श्रवण राठौड़ ने भाजपा जॉइन करने के बाद कहा कि वो राम मंदिर बनाने, धारा 370 हटाने जैसे मोदी जी के साहसिक फैसलों से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हुए है।

जयपुर |  देश के सबसे बड़े हिंदी अखबार के नेशनल ब्यूरो में राजनीतिक पत्रकार और राजस्थान ब्यूरो हैड रहे राजस्थान के वरिष्ठ पत्रकार और सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता श्रवण सिंह राठौड़ ने शनिवार को जोधपुर में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा, केबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और मुख्य सचेतक जोगेश्वर गर्ग की मौजूदगी में बीजेपी ज्वाइन कर ली है। 

श्रवण राठौड़ को पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेहद करीबी माना जाता रहा है। यह जॉइनिंग जोधपुर के प्रत्याशी गजेंद्र सिंह शेखावत के नामांकन सभा के दौरान की गई। इस दौरान जालोर के सरगरा समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष सोमभाई सरगरा समेत बड़ी संख्या में कांग्रेस नेताओं ने भाजपा जॉइन की। 

प्रवासी राजस्थानी फ्रेंड्स फाउंडेशन के अध्यक्ष और  राजनीतिक रणनीतिकार श्रवण सिंह राठौड़ साफ सुथरी छवि मारवाड़ के लोकप्रिय चेहरे माने जाते हैं। देश के 14 से अधिक राज्यों में रहने वाले प्रवासियों के बीच श्रवण राठौड़ बहुत लोकप्रिय है। कोरोना काल में श्रवण राठौड़ प्रवासियों के बड़े मददगार रहे हैं।

जालोर जिले में भीनमाल विधानसभा के दासपां गांव के रहने वाले श्रवण राठौड़ के भाजपा जॉइन करने से जालोर-सिरोही लोकसभा सीट पर सीधा—सीधा नुकसान कांग्रेस को होगा। माना जा रहा है कि श्रवण राठौड़ को जोड़कर भाजपा ने कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी वैभव गहलोत को बड़ा झटका दिया है।

राजस्थान के वरिष्ठ पत्रकार, प्रवासी फ्रेंड्स फाउंडेशन के अध्यक्ष और लोकप्रिय सामाजिक कार्यकर्ता श्रवण सिंह राठौड़ ने शनिवार को जोधपुर में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा और कैबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की मौजूदगी में भाजपा का दामन थाम लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय में दीवाली स्नेह मिलन समारोह में श्रवण राठौड़ की सेल्फी राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय अखबारों की सुर्खियां बनी थी। श्रवण राठौड़ ने कहा कि वो राम मंदिर बनाने, धारा 370 हटाने जैसे मोदी जी के साहसिक फैसलों से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हुए है।


मानवेन्द्रसिंह को कांग्रेस में लाने में बड़ी भूमिका रही थी

मानवेन्द्रसिंह जसोल को कांग्रेस ज्वाइन करवाने में श्रवण राठौड़ की भी भूमिका रही थी। राठौड़ उस रैली के कॉर्डिनेटर में एक थे, जिसमें "मोदी तुझसे बैर नहीं वसुन्धरा तेरी खैर नहीं" का नारा बुलंद हुआ था और स्वाभिमान का नारा देते हुए सैकड़ों लोगों ने कांग्रेस ज्वाइन की थी।

सामाजिक कार्यों में लगातार सक्रिय

जालोर—सिरोही जिलों में किसानों के मुद्दों को लेकर श्रवण सिंह राठौड़ हमेशा सक्रिय रहे हैं। भले सिणधरा बांध से बांडी नदी में पानी छुड़वाने का मसला हो या फिर भीनमाल में टोल फ्री करवाने  ​का मसला हो  यही नहीं श्रवण राठौड़ ने कोरोना काल में देश के 14 से अधिक राज्यों से  प्रवासियों को राजस्थान लाने और मदद करने में बड़ी भूमिका निभाई।
 
सिणधरा बांध से बांडी नदी में पानी छुड़वाने के मुद्दे का समाधान करवाकर हजारों किसानों के लिए दशकों से पेंडिंग मुद्दे को अंजाम दिया।  जवाई पुनर्भरण हो या अन्य कोई मुद्दा उनकी किसानों और आम लोगों से जुड़ी गहरी पकड़ है। इसका सीधा फायदा अब बीजेपी को होगा।

राजस्थान के वरिष्ठ पत्रकार, प्रवासी फ्रेंड्स फाउंडेशन के अध्यक्ष और मारवाड के लोकप्रिय सामाजिक कार्यकर्ता श्रवण सिंह राठौड़ ने शनिवार को जोधपुर में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा और कैबिनेट मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत एवं मुख्य सचेतक जोगेश्वर गर्ग  की मौजूदगी में भाजपा का दामन थाम लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ दिल्ली में भाजपा के राष्ट्रीय कार्यालय में दीवाली स्नेह मिलन समारोह में श्रवण राठौड़ की सेल्फी राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय अखबारों की सुर्खियां बनी थी।  श्रवण राठौड़ जालोर जिले के भीनमाल विधानसभा के दासपां गांव के रहने वाले है।

श्रवण राठौड़ ने भाजपा जॉइन करने के बाद कहा कि वो राम मंदिर बनाने, धारा 370 हटाने जैसे मोदी जी के साहसिक फैसलों से प्रभावित होकर भाजपा में शामिल हुए है।

Must Read: होम वोटिंग के लिए बुजुर्गों और दिव्यांगों में भारी उत्साह, अब तक 58 हजार से अधिक पात्र मतदाताओं ने घर से मतदान का विकल्प चुना

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें thinQ360 App.

  • Follow us on :